60 लाख फास्टैग के साथ पेटीएम पेमेंट्स बैंक बाजार में अग्रणी य समय सीमा विस्तार के साथ बिक्री में तेजी

Image default
उत्तराखंड

देहरादून: भारत के घरेलू पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड  (पी पी बी एल) ने आज घोषणा की है कि यह 60 लाख से अधिक फास्टैग के साथ देश में फास्टैग का अग्रणी बना हुआ है।  सरकार द्वारा फास्टैग की समयसीमा बढाए जाने की वजह से अधिक से अधिक नागरिक  पेटीएम पेमेंट्स बैंक की फास्टैग सुविधा को अपना रहे हैं प् पेटीएम फस्टैग को अपनी सहज ऑनबोर्डिंग और इंटीग्रेशन प्रक्रिया के कारण देश में उपयोगकर्ताओं के बीच लोकप्रियता हासिल हुई है जिसके लिए न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन, तत्काल एक्टिवेशन और बेजोड़ कस्टमर केयर सपोर्ट की आवश्यकता होती है। पी पी बी एल ने अब देश के 250 प्लाजा में कैशलेस टोल भुगतान को सक्षम कर दिया है।

पेटीएम फास्टैग देश का सबसे पसंदीदा टोल भुगतान तरीका बन गया है क्योंकि यह उपयोगकर्ताओं को सीधे पेटीएम वॉलेट से भुगतान करने की सुविधा  देता है। उपयोगकर्ताओं को अपने फास्टैग को रिचार्ज करने के लिए कोई अलग खाता बनाने या कोई वॉलेट डाउनलोड करने की आवश्यकता नहीं है। अन्य बैंकों द्वारा जारी किए गए टैग में खरीदारों को आईडी प्रूफ, फोटोग्राफ, पर्सनल डिटेल्स शेयर करने और अलग-अलग खाते बनाए रखने जैसे कई कार्यों की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, अन्य बैंकों के टैग के विपरीत जिन्हें सक्रिय होने में कुछ घंटों की आवश्यकता हो सकती है, पेटीएम फास्टैग उपयोगकर्ताओं को इसे प्राप्त करने के क्षण से तुरंत सक्रिय हो जाते हैं सभी फास्टैग  लेनदेन पर पेटीएम ऐप से नजर रखी जा सकती है। उपयोगकर्ता ऐप पर ही शिकायतें उठा सकते हैं जिसे एड्रेस करती कस्टमर सपोर्ट टीम 24ग7 काम करती है प्

सतीश गुप्ता, एमडी और सीईओ – पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड ने कहा “हमारी कोशिश है की जिस तरह हमारा ऐप उपभोगताओं के दैनिक जीवन को सहज एवं सुगम बनाता है, उसी प्रकार सड़क यातायात को भी हम सुविधाजनक बनाएं। तकनिकी नवीनीकरण और ग्राहकों के गहरे विश्वास ने हमें देश में फास्टैग के अग्रणी जारीकर्ता बनने में मदद की है। उपयोगकर्ताओं ने अपने पेटीएम वॉलेट से सीधे टोल के लिए भुगतान करने की सुविधा को अपनाया है और उन्हें अब फास्टैग के लिए अलग खाते बनाने की जरूरत नहीं है। हम लगातार यह सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि ग्राहकों से हमेशा सही टोल वसूला जाए और यातायात केदौरान उन्हे परेशानी  ना हो प् हम पूरे देश में अपनी सेवाओं का विस्तार कर रहे और राजमार्गों पर पूरी तरह से डिजिटल यात्रा के निर्माण के प्रति प्रयासरत हैं।

पेटीएम पेमेंट्स बैंक, नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह (एन ई टी सी) कार्यक्रम के तहत शीर्ष जारीकर्ता और सबसे बड़ा अधिग्रहण करने वाला बैंक है। इसने उपभोगकर्ता द्वारा टोल प्लाजा द्वारा लिए गए अधिक टोल शुल्क के दावों को सावधानीपूर्वक जांचा है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने वाहनों की गलत पहचान और डबल टैक्सेशन के कारण उच्च शुल्क के खिलाफ उपयोगकर्ताओं की ओर से लड़ाई लड़ी है। ज्यादातर गलत टोल शुल्क को भी सफलतापूर्वक ग्राहकों को वापस करवाया है।  अपने ग्राहकों के फायदे के लिए एन ई टी सी में ६० प्रतिशत विवाद और ९५ प्रतिशत विवाचन मामलों को उठाने का गौरव भी पेटीएम पेमेंट्स बैंक को हासिल है।

Related posts

विश्व बैंक का एक दल मई द्वितीय सप्ताह में देहरादून आएगा

सीएम ने किया रूद्रपुर में दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसाना कल्याण योजना का शुभारम्भ

आबकारी टीम का छापा, 2000 लीटर शराब समेत तीन गिरफ्तार