उत्तर प्रदेश औद्योगिक निवेश के लिए अत्यंत आकर्षक डिस्टीनेशन: सिद्धार्थ नाथ सिंह

Image default
उत्तर प्रदेश प्रौद्योगिकी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश को गारमेंटिंग हब बनाये जाने की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी कीे घोषणा के क्रम में वस्त्रोद्योग विभाग द्वारा क्रियान्वयन की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। इसी कड़ी में नोएडा अपैरल एक्सपोर्ट क्लस्टर के तत्वाधान में यमुना एक्सपे्रस-वे औद्योगिक विकास क्षेत्र में 55 वस्त्र इकाइयों को 77.15 एकड़ भूमि आवंटित की गई है, जिसमें लगभग 900 करोड़ रुपये का निवेश होगा और करीब एक लाख युवाओं हेतु रोजगार का सृजन होगा।
यह जानकारी प्रदेश के हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग मंत्री श्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने आज यहां दी। उन्होंने बताया कि पूरे उत्तर प्रदेश में वस्त्रोद्योग की इकाइयों की स्थापना हेतु इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क लगाये जाने हेतु एक्सप्रेशन आॅफ इंटरेस्ट (ईओआई) आमंत्रित किये गये थे, जिसमें 06 विकासकर्ताओं ने आगरा, मेरठ, गौतमबुद्ध नगर, चन्दौली, झांसी, कानपुर तथा गोरखपुर में इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क स्थापित करने की इच्छा व्यक्त की है, उनमें  पीएनसी इन्फ्राटेक लि0, रिअल एस्टेट डेवलपमेंट तथा ब्रिज टेक्सटाइल ने आगरा में, जे0सी0एल0 इंफ्रा लि0 की अगुवाई में ज्वाइंट वेंचर समूह ने मेरठ, चन्दौली, झांसी, कानपुर तथा गोरखपुर में, रैमकी इंफ्रास्ट्रक्चर लि0 ने उत्तर प्रदेश के अन्य सम्भावित स्थानो पर एवं ईगल इंफ्रा इण्डिया लि0 ने गौतमबुद्ध नगर में टेक्सटाइल पार्क लगाने की इच्छा व्यक्त की है।
श्री सिंह ने बताया कि इन सभी कंपनियों को डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डी0पी0आर0) प्रस्तुत करने हेतु अधिकारियों को शीघ्र आर0एफ0पी0 निर्गत करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि इन विकासकर्ताओं के अलावा  यदि कोई अन्य विकासकर्ता आर0पी0एफ0 प्रस्तुत करना चाहता है, तो वह ई-टेण्डर पोर्टल पर उपलब्ध आरपीएफ डाक्यूमेंट डाउनलोड कर प्रस्तुत कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि जे0सी0एल0 इंफ्रा लि0 जे0वी0 के पार्टनर फ्राइडे माइक्रवेंचर्स प्रा0लि0 द्वारा स्थापित किये जाने वाले इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क में लगने वाली वस्त्र इकाइयों में लगभग    20 लाख रोजगार का सृजन की सम्भावना है।
वस्त्रोद्योग मंत्री ने बताया कि मैन्यूफैक्चर्स एण्ड ट्रेड आॅर्गनाईजेशन की अगुवाई में आगरा के उद्यमियों ने कुछ दिन पहले विभाग के राज्यमंत्री चैधरी उदयभान से मुलकात कर अवगत कराया था कि लगभग 300 उद्यमी आगरा में वस्त्रोद्योग इकाई लगाने हेतु भूमि लेने के इच्छुक हैं। उन्होंने बताया कि आगरा में इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क स्थापित कराये जाने हेतु भूमि की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।
श्री सिंह ने बताया कि प्रदेश में स्किल्ड, सेमीस्किल्ड एवं अनस्किल्ड श्रमिकों का सबसे बड़ा समूह, कंज्यूमर बेस तथा औद्योगिक विकास की सुगमता के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश औद्योगिक निवेश के लिए अत्यंत आकर्षक डिस्टीनेशन बन गया है।

Related posts

मुख्यमंत्री से टेनिस खिलाड़ी सुश्री सानिया मिर्जा ने भेेंट की

डाॅ नंदन सिंह बिष्ट द्वारा लिखित पुस्तक ‘‘त्रिवेंद्र एक जिंदगीनामा-खैरासैंण का सूरज‘‘ का विमोचन करते हुएः सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत

राजधानी लखनऊ में विश्व के इतिहास में पहली बार श्मशान घाट पर हुआ नाटक का मंचन