सम-विषम परिस्थितियों में व्यापारी वर्ग ने हमेशा समाज व देश का साथ दिया: मुख्यमंत्री

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि सम-विषम परिस्थितियों में व्यापारी वर्ग ने हमेशा समाज व देश का साथ दिया है। उन्होंने आह्वान किया कि आज जब प्रदेश व देश कोविड संक्रमण की दूसरी लहर से प्रभावित है, तो ऐसे संकट के समय व्यापारी वर्ग अपनी ऊर्जा और सहयोग के माध्यम से प्रदेश व देश में कोविड के विरुद्ध चल रही लड़ाई में अपना सक्रिय योगदान दें। हम एक बार फिर इस लड़ाई में सफल होंगे और कोरोना को परास्त करेंगे।
मुख्यमंत्री जी आज यहां वर्चुअल माध्यम से व्यापारियों व व्यापारिक संगठनों के साथ संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस समय दुनिया, देश व प्रदेश वैश्विक महामारी कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में है। इस संक्रमण के खतरे को कम करके आंकने की लापरवाही या भूल न हो। इस बार कोविड संक्रमण 30 से 50 गुना अधिक है। ऐसे में आॅक्सीजन की आवश्यकता और मांग बढ़ी है। आॅक्सीजन की समस्या के समाधान में राज्य सरकार ने प्रभावी प्रयास किए हैं, जिनमें वह काफी हद तक सफल रही है।
मुख्यमंत्री जी ने व्यापारियों और उद्यमियों से आॅक्सीजन उत्पादन व आॅक्सीजन काॅन्सन्ट्रेटर के क्षेत्र में नये प्रयोगों व नवाचारों पर कार्य करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि ऐसे कार्याें में सरकार हर सम्भव सहयोग प्रदान करेगी। आॅक्सीजन के उत्पादन को बढ़ावा देकर हम मानवता को बचा सकेंगे। यह एक अवसर है, नये प्रयासों और नये प्रयोगों का। उन्होंने कहा कि पहली लहर के दौरान आत्मनिर्भर पैकेज के तहत एम0एस0एम0ई0 इकाइयों ने अच्छा कार्य किया। उसी प्रकार से इस बार हम एक बार फिर कोविड प्रबन्धन और बचाव के लिए अपने उत्पादों और सेवाओं के माध्यम से कार्य करें।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान सरकार की अपराध व अपराधियों के प्रति जीरो टाॅलरेंस की नीति है। प्रदेश में सुरक्षा का वातावरण बना है। व्यापारियों के लिए सुरक्षा बीमा योजना के तहत 10 लाख रुपए के बीमा कवर का प्राविधान है, जिससे व्यापारी लाभान्वित हो रहे हैं। प्रदेश में ‘ईज़ आॅफ डुइंग बिजनेस’ और ‘ईज़ आॅफ लिविंग’ की दिशा में उत्कृष्ट कार्य किए गए हैं, जिनका लाभ व्यापारियों व नागरिकों को मिला है। रिफाॅर्म, परफाॅर्म और ट्रांसफाॅर्म के सिद्धान्त पर चलते हुए राज्य सरकार ने बेहतर परिणाम दिए हैं। अब तक 16 लाख व्यापारियों का जी0एस0टी0 पंजीकरण हो चुका है। उन्होंने व्यापारियों से अपील की कि वे अधिक से अधिक संख्या में जी0एस0टी0 पंजीकरण कराएं। उन्होंने कहा कि व्यापारी कोविड प्रबन्धन, नियंत्रण व बचाव के लिए अपना हर सम्भव सहयोग प्रदान करें।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों जीवन और जीविका दोनों पर असर पड़ रहा है। कोरोना की चेन तोड़ने के उद्देश्य से साप्ताहिक बन्दी, रात्रिकालीन कोरोना कफ्र्यू जैसी व्यवस्था प्रभावी की गई है। इस अवधि में आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं को जारी रखा जा रहा है। आप लोग सहयोग बनाये रखें, अगर किसी के साथ उत्पीड़न अथवा अन्य कोई अप्रिय घटना होती है तो तत्काल स्थानीय प्रशासन को अवगत कराएं। फिर भी आप अगर संतुष्ट नहीं हैं, तो मुख्यमंत्री कार्यालय को सूचित करें। त्वरित कार्यवाही की जाएगी।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हर दिन के साथ प्रदेश की स्थिति में सुधार होता दिख रहा है। बीते 24 अप्रैल को सर्वाधिक 38 हजार केस आए थे, जिनमें गिरावट हो रही है और आज 30,900 केस आए हैं। यह तब है जबकि बीते 01 मई को हमने 02 लाख 97 हजार कोविड सैम्पल टेस्ट किए। प्रदेश की रिकवरी दर भी बेहतर हो रही है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जब कोरोना का पहला केस प्रदेश में आया था, तब टेस्ट की सुविधा नहीं थी। आज उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक कोविड टेस्ट हो रहे हैं। अब तक 04 करोड़ 17 लाख से अधिक टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं। एल-1 सुविधा के 01 लाख 16 हजार से अधिक तथा एल-2 व एल-3 के 65 हजार से अधिक बेड्स उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि आॅक्सीजन युक्त बेड्स संख्या में निरन्तर वृद्धि की जा रही है। हर जनपद में प्रशिक्षित मानव संसाधन उपलब्ध कराए गए हैं, किन्तु महामारी के सामने संसाधनों की सीमा है। एक्स सर्विस मैन, सेवानिवृत्त चिकित्सक, आर्मी के रिटायर्ड लोग, अनुभवी पैरामेडिकल स्टाफ, मेडिकल/पैरामेडिकल के अन्तिम वर्ष के छात्र/छात्राओं को मानवता की सेवा के इस कार्य मे सहयोग लिया जा रहा है। टीम वर्क और परस्पर सहयोग के माध्यम से एक साथ मिलकर कोविड पर विजय प्राप्त करनी होगी।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन के तहत प्रदेश में टीकाकरण का कार्य संचालित है। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए सर्वाधिक संक्रमण प्रभावित 07 जनपदों में पहले चरण के तहत टीकाकरण का कार्य प्रारम्भ हो चुका है। अब तक प्रदेश में 01 करोड़ 27 लाख से अधिक कोविड वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना कफ्र्यू के दौरान आवश्यक सेवाओं की उपलब्धता व आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित न हो, ऐसे निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि गांवों में काॅन्टैक्ट टेªसिंग व टेस्टिंग कार्य और बढ़ाया जाए। क्वारण्टीन सेण्टर की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। जहां पर प्रवासी कामगारों व श्रमिकों को आइसोलेट किया जाए। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध करायी जा रही है। इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर प्रत्येक जनपद में स्थापित किए गए हैं, जिनके माध्यम से संवाद स्थापित किया जा रहा है। इस दिशा में सी0एम0 हेल्पलाइन-1076 भी कार्यरत है।
इस अवसर पर वित्त एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना ने मुख्यमंत्री जी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कोविड के बावजूद जी0एस0टी0 रिटर्न में वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019-20 में 72,931 करोड़ रुपए तथा वर्ष 2020-21 में 80,290 करोड़ रुपए का जी0एस0टी0 संग्रह हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन में बेहतर प्रशासन व कुशल प्रबन्धन से व्यापारियों को सुविधाएं प्रदान की गई हैं। कम्पाउण्डिंग स्कीम, ओ0टी0एस0, ब्याज माफी योजना, अर्थदण्ड माफी योजना आदि से व्यापारी वर्ग लाभान्वित हुए हैं। प्रदेश व देश के विकास में हमेशा व्यापारियों का सहयोग मिला है।
उत्तर प्रदेश व्यापारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष श्री रविकान्त गर्ग ने कहा कि कोविड प्रबन्धन, नियंत्रण व बचाव के लिए मुख्यमंत्री जी के कुशल मार्गदर्शन में राज्य सरकार द्वारा कई व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गईं। व्यापारी वर्ग ने हमेशा समाज सेवा का कार्य किया है और वह राज्य सरकार के साथ कोविड महामारी से लड़ाई में हर सहयोग प्रदान कर रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने श्री गगन दास रमानी (आगरा), श्री सजल जैन (झांसी), श्री मनीष बंसल (अलीगढ़), श्री रवि प्रकाश चैधरी (बस्ती), श्री ओ0पी0 सिंह (लखनऊ) आदि व्यापारियों से संवाद किया। इन व्यापारियों ने व्यापारी वर्ग तथा कोविड प्रबन्धन के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की और कहा कि व्यापारी वर्ग कोविड के विरुद्ध संघर्ष में प्रदेश सरकार के साथ है।
इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं सूचना श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

ग्लोबल हैंडवाशिंग दिवस के अवसर पर प्राविधिक शिक्षा विभाग द्वारा छात्र/छात्राओं के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा

समाजवादी युवजन सभा की प्रांतीय कार्यकारिणी की विशेष बैठक को संबोधित करते हुए: प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव

कृषकों को 2043 करोड़ रु0 का भुगतान 72 घण्टे के अन्दर आॅनलाइन किया गया