मेलों और धार्मिक स्थलों को जाने वाली सड़कों की भी की जाय बेहतर मरम्मत: केशव प्रसाद मौर्य

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उ0प्र0 के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि सड़कों के चल रहे गड्ढ़ामुक्त अभियान में ग्रामीण सम्पर्क मार्गों को विशेष प्राथमिकता दी जाय। मरम्मत व पैच वर्क के कार्य गुणवत्तापूर्ण होने चाहिये, अधिकारी इन कार्यों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करें, जनता व जनप्रतिनिधि इन कार्यों पर नजर रखें। मिसिंग लिंक मार्गों को भी चयनित कर पूरा कराया जाय। श्री मौर्य आज अपने सरकारी आवास-7 कालिदास मार्ग पर आयोजित उच्चस्तरीय बैठक में लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।
श्री मौर्य ने निर्देश दिये कि पुल, पुलियों, आर0ओ0बी0, फ्लाईओवर आदि जहां भी क्षतिग्रस्त हो गये हैं, उनकी भी मरम्मत सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर करा ली जाय। बरसात के दौरान जहां सड़के क्षतिग्रस्त हुयी हैं, उनकी भी सूची तैयार कर आवश्यक कार्यवाही की जाय। उन्होने निर्देश दिये कि धार्मिक स्थलों व मेलों को जोड़ने वाले सम्पर्क मार्गों की मरम्मत भी शीर्ष प्राथमिकता पर करायी जाय। उन्होने कहा कि सभी कार्यों की माइक्रोलेवल पर माॅनीटरिंग की जाय, निरीक्षण किया जाय। कार्य धरातल पर नजर आने चाहिये। उन्होने जोर देते हुये कहा कि लोक निर्माण विभाग की सभी योजनाओं को मूर्त रूप देने व अमलीजामा पहनाने में कोई कोर कसर बाकी न रखी जाय।
उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सांसद आदर्श गांवों में विश्वकर्मा जयन्ती से पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयन्ती तक (17 से 25 सितम्बर 2020 तक) विशेष अभियान चलाकर मरम्मत व चैड़ीकरण के कार्य अनिवार्य रूप से कराये जांय। गौरतलब है कि 17 सितम्बर को मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का जन्मदिवस भी है। उन्होने कहा कि सांसद आदर्श गांव में अगर कहीं रोड कनेक्टीविटी बाकी है, तो उसका प्रस्ताव लेते हुये कार्य कराया जाय।
श्री केशव प्रसाद मौर्या ने निर्देश दिये कि डाॅ0 ए0पी0जे0 कलाम गौरव पथ, मेजर ध्यानचन्द विजय पथ व जय हिन्द वीर पथ की योजनाओं का पूरा विवरण तैयार करते हुये सम्बन्धित सांसदों व विधायकांे को उपलब्ध कराया जाय। श्री मौर्य ने कहा कि प्रदेश के सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों में जनहित को देखते हुये सभी क्षेत्रों में संतुलित रूप से सड़क, लघु सेतु, सम्पर्क मार्ग आदि के 5-5 काम चिन्हित किये जायं। इसके लिये एक फार्मेट बनाकर सम्बन्धित अधिशासी अभियन्ताओं से रिपोर्ट ली जाय। यह कार्य 17 सितम्बर से 02 अक्टूबर तक अनिवार्य रूप से पूरा किया जाय। केन्द्रीय मार्ग निधि की दृष्टि से जो प्रस्ताव मंगाये जाने हैं, मंगा लिये जायं। सामान्य मरम्मत, विशेष मरम्मत व नवीनीकरण के कार्यों में भी तेजी लायी जाय।
आपदा प्रभावित क्षेत्रों में क्षतिग्रस्त सड़कों की सूची तैयार करते हुये आपदा राहत विभाग के साथ क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत के सम्बन्ध में चर्चा करते हुये जरूरी कदम उठाये जांय। श्री मौर्य ने निर्देश दिये विशेष और तात्कालिक मरम्मत की दृष्टिकोण से रोड एम्बुलेन्स के कांसेप्ट को प्रभावी बनाने का प्रयास किया जाय और इसका प्रयोग सबसे पहले पायलट प्रोजेक्ट के रूप में नगरीय क्षेत्रों में किया जाय। उन्होने निर्देश दिये प्रख्यात साहित्यकारों, मूर्धन्य कलाकारों व राष्ट्रपति पुरस्कार से अलंकृत शिक्षकों के घरों तक सड़कें बनाये जाने हेतु दो सदस्यीय कमेटी बनाकर इसका अध्ययन कराया जाय। उन्होने कहा कि विभाग और शासन के उच्चाधिकारी भी प्रोग्राम बनाकर फील्ड के कार्यों का अनवरत रूप से निरीक्षण करते रहें। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि शीघ्र ही वह भी विभागीय योजनाओं का निरीक्षण करने फील्ड में निकलेंगे।
बैठक में प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग श्री नितिन रमेश गोकर्ण, सचिव लोक निर्माण विभाग श्री समीर वर्मा, विभागाध्यक्ष श्री राजपाल सिंह, प्रमुख अभियन्ता श्री ए0के0 जैन, मुख्य अभियन्ता श्री अशोक अग्रवाल, श्री सलिल यादव, श्री पी0के0 सक्सेना, ओ0एस0डी0 श्री प्रदीप कुमार प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Related posts

अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड वितरित करते हुएः सीएम

मुख्यमंत्री की उपस्थिति में नीदरलैण्ड्स के राजदूत एवं मुख्य सचिव ने एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर किए

सीएम ने वृद्धावस्था/किसान पेंशन योजना के अन्तर्गत 60 से 79 वर्ष आयु के वृद्धजन को देय 400 रु0 प्रतिमाह की पेंशन राशि को बढ़ाकर 500 रु0 प्रतिमाह किया