प्रो हॉकी लीग: भारत ने पेनाल्टी शूटआउट में नीदरलैंड्स को 3-1 हराया – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » खेल समाचार » प्रो हॉकी लीग: भारत ने पेनाल्टी शूटआउट में नीदरलैंड्स को 3-1 हराया

प्रो हॉकी लीग: भारत ने पेनाल्टी शूटआउट में नीदरलैंड्स को 3-1 हराया

भुवनेश्वर: वल्र्ड नंबर-5 भारतीय हॉकी टीम ने एफआईएच प्रो-लीग के अपने दूसरे मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने से ऊंची रैंकिंग वाली नीदरलैंड्स को पेनाल्टी शूटआउट में 3-1 से हरा दिया।

भारत ने पहले मैच में भी नीदरलैंड्स को 5-2 से करारी शिकस्त दी थी। भारत ने रविवार को कलिंगा स्टेडियम में खेले गए प्रो-लीग के अपने दूसरे मैच में वल्र्ड नंबर-3 नीदरलैंड्स को पेनाल्टी शूटआउट में हराया। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम के दो मैचों से छह अंक हो गए हैं और वह अंकतालिका में शीर्ष पर है।

भारत को पहले मैच में जीत से तीन अंक मिले थे जबकि दूसरे मैच से भी तीन अंक प्राप्त हुए हैं लेकिन चूंकी निर्धारित समय में यह मैच ड्रॉ रहा था और प्रो लीग में किसी भी मैच को ड्रॉ पर समाप्त करने का प्रावधान नहीं है, इसलिए शूटआउट हुआ। भारत शूटआउट में जीता, इसके बदले उसे दो अंकों के अलावा एक बोनस अंक भी प्राप्त हुआ। वैसे तालिका में भारत के दूसरे मैच को ड्रॉ के रूप में दर्शाया जाएगा।

नीदरलैंड्स ने मैच में 23वें मिनट में ही पेनाल्टी कॉर्नर पर मिंक वान डेर वीर्डेन के गोल की मदद से 1-0 की बढ़त बना ली। लेकिन इसके अगले मिनट में ही ललित उपाध्याय ने मैदानी गोल करके भारत को 1-1 से बराबरी पर ला दिया।

नीदरलैंड्स ने फिर 26वें और 27वें मिनट में लगातार दो मैदानी गोल करके स्कोर 1-3 कर दिया और इसी स्कोर के साथ पहले हाफ की समाप्ति की। मेहमान टीम के लिए 26वें मिनट में जेरोओन हट्जबर्गर ने और कॉलेरमन जॉर्न ने गोल किया।

दूसरे हाफ में 51वें मिनट में मंदीप सिंह ने पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करके भारत के स्कोर को 2-3 कर दिया। इसके बाद 55वें मिनट में रूपिंदर सिंह ने पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करके भारत को 3-3 से बराबरी दिला दी।

इसके बाद मुकाबला शूट आउट में चला गया, जहां भारत ने 3-1 के स्कोर के साथ मैच जीत लिया। पेनाल्टी शूटआउट में भारत के लिए विवेक प्रसाद, आकाशदीप सिंह और गुरजंत सिंह ने गोल किए जबकि रूपिंदर पाल सिंह और हरमनप्रीत सिंह चूक गए।

नीदरलैंड्स के लिए पेनाल्टी शूटआउट में मिर्को प्रुइज्सर ने एकमात्र गोल किया जबकि ग्लेन शुमरमैन, थिएरी ब्रिंकमैन और जेरोन हट्जबर्ग मौका चूक गए।

About admin