डाक विभाग द्वारा सतर्कता जागरूकता सप्ताह का पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने किया शुभारम्भ

Image default
उत्तर प्रदेश

डाक विभाग द्वारा 27 अक्टूबर से 2 नवम्बर 2020 तक आयोजित सतर्कता जागरूकता सप्ताह का कैंट प्रधान डाकघर भवन स्थित क्षेत्रीय कार्यालय में वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने दीप प्रज्वलित कर शुभारम्भ किया। ‘सतर्क भारत, समृद्ध भारत’ के आह्वान के साथ पोस्टमास्टर जनरल ने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को सत्यनिष्ठा की प्रतिज्ञा  दिलाई।

 इस अवसर पर डाक विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने प्रतिज्ञा ली कि, हम नीतिपरक कार्य पद्धतियों को बढ़ावा देंगे तथा ईमानदारी और सत्यनिष्ठा की संस्कृति को प्रोत्साहन देंगे। इसके साथ ही हम कार्यों के संचालन से सम्बद्ध कानूनों, नियमावलियों तथा अनुपालन प्रक्रियाओं का पालन करेंगे एवं ना तो रिश्वत देंगे और ना ही लेंगे। संबंधित पक्षों एवं समाज के अधिकारों तथा हितों के संरक्षण करने की भी सभी ने प्रतिज्ञा ली।

तत्पश्चात पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने सभी डाककर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि, भ्रष्टाचार के उन्मूलन के लिए सभी को एक साथ मिलकर कार्य करने की आवश्यकता है और एक सरकारी संगठन होने के नाते हमें सामने से नेतृत्व करना होगा।

सहायक निदेशक श्री शम्भु राय ने सप्ताह भर चलने वाले कार्यक्रमों के बारे में बताया। 28 अक्टूबर को अनुशासनात्मक प्रक्रिया तथा हानि व गबन मामलों पर वर्कशॉप, 29 अक्टूबर को भ्रष्टाचार से बचाव पर वाद-विवाद प्रतियोगता, 31अक्टूबर को निबंध लेखन एवं क्विज प्रतियोगता तथा 2 नवम्बर को प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरण के साथ समापन सामारोह होगा।

इस अवसर पर सहायक निदेशक शम्भु राय, लेखाधिकारी महेंद्र प्रताप वर्मा, सहायक लेखाधिकारी अशोक कुमार मौर्या, अनुभाग परिवेक्षक अमरेन्द्र कुमार वर्मा, कार्यालय सहायक राजेन्द्र प्रसाद यादव, राकेश कुमार, श्रीप्रकाश गुप्ता, अभिलाषा राजन, दीपाली वर्मा, मनीष कुमार, श्रवण कुमार सिंह, विजय कुमार त्रिपाठी, राहुल कुमार वर्मा, ललित कुमार सिंह, नरेंद्र राम, विजय कुमार, शम्भु प्रसाद गुप्ता सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी शामिल हुए |

Related posts

उर्दू समाज में भाईचारा बढ़ाने वाली तथा सम्मान देने वाली भाषा है: मुख्यमंत्री

02 अभियुक्त गिरफ्तार, अवैध शस्त्र बनाने की फैक्ट्री मय उपकरण एवं अर्द्धनिर्मित पार्टस बरामद

बस्ती में कोरोना के पांच मरीज मिलने से सतर्कता बढ़ी