पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने चौथे ओएनजीसी पैरा गेम्स 2022 का उद्घाटन किया

देश-विदेश

केन्‍द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस तथा आवासन और शहरी कार्य मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी ने आज नई दिल्ली के त्यागराज स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में चौथे ओएनजीसी पैरा खेलों का उद्घाटन किया। आठ केन्‍द्रीय तेल और गैस सार्वजनिक उद्यमों के कर्मचारी- 275 दिव्‍यांग व्यक्ति (पीडब्ल्यूडी) तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड (ओएनजीसी) द्वारा 2-4 अगस्त 2022 के दौरान आयोजित किए जा रहे चौथे ओएनजीसी पैरा गेम्‍स में भाग ले रहे हैं।

चौथे ओएनजीसी पैरा खेलों का उद्घाटन करते हुए, श्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, “ओएनजीसी पैरा गेम्स मंत्रालय के तहत सार्वजनिक उद्यमों के मानव संसाधन में विस्‍तृता और समानता लाने के लिए एक अद्भुत मंच है।”

एमओपीएनजी श्री हरदीप सिंह पुरी दिल्ली में चौथे ओएनजीसी पैरा गेम्‍स के उद्घाटन के बाद ओएनजीसी की सीएमडी डॉ. अलका मित्तल के साथ पैरा एथलीटों से बातचीत करते हुए

अपने उद्घाटन भाषण में, ओएनजीसी की सीएमडी डॉ. अलका मित्तल ने कहा कि ओएनजीसी पैरा गेम्स कॉरपोरेट जीवन के सभी क्षेत्रों में दिव्‍यांग व्यक्तियों को समान अवसर प्रदान करने के लिए एक विशेष मानव संसाधन पहल है। उन्‍होंने कहा कि इसका मकसद सार्वजनिक उद्यमों के मानव संसाधन के समग्र विकास में योगदान करना है जो ऊर्जा की खोज में हमारी सबसे मूल्यवान संपत्ति है।

ओएनजीसी ने विशेष रूप से सक्षम व्यक्तियों को उनकी भूमिका में मुख्यधारा में लाने के लिए 2017 में इस पैरा गेम्‍स की कल्‍पना की और इसकी शुरुआत की। खेलों के दायरे को बढ़ाने के लिए, ओएनजीसी ने गांधीनगर में ओएनजीसी पैरा गेम्‍स के तीसरे भव्‍य संस्करण के लिए आईओसीएल, बीपीसीएल, एचपीसीएल, ईआईएल, ओआईएल और गेल के एथलीटों को इससे जोड़ा। इस वर्तमान चौथे संस्करण में,  ओएनजीसी के 192 कर्मचारियों के अलावा, सात अन्य सार्वजनिक उद्यम भाग ले रहे हैं अर्थात आईओसीएल (21), गेल (15), बीपीसीएल (13), एमआरपीएल (11), ईआईएल (9), ओआईएल (8) और एचपीसीएल (6)।

ओएनजीसी ने भारत की पैरालंपिक समिति की मदद से 2017 में अपने पहले संस्करण से एक अंतरराष्ट्रीय प्रारूप पर पैरा गेम्‍स का आयोजन किया, जिसमें ओएनजीसी के 120 दिव्‍यांग कर्मचारियों ने एथलेटिक्स, बैडमिंटन, टेबल टेनिस और व्हीलचेयर दौड़ जैसे खेलों में भाग लिया था। तभी से कर्मचारियों की इसमें भागीदारी और खेलों की विविधता धीरे-धीरे बढ़ती गई है। ओएनजीसी पैरा खेलों में भाग लेने वाले एथलीटों ने पैरालंपिक में भी भारत का गौरव बढ़ाया है।

Related posts

प्रधानमंत्री ने ऐतिहासिक कोसी रेल महासेतु राष्ट्र को समर्पित किया

आत्म-निर्भर खनन: नए अवसरों की तलाश

भारत में क्लाउड स्किलिंग और शिक्षा प्रौद्योगिकी स्टार्ट अप्स में नवाचार को बढ़ावा देने के लिए अटल इनोवेशन मिशन और एडब्ल्यूएस के बीच साझेदारी