T20- भारत ने न्यूजीलैंड को 5-0 से किया क्लीन स्वीप

Image default
खेल समाचार

तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (12 रन पर तीन विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने न्यूजीलैंड को रविवार को पांचवें और आखिरी टी-20 मुकाबले में सात रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज 5-0 से जीत क्लीन स्वीप कर लिया।

भारत की टी-20 इतिहास में यह पहली पांच मैचों की सीरीज थी और उसने पहली ही पांच मैचों की सीरीज 5-0 से जीत ली। इस जीत के साथ ही भारत ने पिछले वर्ष आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड के हाथों मिली हार का बदला भी ले लिया।

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित शर्मा के ताबड़तोड़ 60 रन की बदौलत 20 ओवर में 163 रन बनाए थे जिसके जवाब में न्यूजीलैंड की पारी 20 ओवर में नौ विकेट पर 156 रन ही बना सकी।

न्यूजीलैंड की ओर से रॉस टेलर ने अपने 100वें अंतरराष्ट्रीय टी-20 मुकाबले में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 47 गेंदों में पांच चौके और दो छक्के की मदद से 53 रन और विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सेफर्ट ने 30 गेंदों में पांच चौके और तीन छक्के के सहारे 50 रन बनाए और अपनी टीम को जीत दिलाने की भरपूर कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सके।

भारत की ओर से बुमराह ने चार ओवर में 12 रन देकर तीन विकेट, नवदीप सैनी ने चार ओवर में 23 रन और र्शादुल ठाकुर ने चार ओवर में 38 रन देकर दो-दो विकेट लिया। वाशिंगटन सुंदर को तीन ओवर में 20 रन देकर एक विकेट मिला।

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने कप्तान रोहित शर्मा के 41 गेंदों में तीन चौके और तीन छक्के की मदद से 60 रन (रिटायर) और लोकेश राहुल के 33 गेंदों में चार चौकों और दो छक्कों के सहारे 45 रन की मदद से 20 ओवर में तीन विकेट पर 163 रन बनाए। रोहित हालांकि 60 रन के स्कोर में रिटायर हर्ट हो गए और दोबारा बल्लेबाजी करने नहीं उतर सके।

भारतीय सलामी जोड़ी हालांकि इस मुकाबले में कमाल नहीं दिखा सकी और संजू सैमसन महज दो रन के स्कोर पर स्कॉट कुगेलिजन की गेंद पर मिशेल सेंटनर को कैच थमा बैठे। पहला विकेट गिरने के बाद रोहित और राहुल ने भारतीय पारी को संभाला और दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 88 रनों की बड़ी साझेदारी हुई।

रोहित ने इस दौरान अपने टी-20 करियर का 21वां अर्धशतक लगाया। रोहित ने अपनी पारी में 31 रन बनाने के साथ ही अंतरराष्ट्रीय करियर में 14000 रन पूरे कर लिए। रोहित ऐसा करने वाले दुनिया के 43वें और भारत के आठवें बल्लेबाज बन गए।

भारतीय पारी में रोहित और राहुल के अलावा शिवम दुबे ने पांच रन बनाए जबकि श्रेयय अय्यर ने 31 गेंदों में एक चौके और दो छक्के के सहारे नाबाद 33 और मनीष पांडे ने महज चार गेंदों में एक चौका और एक छक्के की मदद से नाबाद 11 रनों का योगदान दिया। न्यूजीलैंड की तरफ से कुगेलिजन ने चार ओवर में 25 रन देकर दो विकेट और हमिश बेनेट ने चार ओवर में 21 रन देकर एक विकेट लिया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरुआत बेहद खराब रही और उसके तीन विकेट महज 17 रन के स्कोर पर गिर गए। टीम के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्तिल को बुमराह ने अपने पहले ही ओवर में पगबाधा आउट कर न्यूजीलैंड को पहला झटका दे दिया। इसके बाद कॉलिन मुनरो को वाशिंगटन सुंदर ने बोल्ड कर पवेलियन भेजा। कीवी टीम जबतक इन झटकों से उबर पाती तब तक सैमसन ने टॉम ब्रुस को रन आउट कर दिया। ब्रुस बिना खाता खोले आउट हुए।

शुरुआती झटकों के बाद अनुभवी टेलर और विकेटकीपर बल्लेबाज सेफर्ट ने न्यूजीलैंड की पारी को संभाला। दोनों ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए टीम की पारी को आगे बढ़ाया। टेलर और सेफर्ट के बीच चौथे विकेट के लिए 99 रनों की बड़ी साझेदारी हुई। सेफर्ट और टेलर ने शिवम दुबे की ओवर में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की उनके एक ओवर से 34 रन बटोरे। दोनों बल्लेबाजों की बेहतरीन पारी ने न्यूजीलैंड को जीत की ओर अग्रसर कर दिया था कि तभी सैनी ने सैमसन के हाथों कैच कराकर सेफर्ट की पारी का अंत कर दिया।

सेफर्ट के आउट होते ही न्यूजीलैंड की पारी एक बार फिर लड़खड़ा गयी। एक तरफ जहां मेजबान टीम के विकेट गिर रहे थे वहीं दूसरे छोर से टेलर टीम को जीत दिलाने के लिए कड़ी मशक्कत करते रहे। हालांकि सैनी ने विकेट के पीछे राहुल के हाथों कैच कराकर टेलर की पारी का अंत कर दिया और मैच भारत की झोली में डाल दिया।

न्यूजीलैंड की पारी में मुनरो ने 15, मिशेल सेंटनर ने छह, गुप्तिल ने दो और मिशेल ने दो रन बनाए जबकि ईश सोढी 10 गेंदों में दो छक्के की मदद से 16 रन बनाकर नाबाद रहे।

Related posts

टारगेट ओलम्पिक पोडियम स्कीम के अंतर्गत चुने गए बैंडमिंटन खिलाड़ियों को राष्ट्रीय खेल कोष से वित्तीय सहायता

बैडमिंटन: समीर ने जीता सैयद मोदी चैम्पियनशिप खिताब, सायना चूकीं

आईएसएसएफ विश्व चैंपियनशिप: भारतीय निशानेबाज अंकुर मित्तल ने शूटऑफ में जीता सोना