कराटे में भारत को मिला एक स्वर्ण और एक कांस्य पदक

Image default
खेल समाचार

गुवाहाटी: इन दिनों जबकि असम समेत पूरे देश में उड़नपरी हिमा दास के कृतित्व का परचम लहरा ही रहा है. वहीं, असम के हृदयानंद दास ने मलेशिया में 01 और 02 सितंबर को आयोजित अंतरराष्ट्रीय कराटे प्रतिस्पर्धा 2018 में एक स्वर्ण पदक जीतकर असम और देश का नाम कराटे की दुनिया में भी रौशन कर दिया है. वहीं, सनम लामा और हृदयानंद दास से कराटे का प्रशिक्षण प्राप्त गुवाहाटी के मिलन ज्योति बरदोलोई ने इस प्रतिस्पर्धा में कांस्य पदक हासिल कर अपने गुरु, असम और भारत का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया है.

हृदयानंद दास राज्य के विश्वनाथ जिले के विश्वनाथ चरियाली में चैंपियंस मेकर एकेडमी चला रहे हैं और काफी कम समय में उन्होंने स्वयं एवं उनके द्वारा प्रशिक्षित किए गए एक अन्य शिष्य ने अंतरराष्ट्रीय स्तर के प्रतिस्पर्धा में इस प्रकार का नाम कमाया है. कराटे में प्राप्त स्वर्ण व कांस्य पदक को लेकर पूरे असम के खेल प्रेमियों में उत्साह का माहौल व्याप्त हो गया है.

Related posts

मेस्सी और सुआरेज के गोल से बार्सिलोना खिताब के करीब

कोच रवि शास्त्री ने कह- जो फिट रहेगा, वही टीम में रहेगा

कॉमनवेल्थ गेम्स 2018: भारतीय टीम की लिस्ट में पिता का नाम हटाए जाने से नाराज साइना, सोशल मीडिया पर निकाला गुस्सा