भारत ने दूसरे वनडे में इंग्लैड को 15 रनों से हराया

Image default
खेल समाचार

कटक: कटक: भारत और इंग्लैंड के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का दूसरा मैच गुरुवार को ओडिशा के कटक में खेला गया. इस रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड की टीम 382 रनों के अपने तीसरे सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए 50 ओवर में 8 विकेट पर 366 रन ही बना सकी. इस प्रकार वह 15 रन से मैच हार गई. इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली. भारत की ओर से आर अश्विन ने तीन और जसप्रीत बुमराह ने दो विकेट चटकाए. टॉस हारने के बाद टीम इंडिया ने पहले बैटिंग की, लेकिन उसके तीन विकेट 25 रन पर ही गिर गए. इसके बाद शतकवीर एमएस धोनी और युवराज सिंह के बीच 256 रनों की साझेदारी से टीम इंडिया ने 50 ओवर में 6 विकेट पर 381 रन बना लिए. युवराज सिंह ने 150 रन, तो एमएस धोनी ने 134 रनों की पारी खेली. इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन ने 102 रनों की शानदार पारी खेली, लेकिन मैच नहीं बचा सके.

टीम इंडिया की ओर से युवराज सिंह और एमएस धोनी ने ऐतिहासिक पारियां खेलीं. युवराज सिंह 127 गेंदों में 150 रन (21 चौके, 3 छक्के) बनाकर आउट हुए. युवी ने 98 गेंदों में करियर का 14वां शतक पूरा किया, जबकि 56 गेंदों में करियर की 52वीं फिफ्टी बनाई. एमएस धोनी 122 गेंदों में 134 रन (10 चौके, 6 छक्के) बनाकर आउट हुए. उन्होंने 106 गेंदों में 10वां शतक पूरा किया. धोनी ने इससे पहले 68 गेंदों में 62वीं फिफ्टी बनाई थी. धोनी को 43 रन पर जीवनदान भी मिला, जब जेक बॉल ने उनका बेहद मुश्किल कैच टपका दिया था.

युवी ने आखिरी बार 2011 में जड़ा था शतक
दो साल बाद टीम में वापसी करने वाले युवराज सिंह ने लगभग 6 साल बाद वनडे शतक बनाया है. इससे पहले उन्होंने वनडे वर्ल्ड कप, 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ चेन्नई वनडे में 113 रनों की पारी खेली थी. इसके बाद की 16 पारियों में उनका औसत बेहद खराब रहा था, जो 18.32 था.

धोनी के भारत में 4000 रन, सचिन के बाद दूसरे
एमएस धोनी ने भारतीय मैदान पर वनडे में 4000 रन पूरे कर लिए हैं. ऐसा करने वाले वह सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे भारतीय हैं. सचिन ने भारतीय मैदानों पर 6 हजार से अधिक रन (6976 रन) बनाए थे. तीसरे नंबर पर राहुल द्रविड़ (3406 रन) हैं, जिन्होंने 3 हजार से अधिक रन बनाए हैं.

6 साल बाद 5 ओवर के भीतर गिरे 3 विकेट
कटक वनडे में टीम इंडिया ने पहले पांच ओवर में 25 रन पर तीन विकेट (लोकेश राहुल, विराट कोहली और शिखर धवन) खो दिए. इससे पहले टीम इंडिया ने साल 2010 में ढाका में श्रीलंका के खिलाफ पहले पांच ओवर में ही तीन विकेट गंवा दिए थे. इससे पहले 2007 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसने ऐसा किया था.

Related posts

भीख मांग रहे Ex-आर्मी मैन के लिए गौतम गंभीर ने मांगी मदद, रक्षा मंत्रालय ने दिया भरोसा

पीएसजी छोड़कर नहीं जाने वाले नेमार

कोविड-19: रोमा के खिलाड़ियों ने अस्पताल को दिया अपना वेतन

7 comments

Leave a Comment