अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की पैरवी की जाए: मुख्यमंत्री – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की पैरवी की जाए: मुख्यमंत्री

अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की पैरवी की जाए: मुख्यमंत्री

लखनऊउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सर्किट हाउस, वाराणसी में विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने विकास कार्यों को समयबद्ध ढंग से गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं में देरी होने से आमजन को परेशानी आती है। उन्होंने इस स्थिति के लिए सम्बन्धित कार्यदायी संस्था व ठेकेदार दोनों के विरुद्ध एफ0आई0आर0 दर्ज कर कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ठेका लेकर कार्य नहीं करने वाले ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करने के साथ उसके विरुद्ध एफ0आई0आर0 की जाएगी।
मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों से कहा कि वाराणसी में कार्य करने का अवसर एक बड़ा सौभाग्य है, इसे जिम्मेदारी से करें। वाराणसी में पूरे विश्व से बड़ी संख्या में लोग आते हैं। विगत चार-पांच वर्षों में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की मंशा के अनुरूप यहां विकास के रिकॉर्ड कार्य हुए हैं। प्रदेश सरकार केन्द्र सरकार की समस्त योजनाओं को सफलता से लागू कर रही है। जिनका धरातल पर अच्छा प्रभाव दिख रहा है। काशी-बनारस की विश्व स्तर पर विकास व सुविधाओं की दृष्टि से ख्याति फैली है, जिसके फलस्वरूप गत दो वर्षों में लगातार पर्यटकों की संख्या में गुणात्मक वृद्धि हुई है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मुसहरों को आवास उपलब्ध कराए जाएंगे। उन्होंने पॉलिथीन को हर हाल में बैन किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बी0टी0सी0 व बी0एड0 के छात्रों को प्राइमरी स्कूलों व आंगनबाड़ी केन्द्रों बच्चों को पढ़ाने के लिए भेजे जाने की व्यवस्था करने के निर्देश देते हुए कहा कि इससे उनका एक्सपोजर होगा तथा प्राइमरी शिक्षा सुदृढ़ होगी।
मुख्यमंत्री जी ने शाही नाले की सफाई एवं अन्य सीवर सम्बन्धी कार्यों में गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई द्वारा अपेक्षित तेजी न लाए जाने पर असंतोष व्यक्त करते हुए गंगा प्रदूषण के महाप्रबन्धक को कार्य में तेजी लाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह प्रमुख सचिव नगर विकास वाराणसी आएंगे। वे यहां पर नमामि गंगे, गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई विभिन्न परियोजनाओं में आ रही समस्याओं को परखेंगे तथा सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर समन्वय स्थापित करेंगे। साथ ही, समस्याओं का समाधान सुनिश्चित कराएंगे, ताकि शाही नाले की सफाई, सीवरेज निर्माण कार्य आदि के कार्यों में अपेक्षित तेजी लायी जा सके।
मुख्यमंत्री जी ने जनपद में क्रियान्वित विभिन्न विकास कार्यक्रमों जैसे-जल शक्ति अभियान, स्कूलों के कायाकल्प, मत्स्य पालन आदि की सराहना की। उन्होंने इनसे सम्बन्धित छोटी-छोटी वीडियो फिल्म बनवाने का सुझाव दिया, जो प्रदेश के अन्य जिलों के लिए अनुकरणीय होगा। जनपद में छोटी जोत के किसानों की मत्स्य पालन कार्य से 5 से 10 गुना तक आय होने को मुख्यमंत्री जी ने काफी सराहा।
समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री जी ने सुल्तानपुर-वाराणसी फोरलेन चैड़ीकरण, वाराणसी-गाजीपुर फोरलेन चैड़ीकरण, वाराणसी रिंग रोड फेज-2, शहरी गैस वितरण योजना, कन्वेंशन सेंटर, वैदिक विज्ञान केंद्र, रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ आॅफथमोलॉजी, सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, बी0एच0यू0 कैंसर इंस्टीट्यूट के आवासीय भवन, 100 शैय्यायुक्त मेटरनिटी विंग, रामनगर चिकित्सालय के उच्चीकरण, पांडेपुर चिकित्सालय निर्माण, सिस वरुणा, स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत कान्हा उपवन, स्किल डेवलपमेण्ट सेण्टर निर्माण, वाहन पार्किंग, सारनाथ में प्रकाश शो, गंगा प्रदूषण नियंत्रण के विभिन्न कार्यों, विभिन्न सेतु के निर्माण कार्य, विभिन्न सड़कों के चैड़ीकरण कार्य, आई0टी0आई0 राजातालाब, वरुणा नदी चैनेलाइजेशन आदि की प्रगति की जानकारी ली।
कानून व्यवस्था की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की पैरवी की जाए। यातायात जागरूकता, सड़क सुरक्षा, एण्टी रोमियो, बालिका सुरक्षा जागरूकता, मादक द्रव्य विरोधी आदि अभियान चलाए जाएं। इससे लोगों में जागरूकता बढ़ेगी तथा अपराधों पर अंकुश लगेगा।
समीक्षा के दौरान मंत्रिगण, जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

About admin