क्यों होता हे लीवर कमजोर, जाने ये 4 बाते

Image default
सेहत

लीवर हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक अंग है। आजकल भारतीय लोगों में ह्रदय और किडनी के बाद लीवर की बीमारी सबसे ज्यादा हो रही है। लीवर के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए दुनिया भर में हर साल 19 अप्रैल को वर्ल्ड लीवर डे मनाया जाता है। लीवर हमारे शरीर के 500 से ज्यादा कार्यों में मदद करता है। लीवर खराब होने पर या कम काम करने पर शरीर इसके संकेत पहले ही बता देता है। आइए जानते हैं। लीवर कमजोर होने पर शरीर देता है ये 6 संकेत भूलकर भी नहीं करें नजरअंदाज।

1. त्वचा में खुजली
त्वचा में खाज खुजली की बीमारी होना सामान्य है। इसे लोग कई बार नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन लीवर में खराबी होने से भी त्वचा में खाज खुजली की समस्या हो सकती है। अगर लीवर में बनने वाला बाइल जूस खून में घुलने लग जाए तो यह जूस त्वचा के नीचे जमने लगता है। और खुजली की समस्या शुरू हो जाती है।

2. त्वचा पर नीली रेखाएं
अगर त्वचा पर मकड़ी के जाल जैसे नीली रेखाएं दिखाई दे तो यह लीवर के अच्छे से काम नहीं करने का संकेत हैं। यह रेखाएं ओएस्ट्रोजन की मात्रा बढ़ने के कारण दिखाई देती हैं।

3. चोट लगना और खून बहना
अगर शरीर के किसी अंग पर छोटी सी चोट से ही बहुत ज्यादा खून बहने लगता है तो यह लीवर के कमजोर होने का संकेत है । चोट लगने पर खून का थक्का जमाने के लिए एक खास प्रोटीन की जरूरत होती है। जो लीवर ही बनाता है। इसलिए लीवर खराब होने पर शरीर में इस प्रोटीन की कमी आ जाती है।

4. सांस में बदबू
अगर आपकी सांसों या मुंह में हमेशा बदबू की समस्या रहती है तो यह लीवर की समस्या का संकेत भी हो सकती है। लीवर में सिरोसिस जैसी समस्या होने पर खून में मौजूद डाईमिथाइल सल्फाइड के कारण मुंह और सांसो में बदबू आने लगती है।

Related posts

हरे धनिया की पत्तियों के है कई चमत्कारिक फायदे, जानिए यहाँ

आयुष मंत्री ने आज ‘चिकित्‍सीय पादप उपज की स्‍वैच्छिक प्रमाणीकरण योजना’ आरंभ की

भारत में 8 लाख से अधिक की दैनिक परीक्षण गति बरक़रार, देश में अब तक 3.5 करोड़ से अधिक नमूनों के परीक्षण किए गए