पर्यटन मंत्रालय ने कोविड अनलॉक चरण के दौरान ‘देखो अपना देश’ अभियान के तहत विभिन्न पर्यटन सम्पदाओं का प्रदर्शन किया

Image default
देश-विदेश

भारत फिलहाल अनलॉक के चरण में है और पर्यटन मंत्रालय और उसके क्षेत्रीय कार्यालय ‘देखो अपना देश’ अभियान के अंतर्गत विभिन्न पर्यटन संवर्धन कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं और उन्हें समर्थन दे रहे हैं। इन कार्यक्रमों में हितधारकों और नागरिकों के बीच जागरूकता के प्रसार के उद्देश्य से देश की विभिन्न पर्यटन संपदाओं और उत्पादों का प्रदर्शन किया जा रहा है।

पर्यटन मंत्रालय के भारत पर्यटन, कोच्चि कार्यालय ने केरल होम स्टेस एंड टूरिज्म सोसायटी (एचएटीएस) के साथ मिलकर हाल में पर्यटन मंत्रालय की होमस्टेस/ बीएंडबी इकाइयों से जुड़ी योजना के बारे में अवगत कराने के लिए होमस्टेस/ बीएंडबी इकाइयों के मालिकों के साथ एक कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यशाला में निधि और साथी प्रमाणन के बारे में भी जानकारी दी गई, जिसे विशेष रूप से आतिथ्य सत्कार उद्योग के लिए पेश किया गया था। कार्यशाला में कोच्चि और पड़ोसी जिलों के 54 होमस्टेस/ बीएंडबी इकाइयों के मालिकों ने भाग लिया। एक अन्य कार्यक्रम में, भारत पर्यटन कोच्चि ने जिला पर्यटन संवर्धन परिषद एर्नाकुलम, केरल के साथ मिलकर केरल की अनूठी सांस्कृतिक विरासत को पुनर्जीवित करने के उद्देश्य से उलसावम के एक सप्ताह लंबे असाधारण सांस्कृतिक महोत्सव के 13वें संस्करण को समर्थन दिया। इस महोत्सव में लगभग 200 कलाकारों की भागीदारी के साथ केरल की 28 कलाओं का प्रदर्शन किया गया। इस महोत्सव का उद्घाटन कोचीन निगम की मेयर ने किया और संसद सदस्य श्री हिबी एडेन ने उद्घाटन भाषण दिया।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001TLYY.jpg

(कार्यालय- भारत पर्यटन, कोच्चि)

पर्यटन मंत्रालय के भारत पर्यटन बंगलुरू कार्यालय ने “देखो अपना देश” पहल के अंतर्गत 22 फरवरी, 2021 को एक घरेलू पर्यटन रोड शो का आयोजन किया, जिसमें उत्तर प्रदेश के बौद्ध सर्किट्स और तीर्थ स्थलों में मौजूद पर्यटन की संभावनाओं का प्रदर्शन किया गया। रोडशो में बुद्धिस्ट इनबाउंड टूरिज्म फ्रेटरनिटी (बीआईटीएफ) से आए 16 टूर परिचालकों ने भाग लिया और इस कार्यक्रम के दौरान कर्नाटक ट्रैवल एजेंट्स/ टूर ऑपरेटर्स के साथ बी2बी बैठकें भी हुई थीं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002KEFS.jpg

(कार्यालय- भारत पर्यटन, बंगलुरू)

पर्यटन मंत्रालय के भारत पर्यटन, मुंबई कार्यालय ने 23-24 फरवरी, 2021 को पुणे में हुए इंडिया इंटरनेशनल ट्रैवल मार्ट (आईआईटीएम) में भाग लिया, जिसमें भारत के विभिन्न पर्यटन उत्पादों का प्रदर्शन किया गया और आगंतुकों को जानकारियां दी गईं। यह पश्चिमी क्षेत्र में दूसरी प्रदर्शनी है, जिसमें स्थानों के अनलॉक होने के बाद भारत पर्यटन मुंबई ने भौतिक रूप से भाग लिया है।

पर्यटन मंत्रालय के भारत पर्यटन हैदराबाद और वाराणसी कार्यालयों ने ‘देखो अपना देश’ के अंतर्गत 24 फरवरी, 2021 को संयुक्त रूप से हैदराबाद में “विजिट उत्तर प्रदेश” का आयोजन किया। रोडशो में तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के यात्रा कारोबारियों के साथ ही बुद्धिस्ट इनबाउंड टूरिज्म फ्रैटरनिटी (बीआईटीएफ) से जुड़े 17 यात्रा व्यापार प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003L1GZ.jpg

(कार्यालय – भारत पर्यटन, हैदराबाद और वाराणसी)

पर्यटन मंत्रालय के भारत पर्यटन, दिल्ली कार्यालय ने सुंदर नर्सरी में क्षेत्रीय स्तर के गाइडों के लिए क्षेत्रीय यात्रा सह मनोबल बढ़ाने वाले कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसमें 70 आरएलजी ने भाग लिया। क्षेत्रीय निदेशक ने अपने अनुभव साझा करने के साथ ही घरेलू पर्यटन और आरएलजी की भागीदारी को प्रोत्साहन देने के लिए एमओटी पहल के बारे में बताया। उनके लिए नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन पर एक क्विज प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004BYHB.jpg

(कार्यालय- भारत पर्यटन, दिल्ली)

पर्यटन मंत्रालय के भारत पर्यटन, गुवाहाटी द्वारा 22 फरवरी, 2021 को नदी पर्यटन पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में 35 हितधारकों ने भाग लिया और पूर्वोत्तर क्षेत्र व भारत में रिवर क्रूजेस/ क्रूज पर्यटन के महत्व पर जोर दिया।

Related posts

जम्मू: आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़, 4 जवान शहीद, चार आतंकी भी ढेर

कोटा के सरकारी अस्पताल में 100 से अधिक बच्चों की मौत पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने राजस्थान सरकार को नोटिस जारी किया

टीबी से मुकाबले के लिए श्री जे.पी. नड्डा ने नई पहलें शुरू कीं