माननीय मेयर श्री सुनील उनियाल गामा की मौजूदगी में आकाश राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एएनटीएचई), 2019 की घोषणा की गई – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तराखंड » माननीय मेयर श्री सुनील उनियाल गामा की मौजूदगी में आकाश राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एएनटीएचई), 2019 की घोषणा की गई

माननीय मेयर श्री सुनील उनियाल गामा की मौजूदगी में आकाश राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एएनटीएचई), 2019 की घोषणा की गई

देहरादूनआकाश एडुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड ने आकाश राश्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एएनटीएचई) के नाम से जानी जाने वाली वार्शिक छात्रवृति परीक्षा के दसवें संस्करण के आयोजन की घोशणा की। यह परीक्षा इस साल देष भर में 24 राज्यों एवं केन्द्र षासित प्रदेषों में 20 अक्तूबर को आयोजित होगी। गौरतलब है कि यह परीक्षा आयोजित करने वाला आकाष एडुकेषनल सर्विसेस लिमिटेड चिकित्सक और आईआईटीयन बनने को इच्छुक छात्रों को प्रषिक्षण देने वाला देष का अग्रणी संस्थान है जिसके देशभर में 186 केन्द्र हैं।

वार्शिक छात्रवृति परीक्षा, 2019 के आयोजन की तिथियों की घोशणा आज आयोजित एक समारोह में की गई जिसमें देहरादून के माननीय मेयर श्री सुनील उनियाल गामा मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हए। इस समारोह में आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड, राजपुर रोड, देहरादून के शाखा प्रमुख हिमांशु सिंह भी उपस्थित थे।

निजी क्षेत्र में होने वाली सबसे बड़ी अखिल भारतीय परीक्षाओं में गिनी जाने वाली एएनटीएचई योग्य छात्रों को 100 प्रतिशत तक की छात्रवृत्ति प्राप्त करने का मौका प्रदान करती है और उन्हें डॉक्टर और आईआईटीयन बनने के उनके प्रयास में पहला कदम उठाने में मदद करती है। कक्षा आठवीं से बारहवीं में अध्ययनरत छात्र इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं।

एएनटीएचई के लिए नामांकन फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर, 2019 (मंगलवार) है। साथ ही 500 रुपये की फीस भी जमा करनी होगी जिसका भुगतान नेटबैंकिंग चैनलों, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड के माध्यम से या इसे सीधे आकाश संस्थान की शाखा / केंद्र में भी जमा किया जा सकता है। एएनटीएचई के लिए नामांकन करने वाले छात्र, वर्तमान में वे जिस क्क्षा में अध्ययन कर रहे हैं, उस कक्षा के लिए वे सबसे लोकप्रिय आकाश आईट्यूटर के डेली प्रैक्टिस टेस्ट (डीपीटी) प्रोग्राम में भी नामांकन ले सकते हैं।

देश भर में आयोजित होने वाला यह टैलेंट हंट एक्जाम असम, आंध्र प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आयोजित किया जाएगा।

आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (एईएसएल) के को-प्रमोटर और सीईओ तथा प्लाक्षा विष्वविद्यालय के संस्थापक और ट्रस्टी श्री आकाश चौधरी ने कहा, “पिछले एक दशक में एएनटीएचई को मिली प्रतिक्रिया से हम काफी खुष हैं। यह आज डॉक्टर या आईआईटीयन बनने को इच्छुक स्कूली छात्रों के लिए देश के सबसे बड़े प्रवेश द्वार के रूप में उभरा है। पिछले साल एएनटीएचई के लिए 3 लाख से अधिक छात्र परीक्षा में षामिल हुए थे। हमें विश्वास है कि पिछले वर्षों की तरह ही, प्रतिष्ठित प्रतिभा हंट एक्जाम के लिए आवेदन करने और अपने कैरियर के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए इस महान अवसर का लाभ उठाने के लिए लाखों छात्र आगे आएंगे।”

About admin