पेशेवर अपराधियों और माफियाओं के विरुद्ध प्रत्येक जोन में अभियान चलाकर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए: सीएम

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आगामी पर्वों, त्योहारों तथा प्रस्तावित पंचायत निर्वाचन के दृष्टिगत सभी जनपदों के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक तैयारियां करने के साथ-साथ सतर्क रहने तथा सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पेशेवर अपराधियों और माफियाओं के विरुद्ध भी प्रत्येक जोन में अभियान चलाकर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।
मुख्यमंत्री जी ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर आगामी पर्वों व त्याहारों के सम्बन्ध में वरिष्ठ पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की। उन्होंने पिछले 04 वर्षों के दौरान राज्य की कानून व्यवस्था पर सन्तोष व्यक्त करते हुए कहा कि आगामी दिवसों व माहों में माघी पूर्णिमा, सन्त रविदास जयन्ती, महाशिवरात्रि, होली, शब-ए-बारात, बैसाखी, अम्बेडकर जयन्ती, रामनवमी, महावीर जयन्ती तथा ईद-उल-फित्र जैसे पर्व व त्योहार पड़ रहे हैं। इन त्योहारों तथा प्रस्तावित पंचायत निर्वाचन के दृष्टिगत चुस्त-दुरुस्त कानून व्यवस्था तथा शान्तिपूर्ण वातावरण बनाए रखने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पुलिस तथा प्रशासनिक अधिकारी त्याहारों तथा प्रस्तावित पंचायत निर्वाचन को सुचारु रूप से सम्पन्न कराने के लिए अपनी-अपनी जिम्मेदारियों का भली-भांति निर्वहन करें। उन्होंने हर स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबन्द रखने तथा असामाजिक तत्वों/अपराधियों पर कड़ी निगाह रखने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शान्ति व्यवस्था पर पूरा फोकस किया जाए तथा शरारती तत्वों से सख्ती से निपटा जाए।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पेशेवर अपराधियों/माफियाओं सहित असामाजिक व अवांछनीय तत्वों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। सम्पत्तियों पर कब्जा करने वाले माफियाओं के विरुद्ध कार्ययोजना बनाकर तेजी से कार्यवाही हो। अवैध सम्पत्ति का जब्तीकरण अथवा ध्वस्तीकरण किया जाए। समीक्षा करते हुए पेशेवर अपराधियों व माफियाओं के शस्त्र जब्तीकरण व निरस्तीकरण की कार्यवाही सुनिश्चित हो। पेशेवर अपराधियों व माफियाओं के विरुद्ध प्रत्येक जोन, रेंज व जनपद स्तर पर कार्यवाही हो। इसकी नियमित समीक्षा करते हुए रिपोर्ट उपलब्ध करायी जाए।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्मों पर निगाह रखते हुए आपत्तिजनक तथा भ्रामक पोस्ट करने वालों के विरुद्ध प्रभावी कानूनी कार्रवाई की जाए। किसी भी हाल में अफवाहों को फैलने से रोका जाए। साथ ही, अफवाहों का खण्डन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि अराजकता व अव्यवस्था को कतई छूट न दी जाए। समाजविरोधी व राष्ट्रविरोधी तत्वों के खिलाफ समय से कार्यवाही सुनिश्चित हो।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि फील्ड एवं थाना स्तर पर मेरिट के आधार पर तैनाती की जाए। अपराधियों से सांठ-गांठ रखने वालों को भी चिन्ह्ति करते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई हो। समाज के कमजोर वर्गों, महिलाओं व बालिकाओं के विरुद्ध होने वाले अपराधों पर भी शीघ्रता से कार्रवाई की जाए। सीमावर्ती क्षेत्रों में विशेष सतर्कता बरती जाए। छोटी से छोटी घटनाआंें को गम्भीरता से लेते हुए उन पर प्रभावी कार्यवाही हो। अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाए। विवादों को संवाद के माध्यम से हल किया जाए।
इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक श्री एच0सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री श्री एस0पी0 गोयल, ए0डी0जी0 कानून व्यवस्था श्री प्रशान्त कुमार, सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

मुख्यमंत्री ने सैफई, इटावा में 14वें ‘अन्तर्राष्ट्रीय भाषा एवं संस्कृति महोत्सव’ का शुभारम्भ किया

आर्थिक गतिविधियों को अब धीरे-धीरे पटरी पर लाते हुए पूर्व की भांति पुनः गति प्रदान की जा रही: सुरेश कुमार खन्ना

आशुतोष टण्डन ने सुग्गामऊ एवं इस्माइलगंज द्वितीय वार्ड में चैपाल लगाकर सुनी क्षेत्रवासियों की समस्याएं