जीवन रक्षा के लिए जारी की गई रोड सेफ्टी गाइडलाइन निःसंदेह उपयोगी होगी: केशव प्रसाद मौर्य

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सड़क सुरक्षा को लेकर सरकार बेहद गंभीर है। पर्याप्त मार्ग सुरक्षा उपलब्ध कराने में मार्ग निर्माण करने वाली संस्थाओं की भी अहम जिम्मेदारी है और इस दिशा में लोक निर्माण विभाग अग्रणी भूमिका का निर्वहन कर रहा है। श्री मौर्य शनिवार को लोक निर्माण विभाग स्थित तथागत सभागार में रोड सेफ्टी पर आधारित मार्गदर्शक हैंडबुक का विमोचन करने के उपरांत उक्त उद्गार व्यक्त किए।
लोक निर्माण विभाग द्वारा मार्गदर्शक हैंडबुक तैयार की गई है, जिसमें मार्ग सुरक्षा की विभिन्न विधियों व विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी गई है। श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सड़क सुरक्षा माह 18 जनवरी 2021से प्रारंभ हो रहा है, जो 17 फरवरी 2021 तक चलेगा। उन्होंने कहा कि आम जनता, विशेषकर युवाओं में सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करना हम सबकी जिम्मेदारी है। सड़क दुर्घटनाओं के कारणों और दुर्घटनाओं के रोकने के उपायों के बारे में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन भी किया जाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षाष् का नारा देते हुए लोगों को जागरूक किए जाने की प्रबल आवश्यकता है ।लोक निर्माण विभाग में सभी जिलों में अभियंताओं को मार्ग सुरक्षा के दृष्टिगत विभिन्न ब्लैक स्पॉट्स, अवैध निर्माणों आदि का सघन अभियान चलाकर चिन्हीकरण करते हुए आवश्यक निराकरण की कार्यवाही करने के उपरांत सत्यापन की कार्यवाही की जाएगी। इस विषय पर अभियंताओं  के ज्ञान संवर्धन हेतु रोड सेफ्टी गाइड के रूप में मार्गदर्शक हैंडबुक दी जा रही है ,जो बहुत ही उपयोगी साबित होगी।
इस अवसर पर उन्होंने मार्गदर्शक पुस्तिका को वेबसाइट पर भी लांच किया। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में मार्ग सुरक्षा के लिए बनाए जाने वाले स्पीड ब्रेकर, रंबल स्ट्रिप आदि निर्धारित मानकों के अनुरुप बनाये जांए। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के प्रति जो संकेतक आदि लगाए जाते हैं, वह बहुत ही सरल और आम जनता को आसानी से समझने वाले होने चाहिए। उन्होंने कहा कि रोड नेटवर्क बढा है। सड़कों पर दुर्घटनाओं को रोकने के उपाय जो लोक निर्माण विभाग द्वारा किए जा रहे हैं, वह सफल होने चाहिए। लोक निर्माण विभाग में मार्ग सुरक्षा के प्रति बहुत बड़ा काम हुआ है। पूरे प्रदेश में मानक के तहत कार्य कराए जांय। उन्होंने कहा कि कार्यालयों में अभियान चलाकर सफाई  कार्य भी कराया जाए और रोस्टर बनाकर लोक निर्माण विभाग व सेतु निगम के कार्यालयों का सघन निरीक्षण किया जाए।
इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव श्री नितिन रमेश गोकर्ण, विभागाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग श्री राजपाल सिंह, प्रमुख अभियंता श्री ए के जैन, मुख्य अभियंता श्री संजय श्रीवास्तव, मुख्य अभियंता श्री आर सी शुक्ला, मुख्य अभियंता श्री जेके बांगा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Related posts

न्यायालयों में जघन्य अपराधों से संबंधित प्रचलित अभियोगों की प्रभावी पैरवी हेतु मानीटरिंग सेल के गठन के दिये निर्देश: पुलिस महानिदेशक

नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने सीएम योगी आदित्यनाथ से भेंट की

प्रदर्शनी में लखनऊ की ऐतिहासिक व सांस्कृतिक विरासत संजोए हुई इमारतों को नुमाइश की गई