स्पेशल ट्रेनों के लिए रेलवे ने बदला नियम, अब इतने दिन पहले करा सकेंगे टिकटों की बुकिंग

Image default
देश-विदेश

कोरोनो वायरस संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच भारतीय रेलवे 15 जोड़ी (अप-डाउन) स्पेशल ट्रेनें चला रही है। अब रेलवे ने इन स्पेशल ट्रेनों की टिकट बुकिंग में बड़ा बदलाव किया है और इसके लिए 30 दिन पहले टिकट बुक किए जा सकते हैं। पहले जारी दिशानिर्देशों के मुताबिक राजधानी विशेष ट्रेनों की एडवांस बुकिंग सात दिन पहले ही हो सकती थी।

रेल मंत्रालय ने ट्वीट कर बताया, “भारतीय रेलवे वर्तमान में 12 मई 2020 से पंद्रह जोड़ी स्पेशल ट्रेनें चला रहा है। यात्रियों की सुविधा के लिए अब इन 15 जोड़ी विशेष ट्रेनों के कुछ नियमों और शर्तों को संशोधित करने का निर्णय लिया गया है।”

रेल मंत्रालय के कार्यकारी निदेशक (I&P) राजेश दत्त बाजपेयी के मुताबिक अभी इन स्पेशल ट्रेनों में तत्काल बुकिंग की अनुमति नहीं होगी। आगे के दिशानिर्देशों के मुताबिक इन ट्रेनों में आरएसी या वेटिंग लिस्ट टिकट जारी किए जाएंगे।

इसके अलावा रेलवे ने बताया कि अब टिकटों की बुकिंग और रद्द करने की सुविधा डाकघरों और यात्री टिकट सुविधा केन्द्रों समेत कंप्यूटरीकृत पीआरएस काउंटरों को दे दी है। इसके साथ-साथ ऑनलाइन भी टिकट बुक की जा सकती है। रेलवे ने बताया कि टिकटों की बुकिंग में बदलाव 31 मई से शुरू होने जा रहीं विशेष ट्रेनों के लिए भी लागू हैं।

इसके अलावा आईआरसीटीसी के आधिकारिक एजेंट, रेलवे परिसर में यात्री आरक्षण प्रणाली और सामान्य सेवा केंद्रों को भी ऑफलाइन टिकट बुक करने का अधिकार दिया गया है। हालांकि सभी जगहों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

बता दें कि भारतीय रेलवे ने यात्री ट्रेनों का परिचालन धीरे-धीरे शुरू करने की योजना के तहत 12 मई को 15 जोड़ी एसी ट्रेनों को शुरू किया था। ये स्पेशल ट्रेनें नई दिल्ली को डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मूतवी को कनेक्ट करती हैं।

इसके अलावा रेलवे ने प्रवासी मजदूरों के लिए श्रमिक स्पेशल और एसी स्पेशल ट्रेनों के बाद 1 जून से 100 जोड़ी (अप-डाउन) नॉन एसी स्पेशल ट्रेनें चलाने का भी फैसला किया है। इन ट्रेनों के लिए टिकटों की बुकिंग 21 मई से शुरू हो चुकी है। Source Lokmat News

Related posts

सरकार ने 4 अक्‍तूबर, 2017 से पेट्रोल और डीजल (ब्रांडेड और गैर-ब्रांडेड दोनों) पर बेसिक उत्‍पाद शुल्‍क 2 रूपये प्रति लीटर कम करने का फैसला किया

प्रधानमंत्री की युवा आईएएस अधिकारियों से अपील : व्यवस्था में नये भारत की ऊर्जा भर दें

रसोई गैस-एलपीजी के वितरण में सहयोग के लिए तेल विपणन कंपनियों और सीएसी- एसपीवी के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ता क्षर