पंजाब को आज मिलेगा पहला दलित मुख्यमंत्री, 11 बजे शपथ लेंगे चरणजीत सिंह चन्नी

देश-विदेश

कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब का अगला मुख्यमंत्री का चेहरा मिल गया है. कांग्रेस आलाकमान ने कैबिनेट मंत्री और तीन बार के विधायक चरणजीत सिंह चन्नी को जिम्मेदारी देने का फैसला लिया है. अगले साल फरवरी-मार्च में पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले दलित सिख चेहरे को कमान दी जा रही है. चन्नी सोमवार को सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. चन्नी को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बधाई दी और कहा कि हमें पंजाब के लोगों से किए गए वादों को पूरा करना जारी रखना है. उनका विश्वास सर्वोपरि है.

राज्यपाल से मिले चन्नी, सुबह 11 बजे लेंगे शपथ

चरणजीत सिंह चन्नी ने नाम का ऐलान होते ही चंडीगढ़ स्थित राजभवन जाकर राज्यपाल से मुलाकात की. चन्नी के साथ पंजाब कांग्रेस के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत भी मौजूद थे. राज्यपाल से तकरीबन आधे घंटे तक चली मुलाकात के बाद चरणजीत सिंह ने राजभवन के बाहर मीडिया से बात की और सोमवार सुबह शपथ ग्रहण होने की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि सुबह 11 बजे वे पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

चन्नी ने कई नामों को छोड़ा पीछे

पंजाब के मुख्यमंत्री पद से शनिवार को कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद से ही नए मुख्यमंत्री के नाम को लेकर कायास लगाए जाने लगे थे. सूत्रों के हवाले से कई नाम सामने आए थे, जिसमें सबसे पहले राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले सुनील जाखड़ का नाम था. इसके बाद कांग्रेस आलाकमान ने अंबिका सोनी को पंजाब की जिम्मेदारी देने का फैसला किया, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया. पूर्व केंद्रीय मंत्री सोनी ने बताया कि वह चाहती हैं कि पंजाब में सिख चेहरा ही मुख्यमंत्री बने, इसलिए वह पंजाब की सीएम नहीं बनने जा रही हैं.

विधायक दल के नेता चुने गए

फिर दोपहर होते-होते सुखजिंदर सिंह रंधावा का नाम सामने आया और जश्न की तैयारियां भी शुरू हो गईं. उनके समर्थक मिठाइयां बांटते हुए भी नजर आए. कहा जाने लगा कि कांग्रेस आलाकमान के पास रंधावा का नाम भेज दिया गया है और किसी भी पल नाम का ऐलान कर दिया जाएगा. शाम को रहस्य से पर्दा उठते हुए जब विधायक दल के नेता का नाम सामने आया तो वह कोई और नहीं, बल्कि चरणजीत सिंह चन्नी का नाम था. चन्नी पंजाब की अमरिंदर सरकार में मंत्री थे और तीन बार विधायक बन चुके हैं.

कैप्टन ने चन्नी को दी बधाई

पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपमानित करने का आरोप लगाते हुए शनिवार को पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद उन्होंने कई बार कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर हमला बोला था. उन्होंने यह तक दावा कर दिया था कि यदि सिद्धू को पार्टी मुख्यमंत्री का उम्मीदवार बनाती है तो वह इसका विरोध करेंगे. हालांकि, चन्नी के पंजाब का ‘कैप्टन’ बनते ही अमरिंदर सिंह ने भी उन्हें बधाई दी. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, ”चरणजीत सिंह चन्नी को मेरी शुभकामनाएं. मुझे उम्मीद है कि वह पंजाब के सीमावर्ती राज्य को सुरक्षित रखने और सीमा पार से बढ़ते सुरक्षा खतरे से हमारे लोगों की रक्षा करने में सक्षम होंगे.”

डिस्क्लेमरः यह  आज तक न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ श्रमजीवी जर्नलिस्ट टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Related posts

जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को नियमित बनाया और करदाताओं की संख्या में वृद्धि की

नगर आर्थिक विकास के वाहक हैं और नगरों में रहने वाले लोगों को पर्याप्त आवास उपलब्ध कराए जाने की आवश्यकता हैः वेंकैया नायडू

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में नदी में गिरी मिनी बस, 13 श्रद्धालुओं की मौत