प्रदेश में उद्योगों और निजी क्षेत्र में भी रोजगार सृजन की प्रक्रिया जारी: नवनीत सहगल

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेश में कोविड-19 के संक्रमण दर में लगातार गिरावट आ रही है लेकिन यह समय और अधिक सावधान रहने का है। मा0 प्रधानमंत्री जी ने कहा है कि जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं करना है। प्रदेश सरकार मिशन रोजगार पर काम कर रही है। उन्होंने बताया कि सरकारी नौकरियों में विशेष अभियान चलाया जा रहा है, आयोग के साथ बैठक करके भर्ती की प्रक्रिया को तेज किया जा रहा है। पूर्णतया पारदर्शिता से पूरी नियमानुसार भर्ती हो इसका अनुपालन कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। मिशन शक्ति के अन्तर्गत पहले चरण में प्रत्येक थानों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की गयी है और अगले चरण में तहसीलों एवं विकास खण्डों में महिला हेल्प डेस्क की स्थापना कराई जा रही है। स्वरोजगार के लिए भी आर्थिक कदम उठाये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि मा0 प्रधानमंत्री जी 27 अक्टूबर, 2020 को उ0प्र0 मंे लगभग 03 लाख ठेले वाले, रेहड़ी वाले तथा छोटे-छोटे खोखे वाले, खोमचे वालों आदि से प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत ऋण वितरण करेंगे तथा इनसे संवाद स्थापित करेंगे।

श्री सहगल ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा मिशन रोजगार पर काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि औद्योगिक गतिविधियां तेजी से संचालित हो रही है। प्रदेश में विद्यमान 4.35 लाख इकाईयों को आत्मनिर्भर पैकेज के अन्तर्गत रू0 10,744 करोड के ऋण स्वीेकृत कर वितरित किये जा रहे हैं। प्रदेश में उद्योगों और निजी क्षेत्र में भी रोजगार सृजन की प्रक्रिया जारी है। आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार/स्वरोजगार सृजन अभियान में इस वित्तीय वर्ष में 14 मई से आजतक 5.76 लाख नई डैडम् इकाईयों को रू0 15,484 करोड के ऋण वितरण किया गया है। इन्ही इकाईयों के माध्यम से 22 लाख नये रोजगार पैदा हुए हैं।
श्री सहगल ने बताया कि मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा निरन्तर धान खरीद की समीक्षा की जा रही है। मा0 मुख्यमंत्री जी ने इस संबंध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि किसानों के धान की खरीद समय से हो तथा उन्हें धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य अवश्य मिले। मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि जिलाधिकारी की यह जिम्मेदारी होगी कि वह किसानों को धान खरीद का न्यूनतम समर्थन मूल्य अवश्य मिले। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही पाये जाने पर इस कार्य में लगे अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। मा0 मुख्यमंत्री जी ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि किसी भी किसान को समस्या न हो और सभी अधिकारी आकस्मिक निरीक्षण करंे। वर्तमान में प्रदेश में 4000 क्रय केन्द्र स्थापित हैं। अब तक 2,43,148.76 मी0टन धान की खरीद सुनिश्चित की जा चुकी है। 12 क्रय केन्द्रों के प्रभारियों के खिलाफ एफ0आई0आर0 दर्ज करायी गयी है। उन्हांेने किसानों से अपील कि है कि अपना धान, निकटतम धान क्रय केन्द्र पर ही लेकर जाए और बिचैलियों के सम्पर्क में न आये। उन्होंने बताया कि लापरवाही के चलते 02 वरिष्ठ पी0सी0एस0 अधिकारी को निलम्बित किया गया है।
प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,51,740 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 1,39,08,303 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 2277 नये मामले आये हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 2852 मरीज उपचारित होकर डिस्चार्ज हुए हैं। प्रदेश में अब तक कुल 4,33,703 व्यक्ति उपचारित होकर डिस्चार्ज किये गये हैं। प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत अब बढ़कर 92.62 प्रतिशत हो गया है। प्रदेश में 27,681 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। एक्टिव केसों में 59.43 प्रतिशत की कमी आई है। होम आइसोलेशन में 12,683 लोग हैं। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 2,63,049 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा प्राप्त करते हुए 2,50,366 लोगों ने अपने होम आइसोलेशन की अवधि पूर्ण कर ली है। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 2339 लोग ईलाज करा रहे हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,46,805 क्षेत्रों में 4,32,349 टीम दिवस के माध्यम से 2,77,27,360 घरों के 13,63,03,356 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि चिकित्सकीय उपचार के लिए ई-संजीवनी पोर्टल शुरू किया गया है। ई-संजीवनी के माध्यम से 1942 लोगों ने चिकित्सकीय परामर्श लिया। अब तक कुल 1,60,416 लोगों ने ई-संजीवनी पोर्टल पर चिकित्सकीय परामर्श लिया।
श्री प्रसाद ने बताया कि अगले महीने 03 अभियान चलाया जायेगा। अभी संचारी रोग अभियान चल रहा है। सभी लोगों से अपील है कि वे अपने घरों के आस-पास साफ-सफाई एवं पानी का ठहराव न रहने दें। घर में साफ-सफाई रहेगी तो डेंगू का प्रकोप कम रहेगा। उन्होंने बताया कि नवम्बर माह में 04 लाख बच्चों का टीकाकरण किया जायेगा। इसके अलावा जो बच्चे अभी भी छूट गये हैं, इस अभियान के तहत वो अपने बच्चों का टीकाकरण करवा सकते हैं। उन्होंने बताया कि 02 नवम्बर से 11 नवम्बर के बीच 31 जनपदों में टीबी का अभियान चलाया जायेगा। इसके पहले 41 जनपदों में यह अभियान चलाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत योजना से जो गांव छूट गये हैं उनको अगले माह एक अभियान चलाकर लगभग 7000 गांव में लोगों के गोल्डन कार्ड बनाये जाएंगे। त्योहारों का सीजन आ रहा है इसलिए मोहल्ला निगरानी समिति को सर्तक रहने की आवश्यकता है कि संक्रमण को न फैलने दिया जाए। उन्होंने बताया कि कोई भी व्यक्ति बिना मास्क पहने घर से बाहर न निकले और सावधानी रखनी की आवश्यकता है।

Related posts

लखनऊ के अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में इंग्लैड के लॉर्ड्स स्टेडियम जैसी सुविधाएं

मुख्यमंत्री ने जनपद लखीमपुर पहुंचकर राजापुर मंडी समिति के 03 गेहूं क्रय केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया

लखनऊ की सनसनी खेज सोना लूट की घटना में एक अभियुक्त लूटे गये सोने सहित गिरफ्तार