नीति आयोग ने “ग्रैंड इनोवेशन चेलेंज” लांच किया

देश-विदेश

नई दिल्ली: नीति आयोग ने आज देश की दस विकास चुनौतियों के बारे में नागरिकों की राय जानने के लिए ग्रैंड इनोवेशन चेलेंज

का पहला चरण लांच किया। ग्रैंड इनोवेशन चेलेंज माई गोव पोर्टल पर लांच किया गया ताकि भारत के विकास के लिए पहले ही चरण में नवाचार में नागरिकों को शामिल किया जाए। विचार विकास सुनिश्चित करने के लिए और किसी को एक दूसरे से पीछे न छोड़ने के लिए टीम इंडिया के रूप में राज्यों और प्रत्येक नागरिकों के साथ मिलकर काम करना है। इसका बल सामाजिक क्षेत्र तथा अत्यंत कमजोर वर्गों पर है।

ग्रैंड इनोवेशन चेलेंज के पहले चरण में नीति आयोग देश के विकास के प्रमुख क्षेत्रों में भारत की चुनौतियों पर नागरिकों की राय लेगा। विचार लोगों से यह जानना है कि वह कौन-कौन से विषय है जो सामाजिक क्षेत्र को विकसित करने के लिए हल करने आवश्यक हैं और प्राथमिकता आधार पर तय की जाने वाली चुनौतियां क्या हैं। ग्रैंड चेलेंज का पहला चरण अप्रैल, 25 को समाप्त होगा। https://mygov.in/task/niti-aayog-grand-innovation-challenge/  पर प्रविष्टियां प्रस्तुत की जा सकती हैं।  

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा विभिन्न मंचों पर भारत के विकास के लिए नवाचार तथा उद्यमशिलता के महत्व को दोहराए जाने के परिप्रेक्ष्य में ग्रैंड इनोवेशन चेलेंज लांच किया गया है। नीति आयोग अटल नवाचार मिशन (एआईएम) को लागू करने के लिए दिशा निर्देश तैयार करके इस लक्ष्य में लगा है। अटल नवाचार मिशन लांच किए जाने से देश की नवाचार क्षमता बढ़ेगी। देश और विदेश के बेहतरीन लोगों के साथ साझेदारी से शिक्षा, टेक्नोलॉजी, उद्योग, उद्यमशिलता तथा अनुसंधान के क्षेत्र में विशेषज्ञ एक साथ आएंगे।

Related posts

कोयला और खनन क्षेत्रों ने राष्ट्र निर्माण में पर्याप्त योगदान दियाः प्रल्हाद जोशी

राष्‍ट्रपति 23 अगस्‍त को अंतर्राष्‍ट्रीय बौद्ध सम्‍मेलन 2018 का उद्घाटन करेंगे

नरेंद्र सिंह तोमर ने गोगामुख में भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, असम परिसर का उद्घाटन किया

Leave a Comment