पेटीएम पेमेन्ट्स बैंक के खाताधारक अब सूर्योदय बैंक की फिक्स्ड डिपाजिट सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं

Image default
उत्तराखंड

देहरादून: भारत के स्वदेशी, पेटीएम पेमेन्ट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) ने अपने खाताधारकों को फिक्स्ड डिपाजिट सेवाएं देने के लिए सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक के साथ साझेदारी की घोषणा की। पेमेन्ट्स बैंक इंडसइंड बैंक के सहयोग में पहले ही 100 रुपये के न्यूनतम निवेश के साथ फिक्स्ड डिपाजिट सेवाओं की पेशकश कर रहा है। इस नई साझेदारी से, पीपीबीएल देश में मल्टी-पार्टनर एफडी सेवा पेश करने वाला पहला पेमेंट्स बैंक बन गया है जहां कोई भी खाताधारक अपनी पसंद के अनुसार साझेदार बैंक का चुनाव कर सकता है।

पीपीबीएल का समझने में आसान इंटरैक्टिव यूजर इंटरफेस खाताधारकों को अपनी बचत पर नजर रखने में मदद करता है। यही नहीं, वे अपनी बचत को फिक्स्ड डिपाजिट में निवेश करने के लिए अपनी पसंद के बैंक का चुनाव करने का निर्णय ले सकते हैं। निर्णय लेने से पहले ग्राहक अन्य चीजों के साथ विभिन्न खूबियों जैसे न्यूनतम निवेश, ब्याज दर, अवधि आदि की तुलना भी कर सकते हैं। पेमेन्ट्स बैंक किसी भी साझेदार बैंक के पास रखी गई फिक्स्ड डिपाजिट की  राशि को वापस लेने की स्थिति में शून्य जुर्माना की सुविधा संभव करता है। ऐसा देखा गया है कि कई खाताधारक ‘ऑटो-क्रिएट फिक्र्स्ड डिपॉजिट’ फीचर को पसंद करते हैं जहां उपयोगकर्ता खुद तय करते हैं कि उनके बचत खाते में एफडी सीमा क्या होगी।

पेटीएम पेमेन्ट्स बैंक लिमिटेड के प्रबंध निदेशक और सीईओ सतीश गुप्ता ने कहा, “हम सूर्योदय बैंक के साथ साझेदारी करके बहुत खुश हैं। इस साझेदारी की मदद से हम अपने खाताधारकों को अपने पार्टनर बैंक का चुनाव करने की लचीलता प्रदान करते हैं। इससे पहले वे इसके लाभों और सहूलियत का विश्लेषण कर सकते हैं। यह वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के हमारे मिशन के बिल्कुल अनुरूप है जिसमें ज्यादा से ज्यादा यूजर्स को इन सेवाओं से लाभ मिलता है और वे लंबे समय तक बचत करने की आदत डाल सकते हैं।

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ भास्कर बाबू ने कहा, “एक छोटे फाइनेंस बैंक के रूप में, हम शानदार ग्राहक अनुभव के साथ अभिनव उत्पादों और समाधानों की पेशकश करने पर फोकस करते हैं। इस साझेदारी से हम ग्राहकों को एक वैकल्पिक डिजिटल मंच मुहैया करा पाएंगे जिससे उन्हें उनकी बचत को ज्यादा अर्थपूर्ण ढंग से मोबिलाइज करने में मदद मिलेगी।

पीपीबीएल ने लाखों ऐसे लोगों को औपचारिक बैंकिंग प्रणाली के तहत लाने में भूमिका निभाई है जो औपचारिक बैंकिंग व्यवस्था के तहत नहीं थे। पीपीबीएल ने बैंकिंग सेवाओं को ग्राहकों की आसान पहुंच में लाने और सुविधाजनक बनाने के लिए जो सुविधाएं पेश की हैं उनमें मल्टी-पार्टनर एफडी की खूबी सबसे नई है। हाल में, पीपीबीएल ने आधार ऑथेन्टीकेशन के जरिए बैंकिंग सेवाओं को सक्षम बनाया है। इसके तहत आधार एनैबल्ड भुगतान प्रणाली एकीकृत है। पीपीबीएल ने डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (डीबीटी) सुविधा की भी शुरुआत की है जहां इसने ग्राहकों के लिए 400 से ज्यादा सरकारी सब्सिडी के लाभ सीधे उनके पीपीबीएल बचत खाते में प्राप्त करना संभव किया ।

Related posts

5400 करोड़ लागत से 250 किमी राष्ट्रीय राजमार्गों का हुआ लोकार्पण व शिलान्यास

ओ.एन.जी.सी आॅडिटोरियम में ई.वी.एम का प्रशिक्षण प्राप्त करते कार्मिक

समय और लागत दोनों की बचत, अगली पीढ़ी के त्वरित लॉन्च पुल भारत में समय की आवश्यकता: के के कपिला