फेयरट्रेड कैप्सूल के साथ पहली बार हाई स्ट्रीट फैशन में सस्टेनेबिलिटी लेकर आया इंडियन टेरेन

Image default
उत्तराखंड

देहरादून: भारत के अग्रणी मेन्स वियर और बॉयज वियर ब्रांड, इंडियन टेरेन ने फेयरट्रेड इंडिया के साथ साझेदारी की है। इस साझेदारी के अंतर्गत, एक एक्सक्लूसिव फैशन लाइन तैयार की जाएगी जोकि पर्यावरण की सुरक्षा करने के साथ ही गुजरात में फेयरट्रेड के किसानों को सशक्त बनाएगी।

गौरतलब है कि बीते वर्षों में सस्टेनेबल और जिम्मेदार उपभोक्ता, ब्रांडों को अपनी आपूर्ति श्रृंखलाओं में पारदर्शिता और सस्टेनबिलिटी प्रदर्शित करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। इंडियन टेरेन ने भी ग्राहकों को श्रेणी में सर्वोत्तम क्वालिटी प्रॉडक्ट्स उपलब्ध कराने की अपनी 20 सालों की प्रतिबद्धता को दोहराया है और यह मजबूत राष्ट्रीय ब्रांड्स बनाने की देश की आवाज को आगे बढ़ा रहा है।

फैशन की सामाजिक और पर्यावरणीय उपस्थिति लगातार बढ़ रही है और इसी के साथ ब्रांडों के लिए बदलाव की पहल करना तेजी से महत्वपूर्ण होता जा रहा है। इंडियन टेरेन ने सस्टेनेबल फैशन को मुख्यधारा में लाने में अपनी भूमिका पहचानी है। फेयरट्रेड कैप्सूल लॉन्च करने वाला भारत का पहला हाई स्ट्रीट ब्रांड बनने की प्रतिबद्धता इसी दिशा में एक कदम है। इंडियन टेरेन के फेयरट्रेड लेबल वाले कलेक्शन ध् कैप्सूल का मतलब है कि कलेक्शन और कैप्सूल निर्मित करने वाली फैक्टरियों और खेतों में सामाजिक और पर्यावरणीय संवहनीयता मानकों का पालन किया गया है। इसका मतलब है कि किसानों के लिए अपनी उपज का उचित मूल्य पाना सुलभ है, किसी तरह के हानिकारक कीटनाशकों का उपयोग नहीं किया गया, बाल श्रम निषिद्ध था, और इन कपड़ों को तैयार करते समय पर्यावरण की रक्षा का पूरा ख्याल रखा गया।

इस सहयोग पर टिप्पणी करते हुए इंडियन टेरेन फैशंस लिमिटेड के प्रबंध निदेशक, श्री चरथ नरसिम्हन ने कहा, “जैसा कि हम जानते हैं, पिछले कुछ अरसे से फैशन की दुनिया लगातार बदल रही है और पर्यावरण को लेकर ज्यादा सचेत हो रही है। उपभोक्ताओं के बीच ज्यादा सस्टेनेबल जीवन अपनाने की सोच बढ़ रही है। फेयरट्रेड इंडिया के साथ अपने जुड़ाव के जरिए हमने भरोसे, सस्टेनेबिलिटी और गुणवत्ता की इन बढ़ती जरूरतों को लेकर काम करते हुए सस्टेनबिलिटी की दिशा में एक और कदम बढ़ाया है। इसकी बदौलत हम एक्सक्लूसिव रूप से फेयरट्रेड कॉटन से निर्मित प्रॉडक्ट लाइन बनाने वाले भारत के पहले हाई स्ट्रीट ब्रांड बन गए हैं। यह फेयरट्रेड कॉटन गुजरात के सुरेंद्रनगर जिले के किसानों से मिलता है।ष्

उन्होंने यह भी कहा कि श्श्इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए हम अगले तीन वर्षों में जागरूक और स्थायीपूर्ण ढंग से सोर्स किए गए फेयरट्रेड कॉटन, रिसाइकल्ड कॉटन, रिसाइकल्ड पॉलिएस्टर और बांस व जूट जैसे जैविक तथा प्राकृतिक फाइबर से अपने समूचे पोर्टफोलियो का 50ः हिस्सा तैयार करने का इरादा रखते हैं। हम सर्टिफाइड आपूर्तिकर्ताओं के साथ काम करेंगे और इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की ट्रेसिबिलिटी को विशेष महत्व देंगे,

ताकि आपूर्ति श्रृंखला के साझेदार भी हमारे उद्देश्यों के साथ एलाइन्ड हो सकें। हम बायो-डिग्रेडेबल पैकेजिंग और प्रॉडक्ट सर्क्युलैरिटी के जरिए अन्य प्रक्रियाओं में भी इस संवहनीयता पहल का विस्तार करेंगे।

फेयरट्रेड इंडिया के साथ सहयोग में इंडियन टेरेन का नया कलेक्शन ग्राहकों को एक जिम्मेदार स्टाइल स्टेटमेंट के साथ सबसे फैशनेबल एपरेल्स की पेशकश करता है। तरह-तरह के अनूठे ग्राफिक प्रिंट्स और सॉलिड व पेस्टल कलर्स की रेंज के साथ इंडियन टेरेन क्लॉदिंग के कम्फर्ट जैसी खूबियां इस कलेक्शन को जरूरी बनाती हैं! कैप्सूल कलेक्शन फिलहाल मैन और बॉयज के लिए क्रू नेक टी-शर्ट सहित टीज का कलेक्शन ऑफर करता है। इसे टी-शर्ट के साथ ही शर्ट और ट्राउजर्स वाले बड़े कलेक्शन के तौर पर विस्तारित किया जाएगा। इसके अलावा, ग्राहक इंडियन टेरेन फेयरट्रेड कलेक्शन से जितने ज्यादा उत्पाद खरीदते हैं, किसान संगठनों द्वारा अर्जित फेयरट्रेड प्रीमियम का हिस्सा उतना ही ज्यादा होता है। सस्टेनबिलिटी आपको अच्छा महसूस कराती है।

फेयरट्रेड इंडिया के सीईओ अभिषेक जानी ने कहा, ष्एक ओर जहां ग्लोबल फैशन इंडस्ट्री कोविड-19 के प्रभावों से उबर रही है, वहीं इंडियन टेरेन ने सस्टेनबिलिटी को बढ़ावा देने के लिए हिम्मत भरा कदम उठाया है। अपने फेयरट्रेड कलेक्शन के साथ, इंडियन टेरेन न सिर्फ इस धरती और अपनी आपूर्ति श्रृंखलाओं में स्थित कमजोर समुदायों के लिए अपनी गहरी प्रतिबद्धता दिखा रहा है, बल्कि भारतीय कपास किसानों को आश्वस्त भी कर रहा है कि उन्हें अपने उत्पादों के लिए बाजार मिलेगा और उचित मूल्य प्राप्त होगा। फैशन उद्योग में सक्रिय ब्रांडों और व्यवसायों को प्रदूषण व शोषण के चक्र को खत्म करने या फिर सकारात्मक परिवर्तन व सामाजिक सशक्तिकरण का कारक बनने में अपनी भूमिका पहचाननी चाहिए। इंडियन टेरेन जैसे बड़े घरेलू ब्रांड की कपास में ज्यादा सस्टेनबिलिटी को लेकर प्रतिबद्धता इन कृषक समुदायों में भविष्य की विकास परियोजनाओं का मार्ग प्रशस्त करती है और उम्मीद की रोशनी जगाती है कि फैशन इंडस्ट्री पर्यावरणीय और सामाजिक रूप से जिम्मेदार फैशन को लेकर गहरी प्रतिबद्धताओं के साथ महामारी से बाहर निकलने का फैसला कर सकती है।”

इंडियन टेरेन ने अपनी एक्सक्लूसिव अर्थ खाकी प्रॉडक्ट लाइन के लॉन्च के साथ सस्टेनेबल सफर शुरू किया है, जिसे इसके एसएस20 कलेक्शन के हिस्से के तौर पर लॉन्च किया गया है। समूचे कलेक्शन में रंग (डाइ) के तौर पर प्राकृतिक रूप से प्राप्त पिग्मेंट्स का इस्तेमाल हुआ है। फेयरट्रेड इंडिया के साथ सस्टेनेबल प्रॉडक्ट लाइन के लॉन्च के जरिए यह सफर आगे बढ़ेगा।

Related posts

उच्च न्यायालय परिसर में बार एसोसिएशन के 100 चैम्बर निर्माण का विधिवत शिलान्यास करते हुएः मुख्यमंत्री

उत्तराखंड बाल कल्याण परिषद द्वारा आयोजित ‘‘मिल कर रहना‘‘ शिविर कार्यक्रम में पुरस्कृत बच्चों के साथ सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत

दून विश्वविद्यालय में नेस्टर एजुकेशन सोसायटी की वेबसाईट व सूचना पुस्तिका का लोकार्पण करते हुए: मुख्यमंत्री