बच्चों में गुणवत्तापरक शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार भी जरूरी: ब्रजेश पाठक

उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के विधायी एवं न्याय मंत्री श्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ-साथ खेलकूद व अच्छे संस्कार भी जरूरी हैंै, ताकि उनके भविष्य में और भी निखार आ सके। उन्होंने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं और वे राष्ट्र निर्माण में भागीदार बनें इसके लिए उनका समग्र विकास आवश्यक है।
श्री पाठक आज यहां विराजखण्ड गोमतीनगर स्थित सैनफोर्ट स्कूल का उद्घाटन करते हुए कहा कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण व व्यवसायपरक शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार भी देना चाहिए। उन्होंने कहा कि अच्छे संस्कार से बच्चे अनुशासित होते हैं बिना अनुशासन के कोई भी जीवन में आगे नहीं बढ़ सकता है। समग्र राष्ट्र निर्माण के लिए जीवन में अनुशासन आवश्यक है बच्चे अनुशासित बनेंगे तो वे भविष्य में आगे बढ़ेंगे और एक बेहतर समाज व राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान देंगे। अनुशासित बच्चे ही देश का भविष्य होते हैं।
विधायी एवं न्याय मंत्री ने स्कूल के शिक्षकों से अपील की। शिक्षकों को बच्चों के बेहतर भविष्य को ध्यान में रखकर इनकी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि सैनफोर्ट स्कूल बेहतर शिक्षा के साथ-साथ खेलों में भी बच्चांे की रूचि जागृत करता है ताकि पढ़ाई के साथ-साथ वे खेलकूद में भी आगे बढ़े और अपने परिवार के साथ देश व प्रदेश का मान बढ़ायें।
इस अवसर पर श्री अरविन्द गिरि, श्री अरविन्द त्रिपाठी, प्रो0 बी0के0 गोस्वामी लखनऊ विश्वविद्यालय, श्री जितेन्द्र गिरी निदेशक सैनफोर्ट स्कूल, श्रीमती माया गोस्वामी प्रबंध निदेशक सैनफोर्ट स्कूल एवं गणमान्य व्यक्तियों के साथ-साथ छात्र-छात्राएं भी उपस्थित रहे।

Related posts

जीएसटी पंजीकरण के इच्छुक व्यापारियों का अभियान चलाकर जीएसटी में पंजीकरण कराया जायेगा

गेहूॅ खरीद में किसानों की समस्याओं को दूर करने के लिए बनाये गये कंट्रोल रूम एवं टोल फ्री नम्बर

लू-प्रकोप एवं गर्म हवा के प्रबंधन हेतु एडवाइजरी