साइबराबाद पुलिस आयुक्त ने बताया एनकाउंटर का पूरा सच, बोले- जब..? – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Home » देश-विदेश » साइबराबाद पुलिस आयुक्त ने बताया एनकाउंटर का पूरा सच, बोले- जब..?

साइबराबाद पुलिस आयुक्त ने बताया एनकाउंटर का पूरा सच, बोले- जब..?

हैदराबाद में डॉक्टर दिशा के साथ गैंगरेप करने और फिर हत्या करने के आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया है. साइबराबाद पुलिस आयुक्त वी. सी. सज्जनार के मुताबिक आरोपियों को क्राइम सीन पर लाया गया था, ताकि डॉक्टर दिशा का मोबाइल, पर्स और दूसरा सामान बरामद किया जा सके. इस बीच जब क्राइम सीन रिक्रिएट किया जा रहा था, तभी आरोपियों ने पुलिस पार्टी पर पत्थरों से हमला कर दिया और 2 हथियार छीनकर भागने लगे. इसके जवाब में पुलिस ने फायरिंग की और चारों आरोपियों को ढेर कर दिया.

पुलिस यह भी कह रही है कि जब ये आरोपी हथियार छीनकर भाग रहे थे, तो इनको सरेंडर करने के लिए कहा गया था, लेकिन इन्होंने इनकार कर दिया था. साथ ही पुलिस पर हमला करने लगे थे.

कोर्ट ने आरोपियों को भेजा था पुलिस हिरासत में

डॉ दिशा के चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुटा कोर्ट के आदेश से पुलिस रिमांड पर भेजे गए थे. इन चारों पर 27 नवंबर की रात डॉक्टर दिशा के साथ गैंगरेप करने और फिर हत्या करके उसके शव को जलाने का आरोप है. इस एनकाउंटर को लेकर डॉक्टर दिशा के परिजन खुशी जाहिर कर रहे हैं, जबकि कुछ लोग तीखे सवाल उठा रहे हैं. अब आरोपी के परिजन भी सामने आ रहे हैं.

आरोपी की पत्नी बोली- जहां पति को मारा, वहीं मुझे भी मार दो

हैदराबाद में पुलिस एनकाउंटर में मारे गए डॉ दिशा से गैंगरेप के आरोपी चिंताकुंटा की पत्नी रेनुका सामने आई है. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आरोपी चिंताकुंटा की पत्नी रेनुका ने कहा कि मेरे पति की मौत के बाद अब कुछ बचा नहीं हैं. पुलिस मुझको भी उस जगह लेकर चले जहां मेरे पति का एनकाउंटर किया है और मुझको भी वहां मार दे.

रेनुका ने कहा कि मुझको बताया गया था कि मेरे पति को कुछ नहीं होगा और वह जल्द ही वापस लौट आएगा. अब समझ में नहीं आ रहा कि आखिर क्या करूं? पुलिस अब मुझको भी उस जगह लेकर चले जहां मेरे पति की हत्या की है और मुझको भी मार डाले.

20 वर्षीय चिंताकुंटा की हाल ही में रेनुका के साथ शादी हुई थी. चिंताकुंटा तेलंगाना के नारायणपेट जिले के गुडीगांडला गांव का रहने वाला था. चिंताकुंटा के जानने वालों का यह भी कहना है कि वह किडनी से जुड़ी बीमारी से जूझ रहा था. स्थानीय लोगों का यह भी कहना है कि डॉक्टर दिशा के सभी चारों आरोपी बेहद गरीब परिवार से आते थे और कम पढ़े-लिखे थे. हालांकि अब पैसा कमाने लगे थे. वो शराब भी पीते थे. Source आज तक

About admin