सीएम ने विधानसभा बागेश्वर क्षेत्र की 9424.23 लाख की लागत की 42 योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया

उत्तराखंड

बागेश्वर: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा बागेश्वर क्षेत्र की 9424.23 लाख की लागत की 42 योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इनमें 5957.47 लाख की लागत की 21 योजनाओं का लोकार्पण तथा 3466.76 लाख की 21 योजनाओं का शिलान्यास किया गया।

   मुख्यमंत्री ने जिन योजनाओं का लोकार्पण किया गया है उन योजनाओं में उत्तराखण्ड पेयजल निगम बागेश्वर के अन्तर्गत विधासभा क्षेत्र बागेश्वर में पुलिस लाईन, छतीना, मेहरबूंगा, ढेलापाटन पंपिंग पेयजल योजना का निर्माण कार्य का लोकार्पण जिसकी लागत 449.97 लाख, उत्तराखण्ड पेयजल निगम बागेश्वर के अन्तर्गत विधासभा क्षेत्र बागेश्वर में गरूड़ ग्राम समुह पंपिंग पेयजल योजना जिसकी लागत 159.23 लाख, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना बागेश्वर विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत दाणुछीना से लोभचक-उडियार मोटरमार्ग लम्बाई 5.075 किमी लागत 263.38 लाख, अमसरकोट-सातरतवे मोटरमार्ग अपग्रेडेशन लम्बाई 2.600 किमी लागत 182.18 लाख, गरूड़ बिनखोली से कोठो मोटरमार्ग किमी 1 में 24 मी0 स्टील गर्डर सेतू 122.5 लाख, पाना तरमोली मोटरमार्ग लम्बाई 5 किमी लागत 464.29 लाख, जनपद बागेश्वर में ईवीएम एवं वीवीपेट भाण्डारण के वेयर हाउस का निर्माण कार्य लागत 211.06 लाख, विकास खण्ड गरूड़ बैजनाथ मंदिर एवं सौन्दर्यीकरण का कार्य लागत 67.53 लाख, ग्रामीण निर्माण विभाग द्वारा दफौट बनखोट मोटरमार्ग से आमखेत तक मोटर मार्ग का निर्माण कार्य लागत 228.40 लाख आदि योजनाओं का लोकार्पण के साथ ही विश्व बैंक यूडीआरपीएएफ परियोजना के अन्तर्गत विधानसभा क्षेत्र बागेश्वर में भीटारकोट से जूनियर र्हाइस्कूल में 30 मीटर स्पान स्टील गर्डर पैदल सेतू का निर्माण कार्य लागत 179.31 लाख, तथा दफौट मोटरमार्ग के किमी 36 में 70मीटर स्पान स्टील डस स्टील मोटर मार्ग का निर्माण कार्य लागत 708.02 लाख, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत अमस्यारी में बूंगा मोटर मार्ग लम्बाई 2.775 किमी लागत 155.47 लाख, काफलीगैर से जाठा मोटर मार्ग लम्बाई 3 किमी लागत 162.31 लाख, ग्राम अमस्यारी के टीटोली तोक के ग्राम पंचायत बूंगा तक मोटर मार्ग का नव निर्माण कार्य लागत 45.54 लाख, राज्य योजना के अन्तर्गत विकास खण्ड गरूड़ में पाण्डेखक्कर-खडेरिया मोटर मार्ग के किमी 1 व 2 में डामरीकरण का कार्य लागत 121.04 लाख आदि योजना का शिलान्यास किया गया। इस अवसर पर मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के अल्मोड़ा के अधीन पंडित बद्री दत्त पांडे परिसर को लोकार्पण किया गया। इस अवसर पर जिला चिकित्सालय बागेश्वर में  द्वितीय तल में 75.33 लाख लागत से बने 06 आईसीयू बैड का भी लोकार्पण किया गया।
अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद बागेश्वर वासियों के लिए खुशी की बात है कि उनकी कई वर्षो से चली आ रही रेल मार्ग की मांग का सपना पूरा हो रहा  है, जिसके लिए मा0 प्रधानमंत्री के प्रयासों रेल मंत्रालय द्वारा टनकपुर से बागेश्वर नई ब्रॉड गेज रेल लाइन फाइनल लोकेशन सर्वे को मंजूरी दी गयी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि  प्रधानमंत्री जी ने जो मुझे मुख्य सेवक का दायित्व दिया है उसके बाद हमारी सरकार लगातार ही जनहित के फैसले ले रही है। उन्होंने कहा हमारी सरकार युवाओं को रोजगार देने पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा विभिन्न विभागों में रिक्त चल रहे 24 हजार पदों पर भर्ती एवं युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए युवाओं हेतु प्रत्येक जिले में मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत ऋण वितरित किए जा रहे है। उन्होंने कहा लंबे समय से चली आ रही आशा कार्यकत्रियों की मांग को पूरा करते हुए उनके मानदेय के अन्तर्गत एक हजार और प्रोत्साहन राशि के रूप में पांच सौ बढ़ा दिये हैं। उन्होंने कहा हमारी सरकार ने गांव के विकास में अहम योगदान निभाने वाले ग्राम प्रधानों का मानदेय  3500 तक  बढ़ाया  है, इसके साथ ही उपनल कर्मचारियों के मानदेय में दो से तीन हजार रुपये तक की बढोतरी की गयी है। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत गौरवशाली, शक्तिशाली, आत्मनिर्भर एवं विश्व गुरु के रूप में उभर रहा है। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उत्तराखंड जैसे युवा राज्य को आने वाले समय में, शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, व्यापार, उद्योग जैसे तमाम क्षेत्रों में हिंदुस्तान का नम्बर वन राज्य बनाएंगे। उन्होंने कहा हमारी सरकार समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति को लाभ पहुंचे इस पर निरंतर कार्य कर रही है।  उन्होने कहा कि मेरे कार्यकाल के 103 दिन पूर्ण होने तक 320 से अधिक फैसले लिये है। उन्होंने कहा कि सरकार एक एक पल आम जनता के हित के लिये कार्य कर रही है व आम जनता के लिये सरकार के द्वार हर वक्त खुले है। उन्होने कहा कि सरकार की प्राथमिकता ग्रामीण एवं दूरस्थ क्षेत्र में निवासरत व्यक्ति तक विकास की योजनाओं को पहुंचाना है तथा उन्हे आत्मनिर्भर बनाते हुए विकास की मुख्यधारा से जोड़ना है। उन्होंने कहा कि जनता की समस्याओं की निस्तारण त्वरित गति से किया जाना चाहिए इसमें किसी प्रकार की कोई ढिलाई एवं शिथिलता न बरती जाय।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा कारगिल शहीद राम सिंह जूनियर हाईस्कूल भगरतोला का उच्चीकरण, तहसील गरूड में सब रजिस्टार की नियुक्ति, राजकीय इंटर कॉलेज गरूड एवं सिरकोट में इंटरमीडिएट में गणित विषय का सृजन एवं प्रवक्ता की नियुक्ति, तहसील गरूड में बार भवन के निर्माण हेतु 25 लाख की धनराशि, इंटर कॉलेज गागरीगोल में विज्ञान विषय की मान्यता, विधानसभा बागेश्वर के अंतर्गत काफलीगैर में महाविद्यालय एवं गरूड में पीजी कक्षाएं संचालित कराने की घोषणा, जनपद बागेश्वर में सर्किट हाउस का निर्माण, चण्डिका एवं नीलेश्वर मंदिर को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने, महायोजना पर आंकलन कर कार्यवाही करने, जिला अस्पताल भवन की स्वीकृति के साथ ही सरयू नदी बागनाथ मंदिर के समीप मिनी झील का निर्माण करने आदि घोषणायें की गयी।
मुख्यमंत्री ने स्वरोजगार योजनाओं के नौ लाभार्थियों को 45 लाख के चेक वितरित भी किये तथा जिला योजना से स्वीकृति 10 लाख से युवाओं को स्वरोजगार योजना से जोडने के लिए फिश-डिश मोबाईल प्रचार वैन का भी शुभारंभ किया गया।
इस अवसर पर सांसद अजय टम्टा, उच्च शिक्षा, सहकारिता एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, अध्यक्ष जिला पंचायत बसंती देव, विधायक बागेश्वर चन्दन राम दास, कपकोट बलवंत सिंह भौर्याल,  सहित जनप्रतिनिधि, जिला स्तरीय अधिकारी एवं आम जनमानस मौजूद रहें।

Related posts

शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए: मंत्री प्रसाद नैथानी

अहमदाबाद में काकडिया झील का निरीक्षण के अवसर पर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत

हिमाचल प्रदेश स्थित हरिपुरधार में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुएः सीएम