ओलंपिक स्वर्ण जीतने वाले सबसे उम्रदराज भारोत्तोलक बने चीन के ल्यू

Image default
खेल समाचार

चीनी दिग्गज ल्यू शियाओजुन ओलंपिक खेलों का स्वर्ण पदक जीतने वाले सबसे उम्रदराज भारोत्तोलक बन गए हैं। 37 साल की उम्र में उन्होंने तीन नए ओलंपिक रिकॉर्ड के साथ पुरुषों का 81 किग्रा वर्ग का खिताब हासिल किया।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को 37 साल के हो गए ल्यू ने सोवियत संघ के रुडोल्फ प्लुकफेल्डर का रिकॉर्ड तोड़ा। 36 साल की उम्र में रुडोल्फ ने 1964 में टोक्यो में स्वर्ण पदक जीता था।

डोमिनिकन गणराज्य के जकारियास बोनट मिशेल ने 367 किग्रा के साथ रजत पदक जीता। इटली के एंटोनिनो पिजोलाटो ने 365 किग्रा के साथ कांस्य पदक जीता।

1998 में भारोत्तोलन शुरु करने वाले ल्यू ने कहा कि पिछले दो दशक खेल के प्रति उनका प्यार असीम हो गया था। ल्यू ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मुझे कम उम्र में भारोत्तोलन पसंद था, लेकिन अब यह मेरा प्यार है। यही कारण है कि मैं 37 साल या 40 साल की उम्र तक भी इसे जारी रखूंगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Related posts

आस्ट्रेलिया ओपन में खिलाड़ियों को मिलेगा 10 मिनट का ब्रेक

टीम इंडिया की शर्मनाक हार, ऑस्ट्रेलिया ने 8 विकेट से हराया

IND-PAK फाइनल मुकाबले से पहले अमित शाह का बड़ा बयान