धार्मिक स्थलों को लेकर बड़ा फैसला, एक बार में पांच श्रद्धालुओं को मिलेगी प्रवेश की अनुमति

Image default
उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश में तेज रफ्तार कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू पाने के लिए प्रदेश सरकार लगातार सख्ती कर रही है. राज्य की राजधानी लखनऊ में कोरोना वायरस से संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धार्मिक स्थलों को लेकर बड़ा फैसला लिया है. लखनऊ में अब से धार्मिक स्थलों पर एक बार में बस पांच श्रद्धालुओं को ही प्रवेश करने की अनुमति होगी.

राज्य सरकार कोरोना की बढ़ती रफ्तार पर रोक लगाने के लिए तमाम कोशिशें कर रही है, सख्ती बरत रही है. राज्य के कई जिलों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. सरकार ने लखनऊ, मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, वाराणसी, कानपुर, प्रयागराज और बरेली में नाइट कर्फ्यू लगा दिया है.

गाजियाबाद और नोएडा में 17 अप्रैल तो वहीं मेरठ में 18 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. वहीं, बाकी जगह 16 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लागू किया गया है. दिल्ली से सटे नोएडा की व्यस्त रहने वाली सड़कों पर सन्नाटा पसरा रह रहा है. नाइट कर्फ्यू के दौरान सड़कों पर बस पुलिसकर्मी ही नजर आ रहे हैं.

हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने चार जिलों में सभी सरकारी और गैर सरकारी संस्थान, ऑफिस में 50 फीसदी लोगों की ही उपस्थिति का आदेश दिया था. अब ऑफिस में 50 फीसदी लोग ही काम कर सकेंगे. सीएमओ ऑफिस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर के सरकारी व निजी प्रतिष्ठानों में एक दिन में 50 फीसदी कर्मचारी ही आएं.

Related posts

एक साल के अन्दर पूर्ण किया जाए निर्माण कार्य: केशव प्रसाद मौर्य

युवाओं को रोजगार प्रदान करने की दिशा में प्रदेश सरकार सतत अग्रसर

चीफ पोस्टमास्टर जनरल वीपी सिंह ने उत्तर प्रदेश में उत्कृष्ट कार्य करने वाले मंडलाधीक्षकों को किया सम्मानित