कश्मीर मसले पर UNSC की बैठक पर बोले अकबरुद्दीन, धारा 370 भारत का आंतरिक मामला

देश-विदेश

नई दिल्ली: भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान भारत पर दवाब बनाने की लगातार कोशिश कर रहा है। कश्मीर मसले पर चीन की मदद से पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बंद कमरे की बैठक बुलाने में सफल तो हो गया, लेकिन बैठक के बाद पाकिस्तान के हाथ कुछ लगा नहीं।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कश्मीर मसले पर हुई बंद कमरे की बैठक के बाद संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी दूत अकबरुद्दीन ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया। अकबरुद्दीन ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना भारत का आंतरिक मामला है, जिसमें पाकिस्तान जबरन घुसने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि कश्मीर पर लिए गए फैसले भारत का आतंरिक मामला है, जिसमें बाहरी लोगों को कोई मतलब नहीं होना चाहिए।

अकबरुद्दीन ने पाकिस्तान को दो टूर शब्दों में साप-साफ कहा कि पाकिस्तान जेहाद के नाम पर भारत में हिंसा फैला रहा है। उन्होंने कहा कि हम कश्मीर के मसले पर हम अपनी नीति पर हमेशा की तरह कायम हैं। UNSC की बैठक के बाद अकबरूद्दीन ने कहा कि सभी मसले बातचीत से सुलझाए जाएंगे। हिंसा किसी भी मसले का हल नहीं है। उन्होंने साफ-साफ कहा कि बातचीत के लिए पाकिस्तान को आतंकवाद फैलाना बंद करना होगा।

उन्होंने कहा कि हिंसा किसी भी मसले का हल नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद फैलाना बंद करे। भारत कश्मीर में शांति बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि अनुच्छे 370 भारतीय संविधान से जुड़ा मामला है , इसमें बाहरी लोगों की दखलअंदाजी नहीं होना चाहिए।

News source: oneindia

Related posts

लोगों के मन में विश्वास होना चाहिए कि नरेंद्र मोदी सरकार तेज गति से निष्पक्ष जांच कर रही है: अमित शाह

भारत में पैरोल विवरण- औपचारिक रोजगार परिदृश्‍य– अप्रैल 2018

स्‍कूल चलो अभियान जल्‍द शुरू होगा: श्री प्रकाश जावड़ेकर