नान कोविड हास्पिटलो को ऑक्सीजन सप्लाई सुनिश्चित कराने के लिए बनाई गई कार्ययोजना

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: नान कोविड हास्पिटलो में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से प्रभारी अधिकारी कोविड-19 डॉ रोशन जैकब द्वारा औषधि विभाग में रजिस्टर्ड 8 ट्रेडरों के साथ बैठक आहूत की गईं। बैठक में नान कोविड हास्पिटलो को सुचारू रूप से ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए कार्ययोजना बनाई गईं। प्रस्तावित नान कोविड हास्पिटलो की लिस्ट और ट्रेडर्स की लिस्ट को जिला प्रशासन को उपलब्ध करा दिया गया है। ट्रेडर्स को क्षेत्रवार नान कोविड हास्पिटल आवंटित करने के लिए जिला प्रशास्त्रको प्रस्ताव भेजा गया है, ताकि जल्द से जल्द हास्पिटलो को आवंटित करके ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित कराई जा सके।
कार्ययोजना के अनुसार जनपद के 8 ट्रेडर्स को क्षेत्रवार नान कोविड हास्पिटल आवंटित कर दिए जाएंगे। यह 8 ट्रेडर्स आपके यहाँ आवंटित नान कोविड हास्पिटलो को ऑक्सीजन की उपलब्धता कराएंगे।
डाॅ0 रोशन जैकब ने बताया कि इन 8 ट्रेडर्स को प्लांट से निर्धारित कोटा जो कि प्रत्येक ट्रेडर को आवंटित हास्पिटलो की मांग के अनुसार तय किया जाएगा, प्लांट से उपलब्ध कराया जाएगा। ऑक्सीजन की कालाबाजारी रोकने के उद्देश्य से प्रभारी अधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि सभी ट्रेडर्स को अपने कोटे की ऑक्सीजन प्राप्त करने के लिए हास्पिटलो को सप्लाई किये गए ऑक्सीजन का डिलीवरी नोट दिखाना पड़ेगा। इसी प्रकार से हास्पिटलो को अपने ट्रेडर्स से ऑक्सीजन प्राप्त करने के लिए उनके यहाँ भर्ती ऑक्सीजन का उपयोग करने वालो के आधार कार्ड आदि विवरण उपलब्ध कराकर ऑक्सीजन की सप्लाई कराई जाएगी।
प्रभारी अधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि सभी ट्रेडर्स सही मांग और सही मांग पर सही सप्लाई करना सुनिश्चित कराए। किसी भी प्रकार की कालाबाजारी या ओवर प्राइसिंग को बर्दाशत नही किया जाएगा। यदि संज्ञान में आता है कि किसी ट्रेडर के द्वारा ऑक्सीजन की कालाबाजारी की जा रही है तो उसका कांट्रेक्ट खत्म करते हुए एपेडेमिक एक्ट के तहत कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

Related posts

किसानों के लिए कृषि यंत्र संबंधी बिल वाउचर अपलोड करने की समय सीमा 14 सितम्बर तक बढ़ी

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने छत्तीसगढ़ में नक्सली मुठभेड़ में शहीद वीर जवानों को आत्मिक श्रद्धांजलि अर्पित की है

थानों की कार्यप्रणाली को सी0सी0टी0एन0एस0 योजना के माध्यम से पेपरलेस बनाने के प्रयास तेज किये जायें: मुख्य सचिव