Online Latest News Hindi News , Bollywood News

राशन कार्डों पर खाद्यान्न वितरण में उत्तर प्रदेश, देश में अग्रणी राज्य: अवनीश कुमार अवस्थी

उत्तर प्रदेश

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने आज यहां लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत अब सभी बाजार सोमवार से शुक्रवार तक खुलेंगे तथा शनिवार व रविवार को साप्ताहिक बन्दी रहेगी। साप्ताहिक बन्दी के दौरान सभी बाजारों की स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन के लिए विशेष कार्यक्रम चलेगा। उन्होंने कहा है कि औद्योगिक इकाइयां भी शनिवार व रविवार को अपने यहां सेनिटाइजेशन का कार्य करें। सभी कोविड अस्पतालों में आॅक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। यह भी देखा जाए कि अस्पताल में 48 घण्टे के लिए आॅक्सीजन का बैकअप मौजूद रहे। उन्होंने कहा है कि वर्तमान में चल रहे निर्माण कार्य जैसे एक्सप्रेस-वे, डैम, बाढ़ के दृष्टिगत तटबन्धों की मरम्मत के कार्य सोशल डिस्टेंसिंग के साथ निरन्तर किए जाएं। उन्होंने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि वर्षा के कारण कहीं भी जल भराव की स्थिति न बने।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि कोविड-19 के दृष्टिगत इससे बचाव के सम्बन्ध में व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। लोगों को जागरूक किया जाए कि वे मास्क को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं तथा समय-समय पर साबुन से हाथ धोते रहें। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी कोे अवगत कराया गया कि अब तक 77 हजार राजस्व गांवों में स्वच्छता के विशेष अभियान के साथ ही फाॅगिंग कराई जा चुकी है, जबकि 9 हजार नगरीय निकायों के वार्डों मंे भी फाॅगिंग कराई गई है। यह भी अवगत कराया गया है कि ग्राम प्रधानों से संवाद स्थापित कर विशेष सफाई अभियान चलाने के लिए निर्देशित किया गया है।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि कोविड-19 से रोकथाम के लिए पूरे प्रदेश में 1.40 लाख टीम द्वारा घर-घर पहुंचकर सर्वे का कार्य किया जा रहा है। इससे जहां एक तरफ लोग कोरोना के सम्बन्ध में जागरूक हो रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ इससे संक्रमित लोगों को उपचार भी मिल रहा है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने टिड्डी दल पर प्रभावी नियंत्रण के लिए रसायन का छिड़काव किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने टेस्टिंग क्षमता को बढ़ाकर 50 हजार टेस्टिंग प्रतिदिन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने गोरखपुर के मण्डलायुक्त को अपने मण्डल के सभी जनपदों में कोविड-19 से रोकथाम व संचारी रोगों के दृष्टिगत चलाए जा रहे अभियानों की प्रभावी माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। बिना लक्षण वाले मरीजों को कोविड-19 के एल-1 अस्पतालों में भर्ती कराया जाए। उन्होंने जनपद कानपुर नगर, देवरिया, कुशीनगर, बलिया व वाराणसी में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। उन्हांेने कहा है कि प्रदेश सरकार द्वारा लगभग 01 लाख से अधिक ग्राम व वाॅर्ड स्तर पर पल्स आॅक्सीमीटर उपलब्ध कराए गए हैं। इनका सदुपयोग कोरोना से निपटने में किया जाए। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री को सभी सी0एम0ओ0 से संवाद स्थापित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने चिकित्सा शिक्षा मंत्री को भी सभी मेडिकल काॅलेजों तथा संस्थानों से संवाद स्थापित करने के लिए कहा है।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में कल सर्वाधिक केजीएमयू द्वारा 3,977 टेस्ट किये गये। आईएमएस बीएचयू वाराणसी में 2395, एलएलआरएम मेडिकल काॅलेज मेरठ में 1942, एसजीपीजीआई लखनऊ में 2239, आरएमआरसी गोरखपुर में 1320, बीआरडी मेडिकल काॅलेज गोरखपुर में 1265, एमएलएनएमसी प्रयागराज में 1151, आरएमएलआईएमएस लखनऊ में 2188, एसएनएमसी आगरा में 1480, जीएसवीएम कानपुर में 1443, जीआईएमएस ग्रेटर नोएडा में 1103 तथा एसएसपीएचपीजीटीआई नोएडा में 1635 टेस्ट किये गये। उन्होंने बताया कि 15 मेडिकल काॅलेजों में स्थापित लैब में 1000 से अधिक टेस्ट प्रतिदिन किये जा रहे हैं।
श्री अवस्थी ने बताया कि दो दिवसीय अभियान में कुल 915 फायर ब्रिगेड की गाड़ियों द्वारा सम्पूर्ण प्रदेश में सेनेटाइजेशन का कार्य किया जा रहा है। इस कार्य में 55 मुख्य अग्निशमन अधिकारी, 53 एमएसओ (निरीक्षक रैंक), 84 एफएसएसओ (एसआई रैंक) तथा 4500 फायर मैन, लीडिंग फायर मैन को लगाया गया है। उन्होंने बताया कि इस अभियान के दौरान अब तक विभिन्न जनपदों में कुल 561 हाॅट स्पाॅट, 698 संवेदनशील स्थल, 1793 बाजार स्थल, लगभग 2000 आवासीय स्थल तथा 2006 अन्य स्थल कुल 7058 स्थानों पर सेनेटाइजेशन का कार्य युद्धस्तर पर किया गया है। उन्होंने बताया कि सोडियम हाइपोक्लोराइट सल्यूशन का छिड़काव आदमी, जानवर पर या घर के अन्दर (बिजली कनेक्शन होने के कारण) न किये जाने के निर्देश दिये गये हैं।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में वित्तीय गतिविधियां सुचारू रूप से संचालित हो रही हैं। विगत 01 जुलाई से 10 जुलाई के मध्य कुल 3.31 करोड़ ट्रांजेक्शन के माध्यम से 45,186 करोड़ रूपए का लेन-देन किया गया है। इसके अन्तर्गत बैंकिंग काॅरेस्पान्डेन्ट के माध्यम से 1.05 करोड़ ट्रांजेक्शन द्वारा 2827 करोड़ रूपए का लेन-देन, जबकि बैंक शाखाओं के माध्यम से 1.10 करोड़ ट्रांजेक्शन द्वारा 36,564 करोड़ रूपए का लेन-देन किया गया है। इसके अतिरिक्त एटीएम के माध्यम से 1.15 करोड़ ट्रांजेक्शन द्वारा 5794 करोड़ रूपए का ट्रांजेक्शन किया गया है। उन्होंने कहा कि इससे स्पष्ट होता है कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है।
श्री अवस्थी ने बताया कि गृह विभाग की धारा 188 के तहत 93,757 एफआईआर दर्ज करते हुये 2,34,173 लोगों को नामजद किया गया है। प्रदेश में अब तक 91,26,007 वाहनांे की सघन चेकिंग में 62,435 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 43,70,18,047 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 992 लोगों के खिलाफ 744 एफआईआर दर्ज करते हुए 355 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि फेक न्यूज के तहत अब तक 1786 मामलों को संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गई है। 12 जुलाई को कुल 14 मामले, जिनमें ट्विटर के 12, फेसबुक के 02 मामले को संज्ञान में लिया गया हंै तथा साइबर सेल को आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित किया गया। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 3775 हाॅट स्पाॅट के 856 थानान्तर्गत 9,46,796 मकानों के 54,10,775 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में कोरोना पाॅजीटिव लोगों की संख्या 11,809 है। इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाइन किये गये लोगों की संख्या 10,822 है। राशन कार्डों पर खाद्यान्न वितरण में उत्तर प्रदेश देश के अग्रणी राज्यों में है।
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। कल एक दिन में सर्वाधिक 39,623 सैम्पल की जांच की गयी। इस प्रकार कोविड-19 की जांच में 11 लाख का आकड़ा पार करते हुए प्रदेश में अब तक कुल 11,56,089 सैम्पल की जांच की गयी है। इससे प्रदेश कोरोना टेस्ट में देश के अग्रणी राज्यों में शामिल हो गया है। उन्हांेने बताया कि प्रदेश में कोरोना की टेस्टिंग 60 प्रतिदिन से बढ़कर आज लगभग 40 हजार प्रतिदिन हो गयी है जो 650 गुणा से अधिक है। उन्होंने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन एवं निर्देशन में ही प्रदेश में कोरोना टेस्टिंग क्षमता में बढ़ोतरी सम्भव हुई है।
श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में 12,208 कोरोना के मामले एक्टिव हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 23,334 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि पूल टेस्ट के अन्तर्गत कुल 2442 पूल की जांच की गयी, जिसमें 2098 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 344 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी। उन्होंने बताया कि 1,64,788 सर्विलांस टीम द्वारा 1,19,64,948 घरों के 6,11,43,056 लोगों का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप से अलर्ट जनरेट आने पर कन्ट्रोल रूम द्वारा निरन्तर फोन किया जा रहा है। अलर्ट जनरेट होने पर अब तक लगभग 2,01,167 लोगों को कंट्रोल रूम द्वारा फोन कर जानकारी प्राप्त की गयी। उन्होंने बताया कि सी0एम0 हेल्प लाइन से भी निरन्तर फोन किया जा रहा है।
श्री प्रसाद ने बताया कि अभियान चलाकर मेरठ मण्डल में 02 जुलाई से डोर-टू-डोर मेडिकल स्क्रीनिंग किया जा रहा है जो आज समाप्त होगा तथा 17 मण्डलों में 05 जुलाई से 15 जुलाई तक डोर-टू-डोर मेडिकल स्क्रीनिंग की जा रही है। उन्होंने बताया कि अब तक 5,88,759 सर्विलांस टीम द्वारा 2,51,94,708 घरों के 12,94,35,139 लोगों का सर्वेक्षण किया गया। उन्होंने बताया कि अन्य रोगों से ग्रसित जैसे शुगर के 8,48,593, उच्च रक्तचाप के 2,38,238, कैन्सर के 18,018, हृदय रोग केे 54,247 तथा किडनी के 16,879 रोगी पाये गये।

Related posts

राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुलायम सिंह यादव ने आज समाजवादी पार्टी मुख्यालय लखनऊ में 70वें स्वतंत्रता दिवस पर स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों का स्मरण और उनको नमन करते हुए ध्वजारोहण किया।

admin

मेंथा आयल की टंकी फटने से छह झुलसे

admin

मुख्यमंत्री ने विश्व जनसंख्या दिवस पर जागरूकता रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया

admin