डिफेन्स एक्सपो के सफल आयोजन में राज्य सरकार भरपूर सहयोग करेगी: सीएम – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » डिफेन्स एक्सपो के सफल आयोजन में राज्य सरकार भरपूर सहयोग करेगी: सीएम

डिफेन्स एक्सपो के सफल आयोजन में राज्य सरकार भरपूर सहयोग करेगी: सीएम

लखनऊ: केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह जी की अध्यक्षता में नई दिल्ली में आगामी माह फरवरी, 2020 में लखनऊ में प्रस्तावित 11वें डिफेंस एक्सपो के आयोेजन सम्बन्धी एपेक्स कमेटी की बैठक सम्पन्न हुई। इस बैठक में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी, केन्द्रीय रक्षा राज्यमंत्री श्रीपद येस्सो नाईक सहित रक्षा, रक्षा उत्पादन, डी0आर0डी0ओ0 सेना, एच0ए0एल0 के वरिष्ठ अधिकारीगण, उत्तर प्रदेष के मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना श्री अवनीश कुमार अवस्थी, प्रमुख सचिव पर्यटन श्री जितेन्द्र कुमार आदि ने प्रतिभाग किया।
इस अवसर पर अपने सम्बोधन में केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह जी ने कहा कि लखनऊ में प्रस्तावित डिफेन्स एक्सपो अब तक का सबसे बेहतरीन एक्सपो होगा। उन्होंने कहा कि योगी जी के नेतृत्व में जिस प्रकार उत्तर प्रदेष में इन्वेस्टर्स समिट एवं प्रवासी भारतीय दिवस का सफल आयोजन किया गया है, उसी प्रकार डिफेन्स एक्सपो भी शानदार तथा अब तक का सबसे अच्छा एक्सपो होगा। उन्होंने निर्देष दिये कि इस आयोजन के सम्बन्ध में रक्षा मंत्रालय एवं उत्तर प्रदेष सरकार के अधिकारीगण नियमित रूप से बैठकें करते रहें ताकि समयबद्ध तरीके से सभी कार्य पूरे हो सकें।
बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेष के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आष्वस्त किया कि डिफेन्स एक्सपो के सफल आयोजन में राज्य सरकार भरपूर सहयोग करेगी और जिस प्रकार सरकार ने इन्वेस्टर्स समिट, प्रवासी भारतीय दिवस एवं कुम्भ का सफलतापूर्वक आयोजन कराया है, उसी प्रकार डिफेन्स एक्सपो भी अब तक का सबसे अच्छा आयोजन होगा। उन्होंने कहा कि नोडल अधिकारीगण आपस में बेहतर संवाद स्थापित कर प्रक्रिया को आगे बढ़ायें। उन्होंने कहा कि माह के अंत तक रक्षा मंत्रालय को साइट उपलब्ध करा दी जायेगी। उन्होंने रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों से कहा कि मध्य अक्टूबर तक जो भी कार्यवाही की जानी है, प्रदेष सरकार को उपलब्ध करा दी जाये।
मुख्यमंत्री जी ने बताया कि प्रदेष में डिफेन्स काॅरीडोर के लिए 6 नोड चिन्हित हैं और लगभग 3000 एकड़ लैण्ड उपलब्ध है। डिफेन्स एक्सपो में जो भी निवेषक इच्छुक होंगे, उन्हें इस क्षेत्र की साइट विजिट करा दी जायेगी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा डिफेन्स एण्ड एयरोस्पेस पाॅलिसी लागू की जा चुकी है। उन्होंने विष्वास व्यक्त किया कि प्रस्तावित डिफेन्स एक्सपो भव्यतम तथा अब तक का सबसे अच्छा आयोजन होगा।
इससे पूर्व सचिव, रक्षा उत्पादन भारत सरकार द्वारा डिफेन्स एक्सपो-2020 की तैयारियों की प्रगति आख्या को प्रेजेन्टेषन के माध्यम से एपेक्स कमेटी के समक्ष प्रस्तुत किया गया। उन्होंने बताया कि लखनऊ में अगले साल 05 फरवरी से 8 फरवरी तक रक्षा उत्पादों का सबसे बड़ा मेला प्रस्तावित है। 11वें डिफेन्स एक्सपो इंडिया-2020 का आयोजन लखनऊ में किया जाएगा। डिफेन्स की थीम ‘भारत: उभरता हुआ रक्षा विनिर्माण केन्द्र’ रखा गया है। डिफेन्स सेक्टर में तेजी से उभरते उत्तर प्रदेष में आयोजित किए जाने वाले इस मेले में दुनियाभर के अत्याधुनिक हथियारों की प्रदर्षनी लगाई जायेगी। उन्होंने बताया कि डिफेन्स एक्सपो में दुनिया भर के रक्षा उद्योगों के प्रतिनिधि, रक्षा सामग्री निर्माण कंपनियों के साथ-साथ घरेलू कंपनियां भी हिस्सा लेंगी। यह प्रदर्षनी रक्षा क्षेत्र में निवेष के लिए उत्तर प्रदेष को उभरते हुए आकर्षक स्थल के रूप में स्थापित करेगी। उन्होंने बताया कि यह पहला मौका है जब लखनऊ डिफेन्स एक्सपो की मेजबानी करेगा, जिसमें बड़ी संख्या में विदेषी प्रतिनिधि शामिल होंगे। डिफेन्स एक्सपो में विदेषी व स्वदेषी कंपनियां अपने आधुनिक हथियारों का प्रदर्षन करेंगी। डिफेन्स एक्सपो भारतीय रक्षा उद्योग के लिए अपनी क्षमता व निर्यात की संभावनााओं के प्रदर्षन का बेहतरीन मौका होगा। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेष में रक्षा उद्योगों के लिए मजबूत आधारभूत ढांचा उपलब्ध है। यहाँ हिन्दुस्तान एयरोनाॅटिक्स लि0 की चार इकाइयां लखनऊ, कानपुर, कोरवा (अमेठी) व नैनी (प्रयागराज), नौ आयुध निर्माण इकाइयां व एक सार्वजनिक क्षेत्र का रक्षा उपक्रम भारत इलेक्ट्रानिक्स लि0 गाजियाबाद में स्थित है। इसके अलावा, उत्तर प्रदेष में प्रस्तावित डिफेंस इंडस्ट्रियल कारीडोर में आगरा, अलीगढ़, चित्रकूट, लखनऊ, झांसी एवं कानपुर को चिन्हित किया गया है। इन सभी 6 नोड्स के लिए 5071.19 हेक्टेयर भूमि प्रस्तावित है तथा सभी 6 नोड्स में चरणबद्ध तरीके से भूमि अधिग्रहण का कार्य प्रारम्भ किया जा चुका है। झांसी में 92.48 फीसदी भूमि, चित्रकूट में 89.41 फीसदी भूमि एवं अलीगढ़ में 100 फीसदी भूमि अधिग्रहीत की जा चुकी है। 43 डिफेंस इक्विप्मेन्ट निर्माणकर्ताओं द्वारा परियोजना में रूचि दिखाई गई है।

About admin