मनरेगा के तहत अब तक 26.14 करोड़ मानव दिवस सृजित करने का रिकॉर्ड बनाया

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश द्वारा मनरेगा के तहत अब तक लक्ष्य के सापेक्ष 26.14 करोड़ मानव दिवसों का सृजन किया गया है, जो एक रिकार्ड है।यूपी ने वित्तीय वर्ष के पहले छह महीनों में ही अपना वार्षिक लक्ष्य हासिल कर लिया है। कुल 2064636 अकुशल श्रमिकों को विभिन्न कार्यों से जोड़ा गया तथा 9901735 कुल रोजगार सृजित हुआ। कोरोना महामारी की चुनौतियां तथा काम के देर से आरम्भ होने के परिप्रेक्ष्य में यह उपलब्धि और भी महत्वपूर्ण हो जाती है।
यह जानकारी  आज यहां ग्राम्य विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री मनोज कुमार सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत, राज्य की 50856 ग्राम पंचायतों में काम शुरू किया गया था और गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत प्रदेश में लौटे प्रवासियों को विभिन्न कार्यों में जोड़ा गया है।
उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के दौरान वैश्विक महामारी के कारण दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में श्रमिकों की वापसी हुई। उत्तर प्रदेश सरकार ऐसे अकुशल श्रमिकों को रोजी-रोटी की व्यवस्था करने के लिए उन्हें मनरेगा योजना से जोड़ने का कार्य किया गया। इन श्रमिकांे का स्थानीय स्तर पर रोजगार देने के लिए अतिरिक्त मानव दिवस सृजित किया गया।

Related posts

एसिड अटैक पीडि़त भी समाजवादी पेंशन योजना में शामिल होंगे

समाजवादी सरकार बुनकरों, हस्तशिल्पियों तथा उद्यमियों को हर सम्भव सहायता पहुंचाने के लिए तत्पर: मुख्यमंत्री

सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए सरकारी बंगला किया खाली: बसपा सुप्रीमो मायावती