मनरेगा के तहत अब तक 26.14 करोड़ मानव दिवस सृजित करने का रिकॉर्ड बनाया

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश द्वारा मनरेगा के तहत अब तक लक्ष्य के सापेक्ष 26.14 करोड़ मानव दिवसों का सृजन किया गया है, जो एक रिकार्ड है।यूपी ने वित्तीय वर्ष के पहले छह महीनों में ही अपना वार्षिक लक्ष्य हासिल कर लिया है। कुल 2064636 अकुशल श्रमिकों को विभिन्न कार्यों से जोड़ा गया तथा 9901735 कुल रोजगार सृजित हुआ। कोरोना महामारी की चुनौतियां तथा काम के देर से आरम्भ होने के परिप्रेक्ष्य में यह उपलब्धि और भी महत्वपूर्ण हो जाती है।
यह जानकारी  आज यहां ग्राम्य विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री मनोज कुमार सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत, राज्य की 50856 ग्राम पंचायतों में काम शुरू किया गया था और गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत प्रदेश में लौटे प्रवासियों को विभिन्न कार्यों में जोड़ा गया है।
उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के दौरान वैश्विक महामारी के कारण दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में श्रमिकों की वापसी हुई। उत्तर प्रदेश सरकार ऐसे अकुशल श्रमिकों को रोजी-रोटी की व्यवस्था करने के लिए उन्हें मनरेगा योजना से जोड़ने का कार्य किया गया। इन श्रमिकांे का स्थानीय स्तर पर रोजगार देने के लिए अतिरिक्त मानव दिवस सृजित किया गया।

Related posts

प्रकृति की मार से बेहाल किसान को भी कुछ विपक्षी दल अपनी घटिया राजनीति का मोहरा बनाने से बाज नहीं आ रहे: प्रदेश प्रवक्ता

निःशुल्क आवासीय कोचिंग आदर्श पूर्व परीक्षा प्रशिक्षण केन्द्र अलीगंज का आकस्मिक निरीक्षण किया: मंत्री रमापति शास्त्री

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने परिवार के साथ सामान्य यात्रियों की तरह टिकट खरीदकर मेट्रो से यात्रा की