छत्रपति शिवाजी के नाम पर होगा आगरा का मुगल म्यूजियम: सीएम योगी आदित्यनाथ

Image default
उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि आगरा में निर्माणाधीन मुगल म्यूजियम, छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम स्थापित होगा. उन्होंने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार राष्ट्रवादी विचारों को पोषित करने वाली है. गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों को छोड़, राष्ट्र के प्रति गौरवबोध कराने वाले विषयों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है. हमारे नायक मुगल नहीं हो सकते. शिवाजी महराज हमारे नायक हैं.

सीएम योगी ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगरा मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे. मंडलायुक्त के साथ-साथ जनपद आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी और मथुरा के जिलाधिकारियों से जनपद में प्रस्तावित और जारी विभिन्न योजनाओं की प्रगति का विवरण लेते हुए मुख्यमंत्री पूरे ब्रज क्षेत्र में पेयजल की समस्या के निस्तारण के लिए जारी परियोजनाओं को शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए.

उन्होंने कहा कि शुद्ध पेयजल की सुविधा हर नागरिक का अधिकार है, इसके लिए हर आवश्यक कदम उठाए जाएं. मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा मेट्रो और एयरपोर्ट परियोजनाओं में कतई देरी न की जाए, अगर कहीं समस्या आ रही है तो तुरंत बताएं, जरूरत पड़ी तो केंद्र सरकार से भी बात की जाएगी. बीते दिनों जारी देश के स्मार्ट सिटीज की रैंकिंग में आगरा का स्थान पूरे देश में राष्ट्रीय स्तर पर तृतीय एवं उत्तर प्रदेश में घोषित स्मार्ट सिटी की सूची में प्रथम स्थान पर है. मुख्यमंत्री ने इस पर खुशी जाहिर करते हुए स्मार्ट सिटी परियोजना के कार्यों को जल्द से जल्द से पूरा करने के निर्देश दिए. आगरा में कोरोना मृत्यु-दर को कम करने के प्रयास तेज करने का उन्होंने निर्देश दिया.

ब्रज तीर्थ विकास की परियोजनाओं में न हो देरी

मथुरा जनपद की समीक्षा करते हुए CM योगी ने कहा कि ब्रज क्षेत्र भगवान श्रीकृष्ण की पुण्य लीलास्थली है. मथुरा, नंदगांव, बरसाने, वृंदावन में देश-दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत आवश्यक व्यवस्था की जाए. जो परियोजना चल रही हैं, उसे समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए. इस संबंध में धन की कमी नहीं होने दी जाएगी. मथुरा की सांसद हेमामालिनी ने छाता क्षेत्र में चीनी मिल, एक केंद्रीय विद्यालय और स्पोर्ट स्टेडियम के निर्माण को मांग की. जिसमें से चीनी मिल निर्माण कराने के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए.

विकास के पैसे का दुरुपयोग हुआ तो होगी वसूली

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास का पैसा जनता की गाढ़ी कमाई का है. इसके पाई-पाई का सदुपयोग सुनिश्चत होना चाहिए. पैसा जिस मद का है, अनिवार्य रूप से उसी में खर्च हो. अगर गड़बड़ी पाई गई तो वसूली भी कराई जाएगी. उन्होंने निर्देश दिया कि कार्यदायी संस्था के चयन से पूर्व उसकी क्षमता का आकलन जरूर करें. हर काम में गुणवत्ता सुनिश्चित होने के साथ ही काम समय से पूरा हो यह भी सुनिश्चित हो.

राजस्व संग्रह के लिए उठाएं जरूरी कदम

सीएम योगी ने कहा कि टैक्स से मिला पैसा ही विकास का आधार है. इसमें वृद्धि सुनिश्चित करें. डीएम हर पखवाड़े अलग-अलग विभागों की जीएसटी वूसली की समीक्षा करें. पंजीकरण की संख्या बढ़ाएं. जिनका पंजीकरण हुआ है कैंप लगाकर उनको रिटर्न दाखिल करने का प्रशिक्षण दें. कोरोना के नियंत्रण के लिए हर जिले में इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर को इस रूप में तैयार करें कि वह भविष्य में अन्य जरूरतों के लिए भी काम आए. मुख्यमंत्री ने मनरेगा के माध्यम से रोजगार दिवस सृजन पर जोर दिया. उन्होंने पीएम पैकेज के सदुपयोग पर जोर देते हुए आमजन को लाभान्वित करने के निर्देश दिए.

जनप्रतिनिधियों के प्रस्तावों पर तुरंत काम हो

मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाई गई समस्याओं का समुचित निस्तारण करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए. आगरा से विधायक महेश गोयल ने कन्या विद्यालय की स्थापना शीघ्र कराने का अनुरोध किया. आगरा के सांसद एसपी सिंह बघेल ने गिरते भूजल की समस्या का उल्लेख करते हुए यमुनापार क्षेत्र के समग्र विकास के लिए कार्ययोजना बनाने की जरूरत बताई. फिरोजाबाद से विधायक मनीष असीजा जी ने रामलीला मैदान से अवैध कब्जा समाप्त करने, कोविड टेस्टिंग लैब बनवाने सहित विविध कार्यों के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद कहा. सीएम ने ने जनपदों के प्रभारी मंत्रीगणों को जनपद की मासिक समीक्षा करने के निर्देश भी दिए. राज्यसभा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने अपराधियों पर सख्ती के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया. सोमवार को हुई समीक्षा बैठक में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा के अतिरिक्त राज्य मंत्री उदयभान मौजूद रहे.

सीएम ने दिए ये निर्देश

  • फिरोजाबाद मेडिकल कालेज और जनपद मैनपुरी के सैनिक स्कूल एवं राजकीय इंजीनियरिंग कालेज को देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में लाने के ठोस प्रयास हों. इनके भवन निर्माण के अवशेष निर्माण कार्य को शीघ्र पूर्ण किया जाए. धन की कमी नहीं होगी, पर गुणवत्ता में कमी स्वीकार्य नहीं की जाएगी.
  • आगरा में मुगल म्यूजियम ईस्टर्न गेट रोड परियोजना और ताज ओरिएंटेशन सेन्टर शिल्पग्राम परियोजना के अंतर्गत मल्टीलेबिल पार्किंग के निर्माण का कार्य तेजी से पूरा किया जाए.
  • फिरोजाबाद जिले में सीवरेज योजना का कार्य 98 प्रतिशत पूरा किया जा चुका है. इसकी गुणवत्ता परखी जाए. जन सुविधाओं के लिहाज से सीवरेज प्रबंधन शहरों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है.
  • भगवान श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा में धार्मिक पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं. वृन्दावन स्थित नदी के घाटों का विस्तार, नवीनीकरण एवं सुंदरीकरण की परियोजना पर्यटन को नवीन आयाम देगी. जनभावनाओं को समझते हुए इसे पूर्ण किया जाए.
  • ग्राम पंचायतों में जो ग्राम सचिवालय बनने हैं, उनके प्रस्ताव शीघ्र भेजे जाएं. गांवों के सामुदायिक शौचालयों के लिए ऐसी जगहों का चयन करें जहां उनका अधिकतम उपयोग हो.

दो साल में बदलेगी आगरा मंडल की सूरत

  • 50 करोड़ रुपये से अधिक धनराशि की आगरा में 11, मथुरा में 4, फिरोजाबाद में 5 व मैनपुरी में 2 सहित कुल 22 परियोजनाएं संचालित हैं. इनकी कुल राशि 6374.20 रुपये हैं, अब तक 4718.44 करोड़ रुपये जारी हो चुकी है.
  • आगरा जिले में गंगाजल परियोजना के माध्यम से वर्तमान में उच्च गुणवत्ता वाले गंगाजल की 350 एमएलडी स्वच्छ गंगाजल की आपूर्ति की जा रही है.
  • फिरोजाबाद जिले में जसराना नहर परियोजना का कार्य लगभग 99 प्रतिशत पूरा कर लिया गया है, जिसके माध्यम से नगर निगम फिरोजाबाद को फिरोजाबाद शहर के लिये 50 क्यूसेक पानी उपलब्ध कराया जा रहा है.
  • मथुरा जिले में सीवरेज एवं स्टोर्म वाटर ड्रेन समस्या के समाधान हेतु 3 परियोजनाएं संचालित हैं, जो जून 2021 तक पूर्ण कर ली जाएंगी.
  • आगरा स्मार्ट सिटी योजना सीएम योगी की प्राथमिकता में है. इस योजना में कुल कार्यों की संख्या 19 के सापेक्ष 4 कार्य पूर्ण किये जा चुके हैं. शेष 15 कार्य प्रगति पर हैं. इन परियोजनाओं को पूरा करने के लिए टाइमलाइन तैयार करा ली गई है.
  • स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत 24 घंटे पॉवर सप्लाई के लिये 62.4 किमी HDPI पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है और बचा हुआ कार्य तेजी से संचालित है. स्मार्ट सिटी योजनान्तर्गत सीवरेज व्यवस्था के लिये 1328 मेनहॉल के साथ 40 किमी डीडब्लूसी पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है जिसकी टेस्टिंग का कार्य प्रगति पर है.
  • स्मार्ट सिटी परियोजना में अत्याधुनिक कमांड एवं कन्ट्रोल सेन्टर के प्रथम फेज में 500 सीसीटीवी कैमरे, नगर वासियों की सुरक्षा एवं 200 सीसीटीवी कैमरे नगर के उपयुक्त स्थलों पर यातायात नियंत्रण के लिये स्थापित कराए गए हैं. साथ ही यातायात प्रबन्धन के तहत नगर के 40 चौराहों की निगरानी उच्च तकनीक के माध्यम उक्त सेन्टर द्वारा की जा रही है.
  • अमृत योजना के अंतर्गत जलापूर्ति के अंतर्गत आगरा मंडल के विभिन्न जनपदों में कुल 10 परियोजनाओं में से 05 परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं. पेयजल सुविधा के लिहाज से आने वाला समय अत्यंत सुखद होगा.

आत्मनिर्भर भारत का आधार है ODOP

स्थानीय स्तर पर रोजी-रोजगार उपलब्ध कराने और परंपरागत हुनर से जुड़े लोगों की बेहतरी के लिए ओडीओपी (एक जिला, एक उत्पाद) बेहद महत्वपूर्ण और महत्वाकांक्षी योजना है. सीएम ने कहा कि एक जिला एक उत्पाद आत्मनिर्भर भारत का आधार है. आगरा, मैनपुरी, फिरोजाबाद और मथुरा में लोग कुशल हैं, उन्हें नई तकनीक से जोड़ने की जरूरत है. TV9 भारतवर्ष

Related posts

सुरेश कुमार खन्ना ने गोमती नगर विस्तार में लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा संचालित कम्युनिटी किचन का किया निरीक्षण

किसानों को समय से उनके हिस्से का पानी उपलब्ध कराना सिंचाई विभाग की सर्वोच्च प्राथमिकता है

बचे हुये मदरसों को भी अनुदान सूची पर लिया जायेगा: आजम खाॅं