समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के कल्याण एवं विकास के लिए अनेकों योजनाएं चला रही सरकार: श्रम मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के कल्याण एवं विकास के लिए अनेकों योजनाएं चला रही सरकार: श्रम मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य

समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के कल्याण एवं विकास के लिए अनेकों योजनाएं चला रही सरकार: श्रम मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य

लखनऊः केन्द्र व प्रदेश की सरकार गरीबों, मजदूरों, किसानों व बेसहारा लोगों के हितों के लिए कार्य कर रही है। समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के कल्याण एवं विकास के लिए अनेकों योजनाएं चला रही है। असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं लघु व्यापारियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान कर इन्हें वृद्धावस्था में पेंशन देने के लिए प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना एवं प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना संचालित की गयी हैं। योजनान्तर्गत वर्तमान वित्तीय वर्ष में 25.50 लाख श्रमिकों का तथा 9.18 लाख व्यापारियों का पंजीकरण किया जाना है। अधिक से अधिक पात्र श्रमिकों एवं व्यापारियों को लाभान्वित करने के लिए 30 नवम्बर से 06 दिसम्बर 2019 तक पेंशन सप्ताह मनाया जा रहा है। इस दौरान 2.40 लाख श्रमिकों को पंजीकृत किया जाना है।

प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने आज यह बातें प्रेस को सम्बोधित करते हुए कही। श्री मौर्य आज श्रमिकों एवं लघु व्यापारियों के पंजीयन के लिए मा0 कांशीराम जी सांस्कृतिक स्थल (स्मृति उपवन) आशियाना, लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में पेंशन सप्ताह का शुभारम्भ किया। उन्होंने कहा कि योजनान्तर्गत पेंशन का लाभ लेने के लिए असंगठित कामगारों एवं लघु व्यापारियों को 18 से 40 वर्ष की आयु का होना चाहिए। कामगारों की वार्षिक आमदनी 1.80 लाख हो तथा व्यापारियों का वार्षिक कारोबार 1.5 करोड़ तक हो और ये ईपीएफ/एनपीएस/ईएसआईसी के सदस्य तथा आयकर दाता न हो, उन्हें 60 वर्ष की आयु पर 3000 रु0 मासिक पेंशन मिलेगी। इस योजना में जितना पैसा लाभार्थी जमा करेगा, उतना ही पैसा केन्द्र सरकार उसके खाते में जमा करेगी। आयु के अनुसार 55 रु0 से 200 रु0 तक जमा किया जाना है।

कार्यक्रम में उपस्थित श्रम एवं राज्य मंत्री श्री मनोहर लाल मन्नू कोरी ने पेंशन के लिए श्रमिकों एवं व्यापारियों को अधिक से अधिक पंजीकरण कराने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि योजनाओं का लाभ लेने तथा गरीबी से मुक्ति के लिए पंजीकरण जरूरी है। जिससे उनके खाते में उनके हक का पूरा पैसा भेजा जा सके। उन्होंने कहा कि श्रम विभाग श्रमिकों के बच्चों के जन्म से लेकर श्रमिक की मृत्यु तक में परिवार को आर्थिक सहायता देने के लिए योजनाएं चला रहा है।।

इस अवसर पर अध्यक्ष उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार राज्य परामर्शदात्री समिति श्री रघुराज प्रताप सिंह ने कहा कि ईश्वर देश के गरीबों, मजदूरों व किसानों के हृदय में विराजते हैं। ये वे लोग हैं जो महल बनाते हैं लेकिन उसमें रहने को नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि सभी श्रमिक भाई अपने-अपने बच्चों को खूब पढ़ाओ-लिखाओ ताकि वे भी डाॅक्टर, इंजीनियर और अधिकारी बन सकें और आपकी सामाजिक हैसियत बदल सकें। उन्होंने कहा कि केन्द्र व प्रदेश की सरकार पूरी तरह से आर्थिक मदद कर रही है। श्रमिकों की समस्याओं का समाधान किया जायेगा। वर्ष 2022 तक प्रदेश सरकार सभी गरीबों को पक्का मकान देगी।

प्रमुख सचिव श्रम एवं सेवायोजन श्री सुरेश चन्द्रा ने कहा कि 23 करोड़ आबादी वाले इस प्रदेश में 05 करोड़ असंगठित कर्मकार हैं। 50 लाख श्रमिक उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकृत हैं। पंजीकृत सभी श्रमिकों को 17 लोक कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। इन पेंशन योजना के तहत एक श्रमिक को 18 वर्ष 40 वर्ष के बीच कुल 27,200 रु0 जमा करना है और इतनी ही राशि केन्द्र सरकार इनके खाते में जमा करेगी।

इस कार्यक्रम में आदर्श व्यापार मण्डल लखनऊ के अध्यक्ष श्री संजय गुप्ता, उ0प्र0 व्यापारी कल्याण संघ के उपाध्यक्ष श्री मनीष गुप्ता, ईंट भट्ठा निर्माण संघ के अध्यक्ष श्री राजेश अग्रवाल तथा अपर श्रमायुक्त श्री बी0एन0 यादव के साथ विभागीय अधिकारी और जिला प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे।

About admin