मंगलायतन विश्वविद्यालय के संस्थापक पवन जैन के निधन पर शोक

उत्तराखंड

देहरादून: मंगलायतन विश्वविद्यालय के संस्थापक पवन जैन का गुरुवार को निधन हो गया। उनके निधन का समाचार प्राप्त होते ही विश्वविद्यालय में शोक की लहर फैल गई। जैन के निधन पर विश्वविद्यालय परिसर में शोक सभा का आयोजन किया गया। सभी अधिकारियों, शिक्षकों व विद्यार्थियों ने दो मिनट मौन रखकर उनकी आत्मा की शांति के लिए भगवान से प्रार्थना की।

मंगलायतन विश्वविद्यालय के चेयरमैन हेमंत गोयल ने विवि के संस्थापक चेयरमैन पवन जैन के निधन पर गहरी संवेदनाएं व्यक्त की और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए तथा इस कठिन समय में परिवार जनों को शक्ति और साहस प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।

कुलपति प्रो. केवीएसएम कृष्णा ने कहा कि ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में स्थान प्रदान करे। इस दुःख की घड़ी में पूरा विश्वविद्यालय परिवार विश्वविद्यालय के संस्थापक पवन जैन के परिजनों के साथ है और उनके प्रति सच्चे मन से अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता है। जैन उद्योगपति और पत्रकार होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। उन्होंने कहा कि पवन जैन दूरद्रष्टा और हम सभी के प्रेरणास्रोत थे।

कुलसचिव ब्रिगेडियर समर वीर सिंह ने कहा कि पवन जैन के निधन के समाचार से मैं स्तब्ध हूँ। वह समाज के लिए एक प्रेरणा के स्वरुप हैं। परीक्षा नियंत्रक प्रो. दिनेश शर्मा ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया। प्रशासनिक अधिकारी गोपाल सिंह राजपूत, प्रो. जयंती लाल जैन, प्रो. उल्लास गुरुदास, प्रो. सिद्धार्थ जैन, मयंक जैन आदि शिक्षकों ने शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की।

Related posts

न्यू कैंट रोड स्थित मुख्यमंत्री आवास पर भूतपूर्व सैनिक एवं अर्द्ध सैनिक बलों के साथ आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर मुख्यमंत्री हरीश रावत

भाजपा के प्रतिनिधियों ने भाजपा महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अग्रवाल के नेतृत्व में सीएम से भेंट की

ट्यूलिप की 13 प्रजातियों का रोपण करते हुएः सीएम पुष्कर सिंह धामी