शतरंज: ऑनलाइन ओलम्पियाड में रूस के साथ संयुक्त चैम्पियन बना भारत, PM मोदी ने दी बधाई

Image default
मनोरंजन

चेन्नई : भारत और रूस के बीच रविवार को ऑनलाइन शतरंज ओलम्पियाड में खेला गया फाइनल नाटकीय अंदाज में खत्म हुआ और शतरंज की वैश्विक संस्था-फिडे ने दोनों देशों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित कर दिया।

फिडे ने ट्वीट किया, “फिडे के अध्यक्ष आकार्डी वोरकोविच ने दोनों टीमों को ऑनलाइन शतंरज ओलम्पियाड में स्वर्ण पदक देने का फैसला किया है।”

शतरंज ओलंपियाड में इतिहास रच दिया

भारत ने रविवार को शतरंज ओलंपियाड में इतिहास रच दिया। ऑनलाइन हुए शतरंज ओलंपियाड में भारत पहली बार विजेता बना है। हालांकि भारत को रूस के साथ संयुक्त रूप से विजेता चुना गया है। दरअसल, रूस के खिलाफ खेला जा रहा फाइनल मुकाबला इंटरनेट कनेक्शन टूटने के बाद पूरा नहीं हो सका। जिसके कारण भारत और रूस को संयुक्त रूप से विजेता चुना गया।

रूस के खिलाफ देश का प्रतिनिधित्व किया

यह पहली बार है जब FIDE, अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ, ने ऑनलाइन प्रारूप में ओलंपियाड का आयोजन करवाया है। इस दौरान भारतीय टीम में कप्तान विदित गुजराती, पूर्व विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद, कोनेरू हंपी, डी हरिका, आर प्राग्गनानंद, पी हरिकृष्णा, निहाल सरीन और दिव्या देशमुख द्वारा फाइनल मुकाबले में रूस के खिलाफ देश का प्रतिनिधित्व किया गया।

जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बधाई दी

भारत की इस जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बधाई दी है। पीएम मोदी ने बधाई देते हुए कहा है कि शतरंज ओलंपियाड जीतने पर हमारे शतरंज खिलाड़ियों को बधाई। उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण सराहनीय है। उनकी सफलता निश्चित रूप से अन्य शतरंज खिलाड़ियों को प्रेरित करेगी। मैं रूसी टीम को भी बधाई देना चाहूंगा।

सर्वर में समस्या के कारण लॉग आउट हो गए

भारतीय टीम के नॉन प्लेइंग कप्तान श्रीनाथ नारायण ने कहा, “हमें फिडे की तरफ से बताया गया है कि दूसरे मैच के दौरान हमारी तीन खिलाड़ी- के. हम्पी, निहाल सरीन और दिव्या देशमुख सर्वर में समस्या के कारण लॉग आउट हो गए थे।” उन्होंने कहा, “हमने एक निष्पक्ष समाधान के बारे में कहा था- इन तीनों गेमों के रिप्ले को।”

भारत ने फिर अपील की

भारत ने फिर अपील की। फिडे ने ट्वीट किया, “शतरंज ओलम्पियाड फाइनल के दूसरे मैच में दो भारतीय खिलाड़ियों निहाल सरीन और दिव्या देशमुख का गेम के दौरान कनेक्शन टूट गया था और समय चला गया। भारत ने आधिकारिक तौर पर अपील की। इसकी अब जांच की जा रही है।”

समस्या चेस डॉट कॉम के कारण थी

भारत ने यह कहते हुए अपील की है कि यह समस्या चेस डॉट कॉम के कारण थी। पहला मैच 3-3 के स्कोर पर खत्म हुआ, जिसमें सभी छह मैच ड्रॉ रहे। भारत की हम्पी और रूस की कैटेरीना लागुओ का मैच शानदार रहा। 41वीं चाल पर हालांकि हम्पी जीत का मौका गंवा बैठीं और गेम ड्रॉ रहा। बाकी के गेम भी ड्रॉ रहे।

रूस ने तीन बदलाव किए

दूसरे मैच में भारत ने हरिकृष्णा और प्रागानंदन के स्थान पर विश्वनाथन आनंद और निहाल सरीन को उतारा। रूस ने तीन बदलाव किए। डेनिल डुबोव, आंद्रे स्पेंको और एलेक्ड्रा गोरीयाचकीना को उतारा और सारना, अर्टीमेव और लागुओ को उतारा। दूसरे मैच में पहला गेम विदित गुजराती और डुवोव के बीच था, जिसका परिणाम ड्रॉ रहा। इसके बाद हरिका और आनंद ने भी ड्रॉ खेला।
-आईएएनएस

Related posts

अनन्या पांडे ने एक अवार्ड फंक्शन में ‘राइजिंग स्टार’ अवार्ड किया अपने नाम!

भारतीय सिनेमा की सबसे महत्वपूर्ण और चर्चित फिल्म होगी आर्टिकल 15: आयुष्मान खुराना

एक्ट्रेस अदा शर्मा ने शेयर किया एक डांस वीडियो, लोगों ने कुछ घंटो में 6 लाख बार देखा