आजम खान, उनकी पत्नी और बेटे को 2 मार्च तक जेल भेजा गया – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » आजम खान, उनकी पत्नी और बेटे को 2 मार्च तक जेल भेजा गया

आजम खान, उनकी पत्नी और बेटे को 2 मार्च तक जेल भेजा गया

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान, उनकी पत्नी तंजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम को कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया गया है. सभी को 2 मार्च तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

आजम के खिलाफ अदालत ने कुर्की वारंट जारी कर दिए थे. यह वारंट अब्दुल्ला आजम के दो बिर्थ सर्टिफिकेट बनवाने से संबंधित मुकदमे में जारी किए गए थे. बुधवार को इस मामले में आजम, उनकी पत्नी व रामपुर से विधायक तंजीन फातिमा और बेटे ने सरेंडर कर दिया.

आजम खान पर क्या है आरोप?

सांसद आजम खान और उनकी विधायक पत्नी और बेटे के कोर्ट में सरेंडर के बाद कचहरी परिसर की सुरक्षा बढ़ा दी गई. जिले के सभी SP नेता और पदाधिकारी कचहरी में जमे रहे. इस दौरान सभी गेट पर हर आने-जाने वाले की तलाशी ली गई.

कोर्ट ने मंगलवार को तीनों के कुर्की वारंट के साथ ही गिरफ्तारी के लिए गैर जमानती वारंट भी जारी किए थे. यह मुकदमा बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने पिछले साल दर्ज कराया था, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया कि अब्दुल्ला के दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाए गए हैं. एक जन्म प्रमाण पत्र रामपुर से तो दूसरा लखनऊ से जारी किया गया है.

राम औतार सिंह सैनी, एडवोकेट “मुनादी के बाद भी हाजिर न होने पर कोर्ट ने सांसद आजम, विधायक डॉ. तंजीन और बेटे अब्दुल्ला आजम की संपत्ति कुर्क करने के आदेश दिए हैं. मामला अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाणपत्र होने का है.”

बता दें कि बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने अब्दुल्ला के साथ ही उनके पिता आजम खान और मां डॉ. तंजीन फातिमा को भी मुकदमे में नामजद किया था.आरोप लगाया गया कि इन दोनों ने जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के लिए झूठे शपथ पत्र लगाए. अदालत ने इस मामले में पहले भी आजम खान के खिलाफ कुर्की के नोटिस जारी किए थे. तब पुलिस ने आजम खान के मोहल्ले में मुनादी कराई थी, लेकिन इसके बाद भी वह कोर्ट में हाजिर नहीं हुए.

बरेली जेल में लाए जा सकते हैं आजम

SP रामपुर ने कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका जताई है. उन्होंने कहा है कि आजम को रामपुर जेल की जगह किसी अन्य जिले की जेल में रखा जाए.

आजम खान मुरादाबाद और बरेली जेल में लाए जा सकते हैं. इसे लेकर जेल प्रशासन भी चौकन्ना हो गया है. अधिकारी पल-पल की जानकारी ले रहे हैं. मुरादाबाद मंडल के सभी आला अधिकारी भी सतर्क हो गए हैं. Source The Quint

About admin