‘कन्या विवाह सहायता योजना’ के तहत निर्माण श्रमिक पुत्री सामूहिक विवाह समारोह कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुएः सीएम – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » ‘कन्या विवाह सहायता योजना’ के तहत निर्माण श्रमिक पुत्री सामूहिक विवाह समारोह कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुएः सीएम

‘कन्या विवाह सहायता योजना’ के तहत निर्माण श्रमिक पुत्री सामूहिक विवाह समारोह कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुएः सीएम

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि श्रमिकों के बच्चों और अनाथ बच्चों को पढ़ाने के लिये वित्तीय वर्ष 2020-21 के बजट के माध्यम से प्रदेश के 18 मण्डलों में 18 अटल आवासीय विद्यालयों की स्थापना की कार्यवाही की जा रही है। इनमें अटल आवासीय विद्यालय कोरई, तहसील किरावली आगरा को भी स्वीकृति दी गई है। अब श्रमिक भी अपने बच्चों को अटल आवासीय विद्यालय में भर्ती करवाकर शिक्षा प्रदान करवा सकेंगे। श्रमिक भाई, बच्चों की शिक्षा के सम्बन्ध में चिन्तामुक्त रहकर राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दे सकेंगे।
मुख्यमंत्री जी ने आज यह विचार जनपद आगरा में उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा संचालित ‘कन्या विवाह सहायता योजना’ के अन्तर्गत निर्माण श्रमिक पुत्री सामूहिक विवाह समारोह कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम समाज केे अन्तिम पायदान पर बैठे उस व्यक्ति को, जो राष्ट्र निर्माण में के लिए कार्य करता है, उसको सम्मान देने का कार्यक्रम है। सामूहिक विवाह कार्यक्रम में कुल 1260 जोड़ों का विवाह सम्पन्न हुआ, जिसमें 35 अल्पसंख्यक (मुस्लिम समुदाय) के जोड़े भी शामिल हुये। उन्होंने इस अवसर पर 05 जोड़ों को विवाह प्रमाण-पत्र भी दिये।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि श्रमिक राष्ट्र निर्माता है। जब वह पसीना बहाता है, मेंहनत करता है और अपने पुरूषार्थ का परिचय देता है, तब हम लोगों को एक अच्छी सड़क मिल पाती है। अच्छी सुविधा मिल पाती है। अच्छे मकान मिल पातें हंै। कोई भी अच्छा कार्य श्रमिकों के परिश्रम व पुरूषार्थ पर निर्भर करता है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज 1,260 जोड़े दाम्पत्य जीवन में बंध करके एक नये जीवन में प्रवेश कर रहें हैं। उन्होंने उन सभी कन्याओं को ह्दय से बधाई देते हुए उन सब के सफल दाम्पत्य जीवन की ईश्वर से कामना की। इसके लिये उन्होंने श्रम एवं सेवायोजन विभाग को बधाई दी। उन्होंने कहा कि श्रम एवं सेवायोजन विभाग द्वारा प्रत्येक कन्या की शादी के लिये रू0 75 हजार रुपए खर्च किये जा रहें हैं, जिसमें 65 हजार रू0 पंजीकृत श्रमिक के खाते में जमा होते हैं तथा 05-05 हजार रू0 वर व वधू के लिये प्रदान कि जाते हैं। यह एक अच्छा प्रयास है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ढ़ाई वर्ष पहले राज्य सरकार द्वारा गरीब कन्याओं की शादी के लिये मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया था। प्रदेश के अन्दर विगत् ढ़ाई वर्ष में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत अब तक एक लाख कन्याओं का विवाह सम्पन्न हुआ है। उन्होंने बताया कि श्रम मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्या के अनुसार निर्माण इकाइयों से जुडे़ हुए पंजीकृत श्रमिकों की 20 हजार पुत्रियों की शादियाँ पिछले दिनों सम्पन्न हुई हैं।
इस अवसर पर प्रदेश के श्रम मंत्री श्री स्वामी प्रसाद मौर्या, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (राज्य मंत्री) चैधरी उदयभान सिंह, समाज कल्याण (राज्य मंत्री) डाॅ0 गिर्राज सिंह धर्मेश, जनप्रतिनिधिगण एवं शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

About admin