उप्र खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा 27957 लोगों को रोजगार से जोड़कर 135 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल की गई: डा0 नवनीत सहगल

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम(पीएमईजीपी) के अन्तर्गत 135 प्रतिशत की उपलब्ध हासिल कर देश में पहला स्थान प्राप्त किया गया है। गत वित्तीय वर्ष में बोर्ड द्वारा 27957 व्यक्तियों को स्वरोजगार से जोड़ा गया।
यह जानकारी अपर मुख्य सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डा0 नवनीत सहगल ने दी। उन्होंने बताया कि गत वित्तीय वर्ष में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत रोजगार सृजन का लक्ष्य 20576 निर्धारित किया गया था, जिसके सापेक्ष 2363 इकाइयांे को 8175.04 लाख रुपये का ऋण वितरित कराकर 27957 लोगों को रोजगार के अवसर सुलभ कराये गये।
डा0 सहगल ने बताया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत गुजरात को दूसरा और महाराष्ट्र को तीसरा स्थान मिला है। उन्होंने बताया कि यह उपलब्धि उत्तर प्रदेश को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल मार्गदर्शन से प्राप्त हुई है। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के माध्यम से सूक्ष्म श्रेणी की इकाइयों की स्थापना खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा कराकर रोजगार के अवसर सृजित किये गये हैं। इस योजना का क्रियान्वयन देश के सभी प्रदेशों में गठित खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा प्रभावी रूप से किया जा रहा है। इसमें उत्तर प्रदेश ने सर्वश्रेष्ठ प्रबंधन सुनिश्चित कर रोजगार सृजन को विशेष प्रमुखता प्रदान की है। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का संचालन केन्द्र सरकार द्वारा किया जा रहा है। जिसके माध्यम से सूक्ष्म श्रेणी की इकाइयों की स्थापना कराकर बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने का प्राविधान किया गया है।

Related posts

खादी महोत्सव में अब तक 2.25 करोड़ रुपये की बिक्री

लोक निर्माण मंत्री ने जिला सहकारी बैंक लिमिटेड की मुख्य शाखा के भवन का शिलान्यास किया -श्री शिवपाल सिंह यादव

सड़क दुघर्टना में पाॅच लोगों की मृत्यु