मदन कौशिक ने कहा कि पर्सनलाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम और रोपवे परियोजना का उद्देश्य हरिद्वार में एक ऐसी सरल ,सुगम यातायात प्रणाली को स्थापित करना – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तराखंड » मदन कौशिक ने कहा कि पर्सनलाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम और रोपवे परियोजना का उद्देश्य हरिद्वार में एक ऐसी सरल ,सुगम यातायात प्रणाली को स्थापित करना

मदन कौशिक ने कहा कि पर्सनलाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम और रोपवे परियोजना का उद्देश्य हरिद्वार में एक ऐसी सरल ,सुगम यातायात प्रणाली को स्थापित करना

हरिद्वार/देहरादून: प्रदेश के शहरी विकास एवं आवास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि पर्सनलाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम और रोपवे परियोजना का उद्देश्य हरिद्वार में एक ऐसी सरल ,सुगम यातायात प्रणाली को स्थापित करना है, जिससे पर्यटक यात्री हरिद्वार दर्शन का लाभ ले सके। उन्होंने कहा कि यह परियोजना हरिद्वार जनपद के लिए बड़ी सौगात है तथा 40 वर्ष पूर्व शुरु की गई मंसा देवी और चण्डी देवी रोप वे परियोजना के बाद यह परियोजना हरिद्वार जनपद के लिये मील का पत्थर साबित होगी। इसके अतिरिक्त ऋषिकेश में भी गंगा जी के आर-पार रोपवे परियोजना चलाई जायेगी।
सीसीआर में दिल्ली मेट्रो रेल कारर्पोरेशन के अधिकारी, उषा ब्रेकों कम्पनी के अधिकारी द्वारा पर्सनलाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम कॉरिडोर और रोपवे को लेकर पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन दिया दिया गया। पर्सनालाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम कॉरिडोर 8 किमी हर की पैड़ी से सीतापुर ,ज्वालापुर तक 11 स्टेशन के लिये चलाई जायेगी। यह बैट्री से  चलने वाला लेजर गाइडेड सिस्टम है जो एक पाड सिस्टम या कार की तरह है, जिसमें 6 यात्री बैठक सकते हैं। 5 मीटर की रेडियस में चलने वाले इस परियोजना का रख रखाव खर्च बहुत कम है। भारत में पहली पॉड टैक्सी का संचालन हरिद्वार में किया जाएगा।
उषा ब्रेकों वॉइस प्रेजिडेंट डॉ तरुण सिंघल प्रोजेक्ट जे पी सिंह, रोप वे को प्रेजेंट किया तथा दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के डायरेक्टर बिजिनेस डेवलपमेंट सोम दत्त शर्मा पर्सनालाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम को प्रेजेंट किया।
पर्सनालाइज्ड रैपिड ट्रांजिट सिस्टम और रोपवे परियोजना को दिल्ली मेट्रो रेल कारर्पोरेशन बनाएगी। इस संदर्भ में आज सरकार की तरफ से मंत्री मदन कौशिक और दिल्ली मेट्रो रेल कारर्पोरेशन के बीच अनुबन्ध पत्र पर हस्ताक्षर किया गया। आज से 4 माह के भीतर में अध्ययन कर इस परियोजना का डीपीआर तैयार किया जाएगा।

About admin