सहारनपुर मण्डल में एल-2 व एल-3 अस्पतालों का निर्माण शीघ्र कराया जाए: सीएम

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सहारनपुर मण्डल के जनपदों मंे एल-2 व एल-3 अस्पतालों का निर्माण शीघ्र कराने के निर्देश दिए हैं। आर0टी0पी0सी0आर0 जांच की लैब का मण्डल मुख्यालय पर यथाशीघ्र निर्माण कराया जाए, जिससे आगामी दिनों में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थानीय स्तर पर जांच हो सके। उन्होंने कहा कि डोर-टू-डोर सर्वे, काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग और टेस्ट की संख्या को बढ़ाया जाए। कोरोना को मात देने केे लिए हमें एकजुट होकर इसका मुकाबला करने की जरूरत है। उन्होंने कोविड-19 के मरीजों को तत्काल उपचार उपलब्ध कराने के लिए अलग से एम्बुलेंस रखने के निर्देश दिए। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि कानून व्यवस्था की स्थिति को बेहतर करने के लिए पुलिस पेट्रोलिंग व्यवस्था को और अधिक चुस्त-दुरूस्त बनाया जाए।
मुख्यमंत्री जी आज जनपद सहारनपुर के सर्किट हाउस में कोविड-19 के सम्बन्ध में सहारनपुर मण्डल में किये गये चिकित्सा उपायों एवं प्रशासनिक कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एस0जी0पी0जी0आई0, के0जी0एम0यू0 व डाॅ0 राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के चिकित्सकों से समन्वय करते हुए मण्डल में एल0-2 तथा एल-3 कोविड अस्पताल स्थापित कराए जाएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि एल-2 अस्पतालों में समुचित मात्रा में आॅक्सीजन की उपलब्धता के साथ-साथ वेंटीलेटर क्रियाशील रहेें। एल-3 कोविड अस्पतालों में आई0सी0यू0 में बेड््स की पर्याप्त संख्या रखी जाए। समुचित व्यवस्थाओं के साथ ही डायलिसिस मशीनों की भी व्यवस्था रखी जाए। कोविड-19 संक्रमण की तीव्रता अधिक है, इसका लक्षण के आधार पर उपचार होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हर जनपद में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर प्रभावी ढंग से संचालित किए जाएं।
मुख्यमंत्री जी ने मण्डल के  तीनों जनपदों के सी0एम0ओ0 से एम्बुलेंस की उपलब्धता की जानकारी के दौरान निर्देश दिए कि कोविड और नाॅन कोविड एम्बुलेंस अलग-अलग होनी चाहिए। कुल उपलब्ध एम्बुलेंसों की आधी एम्बुलेंस का उपयोग कोविड-19 के मरीजों के लिए होना चाहिए। ‘108’ व अन्य एम्बुलेंस में प्रशिक्षित टेकनीशियन होने चाहिए। आॅक्सीजन की हर समय उपलब्धता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में हमें कोविड-19 संक्रमण के साथ संचारी रोगों से भी लड़ना है। इसके लिए स्थानीय स्तर पर आई0एम0ए0 व नर्सिंग होमों से समन्वय स्थापित कर सहयोग लेना चाहिए। कोविड-19 के अस्पतालों की साफ-सफाई पर समुचित ध्यान रखा जाना चाहिए। मरीजों की बेड शीट प्रतिदिन बदलवाई जाए। मनोरंजन के लिए एक टी.वी. व समाचार पत्रों की भी व्यवस्था की जाए। हमारा ध्येय होना चाहिए कि कोई भी मरीज बिना इलाज के न रहने पाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कोविड-19 अस्पतालों में वरिष्ठ चिकित्सक भी प्रतिदिन राउण्ड लें। मरीजों के परिजनों को प्रतिदिन रोगियों के स्वास्थ्य की जानकारी उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि कोविड-19 वाॅर्ड में सी0सी0 टी0वी0 कैमरे लगाये जायें।
मुख्यमंत्री जी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड-19 से लड़ने के लिए सी0एम0ओ0, ए0सीएम0ओ0 तथा डिप्टी सी0एम0ओ0 के बीच काम का वितरण कर, उन्हें अलग-अलग जिम्मेदारी सौंपी जाए। मरीजों के सम्बन्ध में पूरी जानकारी इनके पास उपलब्ध होनी चाहिए। हर कोविड-19 मरीज की केस हिस्ट्री की भी जानकारी इनके पास होनी चाहिए। होम आइसोलेशन वाले मरीजों से प्रतिदिन उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली जाए। ऐसे मरीजों को पल्स आॅक्सीमीटर रखने की सलाह के साथ ही, प्रतिदिन आॅक्सीजन स्तर का विवरण अंकित किया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए जनता को जागरूक किया जाए।
मुख्यमंत्री जी ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि पुलिस पैट्रोलिंग में तेजी लायी जाए। अपराधियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही करें। मास्क न लगाने वालों पर जुर्माना किया जाए। कन्टेनमेंट जोन में होमगार्ड््स, पी0आर0डी0, एन0सी0सी0 तथा सिविल डिफेंस कर्मियों की सेवाएं प्राप्त की जाएं। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त करने के कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाशत नहीं होगी। पुलिस कर्मी ड्यूटी के दौरान दस्ताने व मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें। उन्होंने कहा कि इस वैश्विक महामारी के समय हमें पुलिस व अपने कोरोना वाॅरियर को बचा कर रखना है।
मुख्यमंत्री जी ने शनिवार व रविवार को कोविड-19 तथा संचारी रोगों से लड़ने के लिए विशेष स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन अभियान को पूरी गति से संचालित करने के निर्देश दिए। ग्रामीणों को संचारी रोगों से जानकारी देने के साथ ही, शुद्ध पेयजल के सम्बन्ध में भी जानकारी दी जाए। उन्होंने कहा की खाद्यान्न वितरण में पारदर्शिता बरती जाए तथा वितरण में जनप्रतिनिधियों की भी मदद ली जाए।
इस अवसर पर कृषि मंत्री एवं जनपद के प्रभारी मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही, गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग मंत्री श्री सुरेश राणा, नोडल अधिकारी एवं प्रमुख सचिव उद्यान श्री बी.एल. मीणा, मण्डलायुक्त श्री संजय कुमार, पुलिस उपमहानिरीक्षक श्री उपेन्द्र कुमार अग्रवाल, जिलाधिकारी सहारनपुर श्री अखिलेश सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एस. चेनप्पा सहित स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Related posts

मुख्यमंत्री से सामाजिक कार्यकर्ता श्री योगेन्द्र यादव ने भेंट की

असलहा तस्कर गिरफ्तार, 11 तमंचे, अधबने तमंचे व उपकरण बरामद

थाना नकुड़ क्षेत्र में 5000 रूपये का पुरस्कार घोषित अपराधी गिरफ्तार