अफसरों के साथ शहर की खराब सड़कों का ब्रजेश पाठक ने किया निरीक्षण

Image default
उत्तर प्रदेश

लखनऊः कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के बाद विधायी एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक लोगों की परेशानियों को दूर करने के लिए शुक्रवार को सड़क पर उतरे। उन्होंने राजधानी की जर्जर सड़कों का निरीक्षण किया। सड़कों की हालत से परेशान लोगों से बातचीत की और जल्द से जल्द उन्हें समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। जर्जर सड़क और जनता के लिए परेशानी बने गड्ढे देख कानून मंत्री ने अधिकारियों को फटकार लगाई। उन्होंने अफसरों को १५ जुलाई तक खराब सड़कों की स्थिति सुधारने के निर्देश दिये।
विधायी एवं न्याय मंत्री ने एलडीए, नगर निगम, जल निगम के अधिकारियों से सख्त लहजे में कहा कि सड़क निर्माण में बरती गई लापरवाही बिलकुल बर्दाशत नहीं की जाएगी। बरसात में लोगों को समस्या न हो इसके लिये उन्होंने अधिकारियों को तत्काल गड्ढों को भरने और जर्जर हो चुकी सड़कों का पैच वर्क जल्द पूरा कराने के भी निर्देश दिये। इससे पहले सुबह निरीक्षण पर निकले कानून मंत्री को प्रमुख क्षेत्रों में सड़क पर गड्ढे दिखाई दिये। उनके साथ एलडीए, नगर निगम, जल निगम के अधिकारी भी मौजूद रहे। कैसरबाग, लालबाग, अमीनाबाद, वजीरगंज, हजरतगंज और हुसैनगंज समेत विभन्न स्थलों पर उनको सड़क पर गड़ढे नजर आए।
स्मार्ट सिटी सीवरेज योजना के तहत लखनऊ के कैसरबाग, लालबाग, अमीनाबाद, वजीरगंज, हजरतगंज आदि पुराने लखनऊ के क्षेत्रों में चल रहे कार्यों को उन्होंने समय पर पूरा किये जाने के निर्देश दिये। 208 करोड़ के प्रोजेक्ट से निर्मित हो रही योजना से 1 लाख 92 हजार 740 की आबादी को सीवर लाइन पड़ जाने से फायदा मिलने वाला है। जिसका कई दशकों से लखनऊ की जनता को इंतजार था। अधिकारियों ने मंत्री को बताया कि योजना का 63 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और दिसम्बर 2021 तक काम पूरा करने का लक्ष्य है। कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने संबंधित जल निगम के अधिकारियों को समय से काम पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने जल निगम के अधिकारियों से कहा कि बरसात का मौसम शुरू होने वाला है ऐसे में निर्माण कार्य के दौरान जनता को समस्या नहीं आनी चाहिये इसका भी ध्यान रखा जाए।
निरीक्षण में नगर आयुक्त अजय द्विवेदी, जल निगम महाप्रबंधक आरके अग्रवाल, जल निगम के अधिशासी अभियंता पीयूष मौर्या, जल निगम के परियोजना प्रबंधक रोहित गुप्ता, जल निगम के सहायक अभियंता हरेन्द्र सिंह, जल निगम के अवर अभियंता मुनीश अली, जल निगम के अवर अभियान मलखान सिंह मौजूद रहे।

Related posts

जल्द ही लोक निर्माण विभाग सेतु निगम व राजकीय निर्माण निगम के ठेकों में होगा आरक्षण का प्राविधान

आलिया स्तर के स्थायी मान्यता प्राप्त 75 मदरसों को अनुदान सूची पर लिया गया

कोविड की वैक्सीन आने पर उसे रखने के लिए कोल्ड चेन तथा वैैक्सीनेटरों के प्रशिक्षण की व्यवस्था करने की कार्यवाही चल रही