जिला उद्योग मित्र समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए: जिलाधिकारी

उत्तराखंड

देहरादून: जिलाधिकारी रविनाथ रमन ने आज कलैक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला उद्योग मित्र समिति की बैठक की अध्यक्षता करते कहा, कि उद्योग आर्थिकी उन्नयन का सशक्त साधन है अतः सम्बन्धित अधिकारी उद्योग बन्धुओं की समस्याओं को समयबद्धता एवं गम्भीरता से हल करें। उन्होने अधिकारियों को उद्योग मित्रों की समस्याओं का समय सीमा के अन्तर्गत निस्तारण करने तथा शासन स्तर के प्रकरणों पर उनकी ओर से पत्र व्यवहार करने के साथ ही सम्बन्धित जानकारी से उद्योग मित्रों को भी अवगत कराने के निर्देश दिये।जिलाधिकारी ने बैठक में प्रतिभाग न करने वाले अधिकारियों जिनमें विद्युत, अग्रणी बैंक के अधिकारी परियोजना प्रबन्धक उरेडा शामिल है का जवाब-तलब करने के निर्देश महाप्रबन्धक उद्योग को दिये। औद्योगिक क्षेत्र में 2 नये हेण्डपम्प लगाने एवं भूखण्ड संख्या एफ-42 यू.पी.एस.आई.डी.सी आद्यौगिक क्षेत्र के समीप स्थित हैण्डपम्प के मरम्मत पर जिलाधिकारी ने पेयजल निगम नये नलकूपों का प्रस्ताव तैयार करने एवं जल संस्थान को भूखण्ड संख्या एफ-42 यू.पी.एस.आई.डी.सी क्षेत्र स्थित नलकूपं को मरम्मत करने के निर्देश दिये। राष्ट्रीय राजमार्ग प्रेमनगर से सेलाकुई औद्यौगिक क्षेत्र चकराता रोड पर अनियंित्रत तरीके से बनाये गये स्पीड ब्रेकर को हटाने की मांग पर जिलाधिकारी ने नेशनल हाइवे को मानकों के अनुरूप स्पीडब्रेकर ठीक करने के लिए उनकी ओर से पत्र लिखने के निर्देश महाप्रबन्धक उद्योग को दिये। स्पीडब्रेकरों पर साईनेज लगाने का भी पत्र में उल्लेख करने को कहा। बैठक में राजकीय आद्यौगिक आस्थान/मिनी औद्यौगिक आस्थान के भूमि/शेडों के दरों का पुर्ननिर्धारण के सम्बन्ध में 20 प्रतिशत् तक की धनराशि बढाने का निर्णय लिया गया।
बैठक में उद्योग मित्रों द्वारा पटेल नगर दूर संचार विभाग से आद्यौगिक आस्थान तक किये गये अतिक्रमण को हटाने की मांग की गयी। जिस पर जिलाधिकारी ने नगर निगम को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी को यह भी अवगत कराया गया कि औद्योगिक क्षेत्र पटेल नगर में स्थित भूखण्ड/शेड संख्या ई-1 9.12.1982 को मय टैक्नौकाम के नाम फ्यूल फिल्टर उत्पादन हेतु आंवटित किया गया था किन्तु ईकाई साझेदारों द्वारा आज तक ईकाई स्थापित न करने के कारण आंवटन निरस्त करने की मांग की गयी। जिस पर जिलाधिकारी ने औद्यौगिक आस्थानों का सम्बन्धित एस.डी.एम के साथ सर्वे कर आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिये ।
बैठक में सेलाकुई में 220 केवीए सबस्टेशन की स्थापना के सम्बन्ध में पूर्व में की गयी संयुक्त जांच रिपोर्ट व एस.डी.एम की रिपोर्ट के साथ उनके समक्ष रखने के निर्देश दिये तथा पिटकुल तथा नगर निगम की भूमि के आपस में स्थानान्तरण की कार्रवाई शीघ्र पूरा कराकर सब स्टेशन निर्माण कार्य शीघ्र शुरू कराने का सदस्यों को आश्वासन दिया।
बैठक में जिलाधिकारी को जनपद में नये औधौगिक क्षेत्रों को चिन्हित किये जाने के सम्बन्ध में जिलाधिकारी द्वारा पूर्व बैठक में दिये गये निर्देशों के क्रम में महाप्रबन्धक उद्योग डी.सी जुयाल द्वारा अवगत कराया गया कि दूनघाटी महायोजना 2031 में सम्मिलित करने हेतु साडा संयुक्त नियोजक गढवाल सम्भागीय नियोजन खण्ड, नगर एवं ग्राम नियोजन विभाग उत्तराखण्ड एवं अध्यक्ष आईआईए के साथ बैठक कर साडा और नियोजन विभाग द्वारा निरीक्षण कर भूमि केा उक्त प्लान में सम्मिलित करने के लिए जन सुनवाई हेतु रखा गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने महाप्रबन्धक उद्योग को सचिव साडा से समन्वय स्थापित कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर इण्डियन इण्डस्ट्री एसोशिएसन के अध्यक्ष पंकज गुप्ता, अध्यक्ष पर्वतीय इण्डस्ट्री ऐसोशिएसन के उपाध्यक्ष राजीव बेरी, महासचिव इण्डस्ट्री ऐसोशिएसन अनिल मारवा, उत्तराखण्ड इण्डस्ट्री वेलफेयर के अध्यक्ष महेश शर्मा, महाप्रबन्धक उद्योग डी.सी जुयाल, पुलिस उपाधिक्षक रामेश्वर डिमरी, चीफ फायर आफिसर सुरेन्द्र शर्मा सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

उत्तरायणी मेले के अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टाॅलो का अवलोकन करते हुएः सीएम

हिमगिरी ज़ी विश्वविद्यालय मैं हुआ फ्रेशर्स का आयोजन

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक करते हुएः विभागीय मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी

Leave a Comment