महाराष्ट्र और हरियाणा में मतदान आज, भाजपा को फिर सरकार बनाने तो कांग्रेस को वापसी की उम्मीद – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » देश-विदेश » महाराष्ट्र और हरियाणा में मतदान आज, भाजपा को फिर सरकार बनाने तो कांग्रेस को वापसी की उम्मीद

महाराष्ट्र और हरियाणा में मतदान आज, भाजपा को फिर सरकार बनाने तो कांग्रेस को वापसी की उम्मीद

हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को चुनाव प्रचार थम गया। दोनों राज्यों में 21 अक्तूबर (कल) को मतदान होगा जबकि 24 अक्तूबर को मतगणना होगी। महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 जबकि हरियाणा में 90 सीटे हैं। मतदान के लिए सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं और सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखने के पूरे इंतजाम किए गए हैं। हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा के लिए 21 अक्तूबर को सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक मतदान होगा। पिछले चुनाव में महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना गठबंधन की सरकार है, वहीं हरियाणा में भाजपा ने बहुमत के साथ सरकार बनाई थी। दोनों राज्यों में भाजपा फिर से सत्ता में आने की कोशिश में है। जबकि, कांग्रेस दोबारा अपनी जमीन तलाशने की कोशिश कर रही है।

महाराष्ट्र विधानसभा

महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं। इस बार भी मुख्य मुकाबला भाजपा-शिवसेना गठबंधन और कांग्रेस-एनसीपी के बीच है। चुनाव प्रचार के दौरान इन दलों ने एक दूसरे पर हमले का कोई मौका नहीं छोड़ा। चुनाव प्रचार में भाजपा ने बाकी दलों को पीछे छोड़ दिया। भाजपा का तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, नितिन गडकरी समेत कई दिग्गज नेता जुटे।

भाजपा ने वीर सावरकर को भारत रत्न देने का मुद्दा उछाला जिस पर सियासत गर्म रही। विपक्षी दलों ने इसे लेकर भाजपा को घेरा वहीं भाजपा ने हर रैली में सावरकर को भारत रत्न देने की मांग दोहराई। चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा ने पाकिस्तान और कश्मीर का मुद्दा भी जोर शोर से उठाया जिसके आगे कांग्रेस-एनसीपी कमजोर नजर आई।

हरियाणा विधानसभा

वहीं हरियाणा में इस बार मुकाबला एकतरफा नजर आ रहा है। भाजपा के मुकाबले कांग्रेस, जजपा, हजकां कमजोर नजर आ रहे हैं। यहां चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह समेत तमाम बड़े दिग्गज नजर आए। सांसद सनी देओल और हेमा मालिनी ने भी रोड शो किए।

कांग्रेस के लिए राहुल गांधी ने जोर लगाया और कई रैलियों को संबोधित किया। उनका मुख्य फोकस आर्थिक मंदी पर रहा और उन्होंने मोदी सरकार पर तीखे सवाल दागे। कांग्रेस में फूट के चलते वह कमजोर नजर आ रही है। मतदान के मद्देनजर यहां 75 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा। Source अमर उजाला

About admin