उपराष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में एक माह का वेतन दान किया

Image default
देश-विदेश

नई दिल्ली: भारत के उपराष्ट्रपति एवं राज्यसभा के सभापति श्री एम. वेंकैया नायडू ने देश में ‘कोविड-19’ के बढ़ते प्रकोप से निपटने हेतु सरकार द्वारा किए जा रहे अथक प्रयासों को मजबूती प्रदान करने के लिए आज प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) में एक माह के वेतन के बराबर धनराशि का योगदान दिया।

   प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में उपराष्ट्रपति ने ‘कोविड -19’ को अत्यंत गंभीर आपदा बताया है जिस वजह से दुनिया भर में बड़ी संख्‍या में लोगों की मौत हो चुकी है।

    उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्व में भारत बिल्‍कुल उचित समय पर अभूतपूर्व उपाय करके इस महामारी से लड़ रहा है। श्री नायडू ने कहा कि यह इस अभिप्राय में मेरा छोटा-सा योगदान है।

Related posts

एनटीपीसी ने अपने सभी विद्युत केन्द्रों में सतर्कता जागरूकता सप्ताह की शुरूआत की

सरकार उद्योग जगत की ‘ऋण पुनर्निर्धारण’ मांग पर आरबीआई के साथ मिलकर काम कर रही है: वित्त मंत्री

प्रेमिका से शादी करने के लिए लड़की के पिता के कहने पर मौत को लगाया गले, जानिए पूरी कहानी