उत्थान करें, कठिन परिश्रम करें, पहचान बनाएं और जो चाहे वह हासिल करें: डॉ महेंद्र नाथ पांडे

Image default
देश-विदेश

कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडे ने आज नई दिल्ली में एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित एक समारोह का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने देश भर की महिला उद्यमियों को कौशल विकास में उनके द्वारा दिए गए योगदान, नौकरी की चाह रखने वाली महिलाओं से नौकरी देने वाली महिला उद्यमी बनकर अपने क्षेत्र में सफलता के नए प्रतिमान बनाने के लिए सम्मानित किया। डॉ. पांडे ने पूरे भारत में महिला उद्यमियों के ईमानदार और अथक प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने प्रतिकूल परिस्थितियों को अवसर में बदला है।

समारोह में डॉ महेंद्र नाथ पांडे ने उल्लेखनीय काम करने वाली महिला उद्यमियों को प्रशंसा पत्र दिया। इस अवसर पर, मंत्री ने सभी महिला पुरस्कार विजेताओं को बधाई दी और कहा कि एक स्वतंत्र महिला समाज में सकारात्मक बदलाव ला सकती है और उसे आगे ले जा सकती है। उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने आगे कहा कि कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय, महिला और बाल विकास मंत्रालय के सहयोग से, 10,000 दिव्यांग महिलाओं को आत्म निर्भर और नौकरी देने वाली उद्यमी बनाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान करेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार सभी जन कल्याणकारी योजनाओं के केंद्र में महिलाओं को रख रही है, जिससे वह सक्षम और सशक्त बन सके । उन्होंने कहा, “भारत सरकार के सभी मंत्रालय विभिन्न योजनाओं के माध्यम से देश की महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए काम कर रहे हैं।” उन्होंने कहा कि यह प्रयास लंबा रास्ता तय करेगा और आत्मनिर्भर भारत को हकीकत में बदलेगा।

इस अवसर पर, कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय के सचिव श्री प्रवीण कुमार ने कहा कि “महिला उद्यमी न केवल स्वतंत्र बन गई हैं, बल्कि उन्होंने लिंग के कारण आने वाली बाधाओं को भी तोड़ दिया है”। उन्होंने कहा कि “प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत सफल प्रशिक्षुओं में से 20 प्रतिशत उद्यमी बन गए हैं”।

इस अवसर पर, देश के विभिन्न हिस्सों से कई महिला उद्यमियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अपनी व्यक्तिगत सफलताओं को साझा किया और विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से उनके जीवन को बदलने के लिए कौशल विकास मंत्रालय को धन्यवाद दिया। अंत में मंत्री ने समारोह में उपस्थित सभी महिलाओं को बधाई दी और उन्हें खुद का उत्थान करने, कड़ी मेहनत करने, अपनी पहचान बनाने और जो वो चाहती हैं उसे हासिल करने के लिए प्रेरित किया।

Related posts

उच्चतम न्यायालय का महत्वपूर्ण फैसला….राम मंदिर फैसले संबंधी सभी पुनर्विचार याचिकाएं खारिज

बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट

भारत सरकार की प्रमुख योजनाओं पर चर्चा के लिए केंद्रीय शहरी विकास मंत्री श्री एम वेंकैया नायडू ने पंजाब के मुख्यमंत्री श्री अमरिंदर सिंह से मुलाकात की