डाक विभाग और इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की समन्वय समिति की लखनऊ में हुई बैठक, डाक निदेशक केके यादव ने की अध्यक्षता – Online Latest News Hindi News , Bollywood News
Breaking News
Home » उत्तर प्रदेश » डाक विभाग और इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की समन्वय समिति की लखनऊ में हुई बैठक, डाक निदेशक केके यादव ने की अध्यक्षता

डाक विभाग और इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की समन्वय समिति की लखनऊ में हुई बैठक, डाक निदेशक केके यादव ने की अध्यक्षता

इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने अपने शुभारम्भ के 9 माह के भीतर ही लोगों में गहरी पैठ बनाई है। संपूर्ण भारत में अब तक 70 लाख से अधिक खाते खोले जा चुके हैं जिसमें उत्तर प्रदेश परिमंडल का योगदान लगभग 13 लाख है। अकेले लखनऊ परिक्षेत्र में ढाई लाख से ज्यादा खाते खोले जा चुके हैं।  सिर्फ डाकघरों के काउंटर से ही नहीं बल्कि डिजिटल पेमेंट के साथ-साथ डोर स्टेप बैंकिंग के रूप  में भी इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने वित्तीय समावेशन को बढ़ावा दिया है। उक्त उद्गार डाक विभाग और इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की समन्वय समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ  श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहीं। इसमें लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के अधीन सभी सात मंडलों के मण्डलाधीक्षक और आईपीपीबी के सर्किल मैनेजर अविनाश कुमार सिन्हा सहित सभी मैनेजर्स शामिल हुए। लखनऊ ब्रांच की सीनियर मैनेजर स्मृति श्रीवास्तव ने पॉवर प्वाइंट प्रजेंटेशन द्वारा आईपीपीबी की अभी तक की प्रगति के बारे में जानकारी दी। बैठक में  ग्रामीण डाक सेवकों को प्रोत्साहित करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित  “कौन बनेगा बाहुबली” प्रतियोगिता की भी समीक्षा की गई। इसमें उत्तर प्रदेश परिमंडल ने 913 बाहुबली बनाकर संपूर्ण भारत में तृतीय स्थान प्राप्त किया है। लखनऊ परिक्षेत्र में कुल 114 बाहुबली बने।

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि, डाकघरों के खाते जहाँ बचत में मददगार हैं, वहीं इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक का खाता निचले स्तर तक लोगों को डिजिटल व कैशलेस आधार पर नित्य-प्रतिदिन के खर्च को सुगम बना रहा है। इन दोनों खातों को आपसे में लिंक करके ज्यादा लाभ उठाया जा सकता है। इस वित्तीय वर्ष में उत्तर प्रदेश में 1.15  लाख  से अधिक खाते खोले जा चुके हैं जिनमें  से 35 हज़ार से अधिक  खातों को डाक घर बचत खातों  से जोड़ा  गया है। समन्वय बैठक में सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में उन सरकारी योजनाओं के डीबीटी लाभार्थियों को जो बैंक न होने अथवा दूर होने के कारण  बैंकिंग सेवाओं से वंचित हैं, को इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के माध्यम से बैंकिंग से जोड़ने की प्रगति पर चर्चा की गयी।  इनमें प्रमुख रूप से समाज कल्याण, कृषि, शिक्षा एवं चिकित्सा विभागों की योजनाएं प्रमुख रूप से शामिल हैं। इस सम्बन्ध में डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने सभी को निर्देशित किया कि उक्त समस्त योजनाओं के लाभार्थियों से सीधा संपर्क कर उनको सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराया जाए, ताकि जिससे वे समस्त लाभ सुलभता से अपने गांव में ही प्राप्त कर सकें। इसके लिए सभी ग्रामीण डाक सेवकों को रिफ्रेशर ट्रेनिंग देकर अपडेट करने हेतु भी निर्देशित किया गया, जिससे ग्राहकों को अनवरत बैंकिंग सेवाएं मिलती रहें |

बैठक में लखनऊ मंडल के प्रवर डाकघर अधीक्षक शशि कुमार उत्तम, लखनऊ जीपीओ के चीफ पोस्टमास्टर आरएन यादव, सहायक निदेशक एपी अस्थाना, जेबी दुर्गापाल, एके अवस्थी, एचके यादव, सुनील सक्सेना, उमेश कुमार, प्रभाकर वर्मा, ललित रावत सहित सभी मंडलों के डाक अधीक्षक एवं इण्डिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक सभी शाखा प्रबंधक शामिल हुए।

About admin