अभी तक कोविड-19 वैक्सीन की 1.30 करोड़ से अधिक खुराक दी गई

Image default
देश-विदेश सेहत

देशभर में अभी तक कोविड-19 टीके की खुराक लेने वाले स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स की संख्या 1.30 करोड़ को पार कर चुकी है।

प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक आज शाम 6 बजे तक 2,77,303 सत्रों के जरिये कुल 1,30,67,047 टीके की खुराक दी गई।

इनमें 65,82,007 स्वास्थ्यकर्मी (75.5 प्रतिशत) शामिल हैं जिन्हें पहली खुराक दी गई है और 18,60,859 वो स्वाथ्यकर्मी (63.6 प्रतिशत) है जिन्हें वैक्सीन की दूसरी खुराक दी गई है। साथ 46,24,181 (45.1 प्रतिशत) फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहली खुराक दी गई है। देशभर में 16 जनवरी 2021 को कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई थी जबकि फ्रंटलाइन वर्कर्स को 2 फरवरी 2021 से वैक्सीन लग रही है।

स्वास्थ्यकर्मी (एचसीडब्ल्यू) फ्रंटलाइन वर्कर्स

(एफएलडब्ल्यू)

पहली खुराक दूसरी खुराक पहली खुराक
65,82,007 18,60,859 46,24,181

प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक देशभर में कोविड-19 टीकाककरण के 41वें दिन आज शाम बजे तक कुल 3,95,884 खुराक दी गई। 1,51,373 लाभार्थियों को वैक्सीन की पहली खुराक दी गई जबकि 2,44,511 स्वास्थ्यकर्मीयों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है। आज रात तक अंतिम रिपोर्ट तैयार कर ली जाएगी।

आज शाम बजे तक 12,988 सत्रों का आयोजन किया गया।

सभी राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में आज कोविड टीकाकरण किया गया।

क्रम संख्या राज्य/केंद्र शासित प्रदेश लाभार्थी
पहली खुराक दूसरी खुराक कुल खुराक
1 अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह 6,096 2,315 8,411
2 आंध्र प्रदेश 4,86,328 1,24,296 6,10,624
3 अरुणाचल प्रदेश 23,492 6,130 29,622
4 असम 1,82,496 18,148 2,00,644
5 बिहार 5,46,848 75,141 6,21,989
6 चंडीगढ़ 18,420 1,525 19,945
7 छत्तीसगढ़ 3,70,472 44,795 4,15,267
8 दादर और नगर हवेली 5,047 266 5,313
9 दमन और दीव 1,858 254 2,112
10 दिल्ली 3,50,882 29,457 3,80,339
11 गोवा 17,478 1,895 19,373
12 गुजरात 8,32,707 1,16,822 9,49,529
13 हरियाणा 2,20,287 66,931 2,87,218
14 हिमाचल प्रदेश 98,881 12,818 1,11,699
15 जम्मू और कश्मीर 2,30,494 13,391 2,43,885
16 झारखंड 2,74,740 18,034 2,92,774
17 कर्नाटक 5,93,966 1,90,412 7,84,378
18 केरल 4,29,026 78,717 5,07,743
19 लद्दाख 8,199 748 8,947
20 लक्षद्वीप 2,353 688 3,041
21 मध्य प्रदेश 6,48,183 1,10,451 7,58,634
22 महाराष्ट्र 9,93,343 1,15,712 11,09,055
23 मणिपुर 48,008 2,238 50,246
24 मेघालय 28,248 1,200 29,448
25 मिजोरम 20,787 4,744 25,531
26 नगालैंड 28,196 5,327 33,523
27 ओडिशा 4,52,863 1,41,042 5,93,905
28 पुडुचेरी 9,455 1,024 10,479
29 पंजाब 1,48,060 32,542 1,80,602
30 राजस्थान 7,83,722 1,47,570 9,31,292
31 सिक्किम 16,501 1,228 17,729
32 तमिलनाडु 3,75,111 49,334 4,24,445
33 तेलंगाना 2,84,058 1,14,020 3,98,078
34 त्रिपुरा 88,354 19,188 1,07,542
35 उत्तर प्रदेश 11,56,209 1,54,425 13,10,634
36 उत्तराखंड 1,39,169 11,833 1,51,002
37 पश्चिम बंगाल 8,16,495 1,07,100 9,23,595
38 अन्य 4,69,356 39,098 5,08,454
कुल 1,12,06,188 18,60,859 1,30,67,047

1 मार्च से देश में 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों और 45 साल से ज्यादा उम्र के लोग, जिन्हें कोई दूसरी बीमारी है, उनका कोविड-19 टीकाकरण शुरू होगा।

24 फरवरी 2021 को, केंद्र ने टीकाकरण की गति में सुधार पर ध्यान देने के साथ कोविड-19 टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा करने के लिए सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ बैठक की थी।

राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को मार्च 21 से कोविड-19 टीकाकरण सत्र का विस्तार करने के लिए सभी सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं के साथ सीजीएचएस और पीएम-जेएवाई के साथ पैनल में शामिल अस्पतालों तक विस्तारित करने की सलाह दी गई है।

चार राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों ने 75 प्रतिशत से अधिक पंजीकृत एचसीडब्ल्यू और एफएलडब्ल्यू को पहली खुराक के लिए टीकाकरण किया है। ये हैं – राजस्थान, लक्षद्वीप, मध्य प्रदेश और गुजरात।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001L9FY.jpg

आठ राज्यों ने पहली खुराक के लिए पंजीकृत स्वास्थ्यकर्मियों के 80 प्रतिशत से अधिक का टीकाकरण किया है। ये हैं – बिहार, ओडिशा, त्रिपुरा, झारखंड, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तराखंड, अंडमान और निकोबार दीप समूह।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002LMYA.jpg

दूसरी ओर, चार राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों ने पहली खुराक के लिए पंजीकृत स्वास्थ्यकर्मियों के 50 प्रतिशत से कम टीकाकरण की सूचना दी है। ये हैं – नागालैंड, पंजाब, चंडीगढ़ और पुदुचेरी।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003I4B4.jpg

छह राज्यों ने फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए पहली खुराक के 60 प्रतिशत से अधिक के टीकाकरण की कवरेज दर्ज की है। ये है – दादरा और नगर हवेली, त्रिपुरा, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0045D9P.jpg

दूसरी ओर, आठ राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों ने पहली खुराक के लिए पंजीकृत फ्रंटलाइन वर्कर्स के 25 प्रतिशत से कम के कवरेज की सूचना दी है। ये हैं – अरुणाचल प्रदेश, तमिलनाडु, अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह, मणिपुर, असम, मेघालय, केरल और पुदुचेरी।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image005J40Y.jpg

5 राज्य जिन्होंने सबसे अधिक टीकाकरण दर्ज किए हैं, वे हैं- यूपी, गुजरात, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र।

अब तक 51 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह कुल टीकाकरण का 0.0004 प्रतिशत है। आज की तारीख तक जिन 51 मामलों में लोगों अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा उनमें 26 को इलाज के बाद छुट्टी दी जा चुकी जबकि तेईस लोगों की मौत हुई है। वहीं दो व्यक्तियों का इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटों में, एम्स भुवनेश्वर में एक व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसकी हालत अब स्थिर है।

आज तक 45 मौतें दर्ज की गई हैं। यह कुल कोविड-19 टीकाकरण का 0.0004 प्रतिशत है। इन 45 में से 23 लोगों की अस्पताल में मौत हुई है जबकि 22 लोगों की अस्पताल के बाहर मौत हुई है।

आज तक गंभीर और गंभीर प्रतिकूल असर या मौत का कोई भी मामला टीकाकरण से जुड़ा हुआ नहीं है। पिछले 24 घंटों में एक नई मौत हुई हैं।

पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर के निवासी,  52 वर्षीय एक व्यक्ति की मृत्यु, 7 दिन बाद कार्डियोजेनिक शॉक के कारण एक्यूट किडनी इंजरी से हुई।

Related posts

विद्युत मंत्रालय ने उद्योगों को 38 लाख से ज्‍यादा ऊर्जा बचत प्रमाण पत्र जारी किये

“केजीएफ चैप्टर 2” के निर्माताओं ने आज संजय दत्त के जन्मदिन पर उनके किरदार ‘अधीरा’ से उठाया पर्दा!

सक्रिय मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या 3 लाख से भी ज्यादा