पंजाब: उच्च स्तरीय जांच कमेटी गठित, CM बोले- PM के लौटने का खेद

देश-विदेश

फिरोजपुर: पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिरोजपुर दौरे के दौरान हुई चूक की जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी में न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) मेहताब सिंह गिल, प्रमुख सचिव (गृह मामले) और न्यायमूर्ति अनुराग वर्मा शामिल होंगे।

राज्य सरकार ने कमेटी को निर्देश दिया है कि वो 3 दिनों के भीतर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करे। इसके अलावा सरकार ने एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को निलंबित कर दिया है।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा है कि, वे मामले की अच्छे से जांच कराएंगे। उन्होंने पंजाब सरकार की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कल कहा कि, प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने उन प्रदर्शनकारियों का बचाव किया है, जो पीएम के काफिले के बीच आ गए थे। कहा, “प्रधानमंत्री की ओर से अंतिम समय में रूट में जान-बूझकर बदलाव किया गया था। मैं शांतिपूर्वक विरोध-प्रदर्शन करने वालों पर लाठी-गोली नहीं चलवा सकता।”

पंजाब के फिरोजपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काफिला रोके जाने के बाद से बीजेपी लगातार पंजाब सरकार पर निशाना साध रही है। भाजपा ने इसे पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक करार देते हुए इसके लिए सीएम चन्नी को जिम्मेदार ठहराया है। भाजपा के इन आरोपों का जवाब देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा, “मुझे प्रधानमंत्री के वापस लौटने का खेद है। मैं बता रहा हूं वो हमारे भी प्रधानमंत्री हैं, मेरे मन में उनका पूरा सम्मान है। उनकी जान को कोई खतरा हुआ तो उनसे पहले अपना खून बहा दूंगा।” मुख्यमंत्री ने जोर देते हुए कहा कि, कल प्रधानमंत्री पर जानलेवा हमले जैसी कोई घटना नहीं हुई।’

इससे पहले कल मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा था कि, ‘प्रधानमंत्री मोदी के पंजाब दौरे की जोरों से तैयारियां की गईं। खुद मुझे भी प्रधानमंत्री को रिसीव करने जाना था, लेकिन जिन लोगों को मेरे साथ जाना था, वो कोरोना पॉजिटिव पाए गए, इसलिए मैं प्रधानमंत्री को रिसीव करने नहीं गया, क्योंकि मैं कोरोना पॉजिटिव पाए गए कुछ लोगों के संपर्क में आ गया था।”

डिस्क्लेमरः यह oneindia.com न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ श्रमजीवी जर्नलिस्ट टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

Related posts

डॉ. हर्ष वर्धन ने कोलिशन फॉर डिजास्टर रिसिलिएंट इंफ्रास्ट्रक्चर और यूएन ऑफिस फॉर डिजास्टर रिस्क रिडक्शन के कार्यक्रम को संबोधित किया

केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा, ’टिकाऊ’ स्टार्टअप के लिए उद्योग की हिस्सेदारी महत्वपूर्ण है

प्रधानमंत्री आज नौसेना पनडुब्‍बी आईएनएस कलवारी को राष्‍ट्र को समर्पित करेंगे