विकेट के पीछे चीते जैसी फुर्ती से कैसे स्टंप कर पाते हैं एमएस धोनी, मैच के बाद खुद किया खुलासा

खेल समाचार

चेन्नई सुपर किंग्स ने बुधवार को खेले गए मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स को 80 रनों से हरा दिया। चेन्नई की इस जीत में कप्तान एमएस धोनी ने शानदार योगदान दिया और बल्ले के अलावा ग्लव्स से भी शानदार प्रदर्शन किया। धोनी ने बैटिंग के दौरान पहले 20 गेंद पर 40 रन की पारी खेली और फिर दिल्ली की बल्लेबाजी के दौरान बेहद फुर्ती दिखाते हुए एक ही ओवर में क्रिस मॉरिस के बाद श्रेयस अय्यर को स्टम्प कर दिया। इसके अलावा धोनी ने इमरान ताहिर की गेंद पर अमित मिश्रा का कैच भी लिया।

मैच के बाद धोनी ने अपनी शानदार विकेटकीपिंग के बारे में खुलासा किया और बताया कि अच्छी विकेटकीपिंग के लिए टेनिस बॉल क्रिकेट को श्रेय दिया। धोनी ने मैच के बाद कहा कि उनकी विकेटकीपिंग में काफी हद तक निखार टेनिस बॉल क्रिकेट के कारण आया है।

हालांकि, उन्होंने विकेटकीपिंग को अपना करियर चुनने वाले युवाओं को चेताया भी। उन्होंने कहा कि युवाओं को उनका अनुसरण करने की कोशिश से पहले बेसिक्स जरूर सीखने चाहिए। धोनी ने कहा, ‘पहले आपको बेसिक्स सही करने की जरूरत है। फिर अगले स्तर की योग्यता हासिल करें। अगर आप ऐसे ही जारी रखते हैं तो आप बहुत सारी गलतियां कर सकते हैं। बुनियादों बातों को सीखना बहुत अहम है।’

एमएस धोनी ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच के 12वें ओवर में रवींद्र जडेजा की तीन गेंदों में दो स्टंपिंग की। 30 वर्षीय धोनी ने क्रिस मॉरिस को स्टंप करने में 0.12 सेकेंड, जबकि श्रेयस अय्यर की स्टंपिंग में 0.16 सेकेंड का समय लिया। धोनी को शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच खिताब दिया गया।

Related posts

यूपी के लिए वेटरन दिग्गज मनमोहन भार्गव ने सबको पछाड़ते हुए जीता स्वर्ण

बांग्लादेश के युवा बल्लेबाज़ सब्बीर रहमान ने कहा अगला विराट कोहली मैं

भारत के खिलाफ दोहरा शतक लगाने वाले पहले बांग्लादेशी बने रहीम